बच्चों के लिए स्ट्रॉबेरी – स्वास्थ्य लाभ और हानि

शिशुओं के लिए स्ट्रॉबेरी –  स्वास्थ्य लाभ और जोखिम

Last Updated On

बच्चों के लिए उनका पसंदीदा खाद्य पदार्थ ढूंढ़ पाना थोड़ा मुश्किल होता है और ये मुश्किलें तब और बढ़ जाती हैं जब वे अपने मन के हिसाब से खाद्य पदार्थों का चुनाव करते हैं। परंतु हर बार ऐसा नहीं होता है क्योंकि स्ट्रॉबेरी एक ऐसा फल है जो अत्यधिक स्वादिष्ट तो होता ही है साथ ही बच्चे भी इस फल को खाना पसंद करते हैं।लेकिन अक्सर मांओं का सवाल होता है कि क्या स्ट्रॉबेरी बच्चों को देना चाहिए या नहीं? क्या स्ट्रॉबेरी बच्चों के लिए सुरक्षित और स्वास्थ्यप्रद है? अपने मन के सभी सवालों को दूर करने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

क्या बच्चों को स्ट्रॉबेरी दी जा सकती है?

भले ही स्ट्रॉबेरी दुनिया के सबसे लोकप्रिय फलों में से एक है, फिर भी इसे बच्चों को खिलाने से पहले सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है क्योंकि स्ट्रॉबेरी से कुछ बच्चों को एलर्जी हो सकती है। इसलिए, जब तक आपका बच्चा 1 वर्ष का न हो जाए, तब तक उसे स्ट्रॉबेरी देने की सलाह नहीं दी जाती है। बच्चों को स्ट्रॉबेरी देने से पहले इस बात पर भी ध्यान दें कि परिवार में किसी को भी इस फल से एलर्जी न हो।

बच्चे स्ट्रॉबेरी कब खा सकते हैं

किस उम्र में बच्चे स्ट्रॉबेरी खा सकते हैं, इसका निर्णय एलर्जी के खतरों पर निर्भर करता है। बच्चों को इस प्रकार की एलर्जी से बचाव के लिए उन्हें 1 वर्ष की आयु के बाद से ही स्ट्रॉबेरी देना शुरू करें। इस बात पर विभिन्न स्वास्थ्य संगठन की भी सहमति है कि स्ट्रॉबेरी से बच्चों को एलर्जी का खतरा हो सकता है इसलिए उन्हें यह फल एक आयु के बाद ही देना सुनिश्चित करें।

स्ट्रॉबेरी के पाए गए पोषक तत्व

पोषक तत्व  पोषण मान प्रति 100 ग्राम 
पानी 90.95 ग्राम
प्रोटीन 0.67 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 7.68 ग्राम
फाइबर 2 ग्राम
चीनी 4.89 ग्राम
विटामिन ‘ए’ 0.036 मिलीग्राम
विटामिन ‘बी6’ 0.047 मिलीग्राम
विटामिन ‘सी’ 58.8 मिलीग्राम
विटामिन ‘के’ 2.2 माइक्रोग्राम
विटामिन ‘ई’ 0.29 मिलीग्राम
कैल्शियम 28  मिलीग्राम
फास्फोरस 27  मिलीग्राम
पोटैशियम 220 मिलीग्राम
मैगनीशियम 13 मिलीग्राम
फोलेट 24  माइक्रोग्राम

 

ऊपर दिए हुए पोषण मान से पता चलता है कि स्ट्रॉबेरी सिर्फ स्वादिष्ट ही नहीं होती है बल्कि पोषण का एक सर्वोत्तम स्रोत भी है। यह फल विटामिन और पोषक तत्वों से परिपूर्ण है जो इसे अत्यधिक स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक बनाते हैं। यदि आपके बच्चे को स्ट्रॉबेरी से किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं है तो यह फल उसके लिए एक स्वादिष्ट व पोषण से भरपूर विकल्प है।

स्ट्रॉबेरी के पोषण तत्व

बच्चों के लिए स्ट्रॉबेरी के स्वास्थ्य लाभ

एक अच्छे माता-पिता के रूप में, हम हमेशा अपने बच्चे को सर्वश्रेष्ठ देना चाहते हैं, विशेषकर तब जब वे बहुत छोटे होते हैं। स्ट्रॉबेरी आपके बच्चों के लिए सबसे अच्छे विकल्पों में से एक है, जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं।

  • विटामिन ‘सी’ से परिपूर्ण है: विटामिन ‘सी’ को हमारा शरीर इसे अपने आप संसाधित नहीं कर सकता है इसलिए इसे बाहरी स्रोतों से प्राप्त करना ही बेहतर विकल्प होता है। स्ट्रॉबेरी विटामिन ‘सी’ का एक अच्छा स्रोत है जो प्रतिरक्षा बढ़ाने और आँखों की बीमारियों को खत्म करने में मदद करता है।
  • कैल्शियम और फॉस्फोरस का अच्छा स्रोत है: बच्चों में हड्डियों के विकास के लिए कैल्शियम महत्वपूर्ण है। यह हृदय, मांसपेशियों और तंत्रिकाओं के कार्य में भी मदद करता है। फॉस्फोरस के गुण पाचन में सुधार करने में मदद करते हैं, कोशिकाओं को ठीक करते हैं, प्रोटीन को संसाधित करने में सक्षम होते हैं और आपके शरीर में होने वाली रासायनिक प्रतिक्रियाओं को नियंत्रित करते हैं।
  • यकृत की रक्षा करता है: स्ट्रॉबेरी एन्टीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है जो ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर सकती है और लीवर में होने वाले नुकसान को रोकती है।
  • फॉलिक एसिड का अच्छा स्रोत है: बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए फॉलिक एसिड या फॉलेट अनिवार्य है। यह शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में भी सहायक होता है। स्ट्रॉबेरी में  फॉलिक एसिड भरपूर मात्रा में पाई जाती है इसलिए यह बच्चों के लिए अत्यधिक फायदेमंद है।

क्या आपके बच्चे को स्ट्रॉबेरी देने में कोई खतरा है?

सरल और स्पष्ट शब्दों में – हाँ – एक बच्चे को स्ट्रॉबेरी खिलाते समय कुछ खतरे भी हो सकते हैं जिन पर विचार करने की आवश्यकता है, वे सावधानियां इस प्रकार हैं:

  1. गले में अटक सकता है या गला चोक हो सकता है: स्ट्रॉबेरी की सतह कोमल व इसका स्वाद अत्यधिक स्वादिष्ट होता है। इसलिए अक्सर बच्चे बिना चबाए इसे खाने का प्रयास करते हैं, जिस कारण से यह फल उनके गले में भी अटक सकता है। इसलिए बच्चों को स्ट्रॉबेरी देते वक्त इस बात का खयाल रखें कि उसे टुकड़ों में दें और वो उन्हें चबाकर खाएं या आप उन्हें यह फल मसल कर या प्यूरी बनाकर भी दे सकती हैं।
  2. एलर्जी: आपके बच्चे को स्ट्रॉबेरी से एलर्जी हो सकती है और बच्चे को स्ट्रॉबेरी खिलाने से पहले आपको एलर्जी होने की संभावना पर विचार करना पड़ सकता है। कुछ परिवारों में पहले से ही भोजन से एलर्जी या अस्थमा होता है, ऐसे मामलों में बच्चे को स्ट्रॉबेरी देने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें । शिशुओं में स्ट्रॉबेरी से एलर्जी के लक्षण चेहरे, जीभ या गले में सूजन हो सकते हैं। स्ट्रॉबेरी के संपर्क में आने से भी कभी-कभी बच्चे की त्वचा में चकत्ते आ सकते हैं जिनका समय पर व सावधानी से इलाज करना अनिवार्य है।

बच्चों को स्ट्रॉबेरी देने के तरीके

बच्चों को स्ट्रॉबेरी कब देना चाहिए, यह जानने के बाद आप यह भी जानना चाहेंगी कि उन्हें स्ट्रॉबेरी किस प्रकार खिलाएं। बच्चों को स्ट्रॉबेरी खिलाने के लिए आप नीचे दिए गए तरीकों का पालन कर सकती हैं:

  • बच्चों को स्ट्रॉबेरी देने का सही समय के कुछ संकेतों पर ध्यान दें: अपने बच्चे को स्ट्रॉबेरी देने से पहले विशिष्ट संकेतों की पुष्टि करें। कुछ ऐसे संकेत हैं जो आपको समझने में मदद करेंगे कि आपका बच्चा स्ट्रॉबेरी खाने के लिए तैयार है या नहीं, जैसे सिर पर नियंत्रण कर पाना, सहारे से बैठने की क्षमता होना, चबाने की क्षमता होना, वजन का बढ़ना, माँ क्या खा रही है बच्चे को इस बारे में उत्सुकता होना।
  • छोटे-छोटे टुकड़ों में दें: बच्चों को खिलाने से पहले स्ट्रॉबेरी को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें, इससे यह फल उसके गले में नहीं फसेगा।

शिशुओं को स्ट्रॉबेरी देने के तरीके

  • स्ट्रॉबेरी की प्यूरी: बच्चों को साबुत फल देने के बजाय प्यूरी के रूप में दें। आप उसे ओट्स व दूध के साथ या पुडिंग, जो भी पसंद है उसमें स्ट्रॉबेरी डालकर दे सकती हैं। यह शिशुओं को स्ट्रॉबेरी देने का सही नुस्खा हो सकता है।
  • तीन दिन इंतजार करें: बच्चे को फल खिलाना शुरू करने के लगभग तीन दिन बाद तक इंतजार करने से यह अंदाजा लगाने में मदद मिलती है कि उसे इस फल से एलर्जी हो रही है या नहीं। अपने बच्चे को नए खाद्य पदार्थ देने से पहले लगभग 3 दिन का अंतराल लें।

बच्चों को एक बार में आप कितनी स्ट्रॉबेरी दे सकती हैं

बच्चों की आयु के हिसाब से उन्हें शुरुआत में एक चौथाई स्ट्रॉबेरी दें या अधिक से अधिक एक से अधिक स्ट्रॉबेरी दें, छोटे बच्चों को इससे ज्यादा स्ट्रॉबेरी खिलाने की सलाह नहीं दी जाती है। इस बात का ध्यान रखें कि आपके बच्चे के आहार में सभी प्रकार के पौष्टिक खाद्य पदार्थ शामिल हों। बच्चों को सभी पोषण तत्वों को देने के लिए सिर्फ एक फल काफी नहीं है, उन्हें विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य आहार के माध्यम से अलग-अलग पोषण प्रदान करें।

यदि आपके बच्चे के डायपर में स्ट्रॉबेरी के बीज मिलते हैं तो क्या करें

यदि आपके बच्चे के डायपर में स्ट्रॉबेरी के बीज मिलते हैं, तो यह उसके पाचन तन्त्र में समस्या होने का एक संकेत है। इससे चिंतित न हों, यह किसी भी प्रकार की गंभीर समस्या का संकेत नहीं है।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि स्ट्रॉबेरी स्वादिष्ट और फायदेमंद होती है, लेकिन इसे अपने बच्चे को देने से पहले सभी तथ्यों को ध्यान में रखें।