मिनी पिल (प्रोजेस्टिन ओनली गोली या प्रोजेस्टेरोन ओनली गोली)

Birth control pills

In this Article

Last Updated On

शुक्राणु डिंब से मिलने के लिए बहुत मुश्किलों से गुजरता है। एक बार जब उनका संयोजन हो जाता है, तो डिंब निषेचित होता है और फिर होती है, गर्भावस्था। मिनी पिल गर्भधारण और गर्भावस्था को रोकने के लिए बनाई जाती हैं, इसलिए ये उन महिलाओं द्वारा बेहद पसंद की जाती हैं, जो संभोग के बाद गर्भवती होने से बचना चाहती हैं।

मिनी पिल क्या हैं?

मिनी पिल गर्भ निरोधक गोलियां होती हैं, जिन्हें पानी के साथ निगलकर खाया जाता है और इनमें प्रोजेस्टिन हॉर्मोन होता है। इन गोलियों में दूसरे मिश्रित गर्भ निरोधक गोलियों की तुलना में बहुत कम प्रोजेस्टिन होता है। ये मिनी पिल गर्भाशय ग्रीवा के श्लेम को गाढ़ा करती हैं और गर्भाशय की परत को पतला करती हैं, जिससे शुक्राणु डिंब तक नहीं पहुँच पाते। महिलाओं को प्रतिदिन एक गोली की खुराक लेने की सलाह दी जाती है।

प्रोजेस्टिन ओनली गोलियां कौन ले सकता है?

स्तनपान कराने वाली माताएं प्रोजेस्टिन ओनली गोलियां ले सकती हैं। युवा महिलाएं और 35 वर्ष से अधिक आयु की महिलाएं जो गर्भवती नहीं हैं, उन्हें भी यह गोलियां लेने की अनुमति है। ये गोलियां उन माताओं के लिए सबसे अच्छा काम करती हैं जो छह महीने से स्तनपान करा रही हैं।

इन गोलियों को कौन नहीं ले सकता?

यदि आपके कार्य की समयसारणी अनियमित है, आप मतली या उल्टी का अनुभव करती हैं, यदि आपके शरीर का वजन 70 किलोग्राम से ऊपर है तब आप यह गोलियां नहीं ले सकती । योनि रक्तस्राव, पुराना यकृत रोग, उच्च रक्तचाप और अन्य पुराने / अलिंद संबंधी रोगों के इतिहास वाली स्त्रियों को इन गोलियों को नहीं लेने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा, अगर आपको इन गोलियों को लेते समय पेट में दर्द, योनि से रक्तस्राव या मतली का अनुभव होता है, तो उन्हें लेना तुरंत बंद कर दें और चिकित्सक से परामर्श करें।

स्तन कैंसर के रोगियों को इन गोलियां को लेने से बचना चाहिए और साथ ही इन गोलियों को लेने से अन्य जटिलताएं भी उत्पन्न हो सकती हैं।

प्रोजेस्टिन ओनली गोली लेने के फायदे

केवलप्रोजेस्टेरोन गोलियों को लेने के ये फायदे हैं:

  • ये गोलियां 35 से ज़्यादा उम्र की महिलाओं द्वारा ली जा सकती हैं
  • मिश्रित गर्भनिरोधक गोलियों या ऐस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन गोलियों के मुकाबले इनके कम दुष्प्रभाव हैं
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी ये गोलियां अनुकूल हैं क्योंकि ये स्तन के दूध के उत्पादन को कम नहीं करती हैं
  • इन गोलियों को लेने से रक्तचाप का स्तर नहीं बढ़ता है
  • मिनीगोलियां मासिक धर्म से पूर्व होने वाले तनाव को भी कम करती हैं

प्रोजेस्टिन ओनली गोली का उपयोग करने के नुकसान

इन गोलियों को लेने से होने वाले नुकसान निम्नलिखित हैं:

  • मतली अर्थात जी मचलना, अवसाद और यौनरुचि कम होना, इन दवाओं को लेने के सामान्य दुष्प्रभाव हैं
  • ये गोलियां अस्थानिक गर्भावस्था को नहीं रोकतीं
  • इन गोलियों को लेना उन महिलाओं के लिए शायद प्रभावी नहीं हो जिनका वजन 70 किलोग्राम से अधिक है
  • ये गोलियां गर्भधारण को रोकने के लिए तब भी अप्रभावी होती हैं यदि इन्हें हर दिन एक ही समय पर नहीं लिया जाए
  • इन गोलियों के कुछ दुष्प्रभाव होते हैं, जैसे कि मासिक धर्म न होना या समयपूर्व रक्तस्राव जो कुछ दिनों तक रहता है

प्रोजेस्टिन ओनली गोलियां कैसे काम करती हैं?

इन गोलियों में प्रोजेस्टिन हार्मोन अंडाशय द्वारा डिंब को निकाले जाने से रोकता है और निषेचन की संभावना को खत्म करने के लिए गर्भाशय ग्रीवा के श्लेम को गाढ़ा करता है। ये गोलियां गर्भाशय की परत को भी पतला करती हैं जो शुक्राणु को अंडे तक पहुंचने से रोकता है।

प्रोजेस्टिन गोलियों की प्रभावकारिता

प्रोजेस्टिन ओनली पिल्स (पी..पी.) में केवल प्रोजेस्टेरोन हार्मोन होता है और एस्ट्रोजन नहीं, जो उन्हें मिश्रित गर्भ निरोधक गोलियों की तुलना में कम प्रभावी बनाता है। चूंकि ये गोलियां स्तनपान कराने वाली महिलाओं को ध्यान में रखकर बनाई गई हैं, इसलिए वे जन्म के बाद स्तनपान चरण में बच्चे को प्रभावित नहीं करती हैं। प्रोजेस्टिन की गोलियों की प्रभावकारिता इस प्रकार है कि 100 में से 2 से 9 महिलाएं ही गर्भधारण करती हैं। गर्भधारण को रोकने के लिए इसकी सफलता दर प्रति वर्ष87% से 99.7% के बीच है(इसका कारण यह है कि अधिकांश महिलाएं इन्हें निर्देशानुसार रोजाना नहीं लेती हैं)

निर्देशों के अनुसार इन गोलियों को प्रतिदिन और समय पर लेने से सफलता दर 100% है।

मिनी पिल के जोखिम और दुष्प्रभाव

केवलप्रोजेस्टेरोन गोली के दुष्प्रभाव और जोखिम, गर्भावस्था के लक्षणों के समान होते हैं। वे इस प्रकार हैं:

  • मूड बदलना, मतली और अवसाद
  • दिल के दौरे, स्तन कैंसर, रक्त के थक्के और स्ट्रोक के जोखिम में थोड़ी वृद्धि का खतरा
  • स्तन में पीड़ा, मुँहासे, और सिरदर्द
  • असमान वजन बढ़ना
  • अप्रत्याशित मासिक धर्म का रक्तस्राव जो अनियमित हो सकता है
  • यदि दैनिक रूप से समय पर नहीं लिया जाता है तो बहुत प्रभावी नहीं है क्योंकि 9 में से 1 महिला हर साल इन गोलियों का उपयोग करके भी गर्भवती हो जाती है

प्रोजेस्टिन ओनली गोलियां कैसे लें?

पहले दिन संभोग शुरू करने से पहले इन गोलियों को लिया जाना चाहिए। आपके मासिक धर्म का पहला दिन इन गोलियों को लेना शुरू करने के लिए सबसे उपयुक्त है। गोली लेने से पहले, अपने डॉक्टर से अपने परिवार के इतिहास, पहले से मौजूद बीमारियों और आपके द्वारा ली जाने वाली किसी भी अन्य दवाओं के बारे में बात करें। यह उसे योजना बनाने में मदद करेगा कि आपको गोली किस समय लेनी चाहिए, इसे कैसे लेना है, और अधिकतम प्रभावकारिता के लिए कितनी खुराक लेनी चाहिए।

यदि आप इन गोलियों को लेना भूल जाते हैं या अपनी समयसारणी पर टिके नहीं रह पाते हैं तो उन दिनों के लिए वैकल्पिक तरीकों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

अगर मैं स्तनपान करा रही हूँ तो क्या मैं प्रोजेस्टिन ओनली गोली ले सकती हूँ?

यह एक सामान्य सवाल है जो ज्यादातर महिलाएं पूछती हैं। इसका सरल उत्तर है, हाँ। यदि आप स्तनपान करा रही हैं तो प्रोजेस्टिन ओनली गोली ली जा सकती है । इन गोलियों को लेने से शिशु को कोई नुकसान नहीं होगा।

अगर आप मिनी पिल लेना भूल जाती हैं तो क्या करें?

मिनी पिल्स को समय पर लेना आवश्यक है, और अगर आप इसे 2 से 3 घंटे देर से भी लें, तो भी यह प्रभावकारी रहेगी। पर, अगर समय का अन्तराल इससे अधिक हो जाता है, तो आप एक ही दिन में दो गोलियां ले सकती हैं लेकिन इन गोलियों को लेते समय कम से कम कुछ घंटों का अंतर होना चाहिए।

अगले दिन से, अपने सामान्य समय पर मिनी पिल लें और सही समय का ध्यान रखें। यदि आप उसी दिन अपनी मिनी गोली लेने से चूक जाती हैं, तो गर्भावस्था की संभावनाओं को कम करने के लिए संभोग के दौरान कंडोम का उपयोग करने जैसे बैकअप तरीके अपनाएं।

गर्भावस्था से बचाव का सबसे सही तरीका यही है कि यदि आप वांछित दिन गोली लेना भूल जाती हैं तो आप संभोग से परहेज करें या किसी दूसरे गर्भ निरोधक तरीके का इस्तेमाल करें। अगर आप इन गोलियों को लेना बंद कर देती हैं, तो आपको अगले 2 दिनों के लिए बैकअप तरीकों का उपयोग करना चाहिए क्योंकि कुछ दवाएं शरीर पर अपना प्रभाव छोड़ने में समय लेती हैं।

यदि आप गोली लेना भूल जाती हैं तो आपके गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि आप अपनी समयसारणी पर अडिग रहें।

मिनी पिल लेने के बाद उल्टी होने पर क्या करें?

अगर मिनी पिल लेने के दो घंटे के बाद उल्टी हो जाती है तो कोई बात नहीं। यदि आप उससे पहले उल्टी करती हैं, तो एक और गोली लें। पर, यदि आप लगातार उल्टी करती हैं या आपको एक दिन से अधिक दस्त जारी रहते हैं, तो अतिरिक्त निर्देशों के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

क्या ऐसी कोई दवाएं हैं जो प्रोजेस्टिन ओनली गोली को अप्रभावी बनाती हैं?

कुछ दवाएं और हर्बल अनुपूरक इन गोलियों के काम करने के तरीके को प्रभावित करते हैं। ये दवाएं केवलप्रोजेस्टेरोन गोलियों के साथ परस्पर क्रिया कर सकती हैं; इसलिए इन गोलियों को लेने से पहले अपने मौजूदा अनुपूरकों और दवाओं के बारे में अपने स्वास्थ्य सेवा कार्यकर्ता से बात करना सबसे अच्छा है।

जब आप पहली बार प्रोजेस्टिन ओनली गोली लेना शुरू करती हैं तो क्या आपको एक विकल्प का उपयोग करने की आवश्यकता है?

इसका उत्तर ‘हाँ’ होगा। खासकर यदि आप इसे समय पर नहीं लेती हैं, तो आपको एक बैकअप विधि की आवश्यकता होगी जब आप पहली बार प्रोजेस्टिन ओनली गोली लेना शुरू करती हैं। इन गोलियों के साथसाथ संभोग से पहले शुक्राणुनाशक के साथ कंडोम का उपयोग एक पसंदीदा विकल्प है।

ऐसे चिह्न और लक्षण जो मिनी पिल से होने वाली चिकित्सीय समस्याओं का संकेत देते हैं

मिनी पिल गर्भनिरोधक के ज्ञात चिह्न और लक्षण गर्भावस्था के समान हैं। ये गोलियां लेते समय आप कभीकभी मतली, उल्टी, दस्त, अवसाद और कम यौनरुचि का अनुभव कर सकती हैं। यदि आप ऐसी कोई भी दवा लेती हैं जो मिनी पिल के प्रभाव में हस्तक्षेप करती है, तो आपको अपने डॉक्टर से बात करने की आवश्यकता हो सकती है।

यद्यपि प्रोजेस्टिन ओनली गोलियां अनियोजित गर्भधारण को रोकने का सबसे विश्वसनीय तरीका नहीं हैं, वे निश्चित रूप से प्रभावी हैं, जब समय पर और नियमित रूप से ली जाती हैं। यदि आपको कोई मौजूदा चिकित्सीय समस्या या पुराना रोग है तो मिनी पिल लेने से पहले किसी भरोसेमंद चिकित्सक से परामर्श करें।