जैतून के तेल से बच्चों की मालिश के 7 फायदे

बच्चे की मालिश के लिए ऑलिव ऑइल उपयोग के 7 फायदे

Last Updated On

शिशुओं की मालिश करने के तमाम फायदों के बारे में हम हमेशा से ही सुनते आए हैं । मालिश आपके बच्चे की वृद्धि और विकास में मदद करती है। यद्यपि शिशुओं की मालिश एक दशकों पुरानी लोकप्रिय पद्धति है, लेकिन समय के साथ इसमें इस्तेमाल किए जाने तेल बदलते गए हैं । चूंकि यह धारणा है कि पारंपरिक प्राकृतिक तेल शिशु के लिए सबसे अच्छे होते हैं, इसलिए शिशु की मालिश के अनुरूप इन्हें और अधिक सौम्य बनाया जाता है। आप भी यही चाहती हैं कि आपके शिशु की त्वचा कोमल और नरम बनी रहे, त्वचा की समस्याओं से दूर रहे, और उसकी कोमल त्वचा की मालिश करने के लिए गलत तेल का उपयोग करने के कारण वह सर्दी-जुकाम का शिकार न हो, है न? इसीलिए अब हम आपको बताते हैं शिशु की मालिश हेतु ऑलिव ऑयल यानि जैतून के तेल के उपयोग के फायदे।

बच्चे की मालिश के लिए ऑलिव ऑयल के 7 फायदे

सबसे स्वास्थ्यप्रद और सबसे स्वादिष्ट तेलों में से एक होने के अतिरिक्त, जैतून का तेल त्वचा की देखभाल और सौंदर्य-संबंधी उद्देश्यों के लिए भी प्रयोग किया जाता है। यह आपके शिशु की मालिश के लिए एक अच्छा चुनाव है, हालांकि यह बेहद महत्वपूर्ण है कि आप अच्छी गुणवत्ता वाला ऑलिव ऑयल चुनें। फिगारो जैतून का तेल एक प्रसिद्ध ब्रांड है और भारतीय बाजार में अग्रणी है, जिस कारण यह उपलब्ध उत्पादों में सबसे विश्वसनीय विकल्प बनता है!

बच्चे की मालिश के लिए ऑलिव ऑयल के 7 फायदे

नोट: यदि आपके शिशु की त्वचा क्षतिग्रस्त हो गई है या उसे एक्जिमा की एलर्जी होती है, तो हो सकता है कि उसकी मालिश के लिए जैतून का तेल बेहतर विकल्प न हो। बच्चे की मालिश के लिए जैतून के तेल का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

1. हर मौसम में उपयोग

ऑलिव ऑयल का यह गुण निश्चित रूप इसके सबसे बड़े फायदों में से एक है। कुछ तेल ऐसे होते हैं जो विशेष रूप से गर्मियों या विशेष रूप से सर्दियों के मौसम में ही इस्तेमाल किए जा सकते हैं।  तेल की तासीर के अनुरूप मौसम में इसका उपयोग न करना आपके शिशु के स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। जैतून के तेल के साथ ऐसा नहीं होता है। आपको केवल शिशु की मालिश करने के लिए इसकी मात्रा के उपयोग का ध्यान रखना होगा। सर्दियों के महीनों में, जब त्वचा अधिक सूखने लगती है, उस दौरान तेल की प्रचुर मात्रा का उपयोग करें, लेकिन गर्मियों के दौरान इसकी थोड़ी ही मात्रा इस्तेमाल करें, क्योंकि जब त्वचा को कम नमी की आवश्यकता होती है तब जैतून का तेल उस पर बहुत भारी हो सकता है।

2. नमी प्रदायक गुण

ऑलिव ऑयल में नमी प्रदायक गुण होते हैं जो आपके छोटे से शिशु की नरम त्वचा को सुरक्षित रखेंगे, जिससे वह पहले से कहीं अधिक चिकनी, नरम, और चमकदार हो जाएगी! जैतून के तेल में स्क्वैलीन होता है जो एक हाइड्रेटिंग एजेंट है। यह आपके शिशु की त्वचा के भीतर प्रवेश करता है, जिससे यह बिल्कुल नरम हो जाती है।

3. क्रैडल कैप का उपचार

क्रैडल कैप, जो कि त्वचा की वह समस्या होती है जिसमें बच्चे की खोपड़ी पर शुष्क और पपड़ी जैसी परतें आ जाती हैं। यह आमतौर पर शिशु के लिए बहुत असुविधाजनक नहीं होता लेकिन देखने में अच्छा नहीं लगता है। जैतून का तेल क्रैडल कैप को ठीक करने में सहायक है। शिशु के सिर की इस तेल से मालिश करें और 10 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें। एक सौम्य शैम्पू के साथ तेल को धो दें और ढीले हुए टुकड़ों और पपड़ी को हटाने के लिए कंघी का उपयोग करें। ऑलिव ऑयल के 2-3 बार के उपयोग के बाद ही आप अनुकूल परिणाम देखेंगी!

क्रैडल कैप का उपचार

4. खांसी का उपचार

सर्दियां आने के साथ आपके शिशु को कष्ट देने वाला सर्दी-जुकाम और खांसी की समस्या भी आ सकती है। यूकेलिप्टस रेडियोटा तेल और एक अच्छे जैतून के तेल, जैसे फिगारो ऑलिव ऑयल की कुछ बूंदों के मिश्रण से अपने शिशु के छाती की मालिश करने से उसको खांसी और सांस की परेशानी से राहत मिल सकती है। अधिक राहत प्रदान करने के लिए आप इसे उसकी हथेलियों या उसके पैरों के तलवों पर भी रगड़ सकती हैं।

5. डायपर रैशेज का उपचार

डायपर से होने वाले रैशेज यानि त्वचा पर लाल चकत्ते एक और ऐसी समस्या है जो शिशु के लिए बहुत कष्टप्रद होती है और माँ को इससे निपटने में परेशानी हो सकती है । अपने शिशु की डायपर पहने जाने वाली जगह की जैतून के तेल से मालिश करके इन चकत्तों को होने से रोकें। आप रैशेज के इलाज के लिए दो चम्मच जैतून के तेल और गुनगुने पानी के मिश्रण का भी उपयोग कर सकती हैं।

6. नींद के लिए मददगार

जैतून के तेल में आराम पहुँचाने वाले गुण होते हैं जो आपके शिशु के शरीर को राहत प्रदान करके उसको सोने में मदद कर सकते हैं। जैतून के तेल की कुछ बूंदों से अपने शिशु के पैरों के तलवों को हल्के हाथों से रगड़ें और तब तक धीरे-धीरे उसकी मालिश करें जब तक वह सो न जाए।

नींद के लिए मददगार

7. बालों की सेहत के लिए अच्छा

जैतून का तेल आपके शिशु के बालों को मजबूत बनाता है और अगर वे रूखे व खुरदरे हैं, तो उन्हें नरम कर देता है। ये विटामिन ई का एक अच्छा स्रोत भी है, जो बच्चे बालों की बनावट को और अच्छा कर सकता है और इसे ठीक से नमी प्रदान करता है।

अपने शिशु की मालिश करते समय, आप यह सुनिश्चित करना चाहेंगी कि यह उसे सिर से पैर तक सही फायदा पहुँचाए! शिशु के लिए जैतून के तेल की मालिश सभी मौसमों में अच्छी होती है और उसकी त्वचा और बालों को पोषण देने के साथ कई लाभ प्रदान करती है। यह सुनिश्चित करें कि आप अच्छी गुणवत्ता वाला उत्पाद चुनें, जो अन्य माँओं द्वारा भी जांचा-परखा गया हो, जैसे कि फिगारो ऑलिव ऑयल। जैतून के तेल की नियमित मालिश से आप जल्द ही अपने शिशु की त्वचा को खूबसूरत होता देखेंगी!

यह भी पढ़ें:

शिशुओं के लिए नारियल तेल के 12 स्वास्थ्य लाभ
बच्चों के बाल बढ़ाने के 10 आसान उपाय