गर्भधारण करने के लिए कब और कितनी बार संभोग करना चाहिए?

GETTING PREGNANT

Last Updated On

यदि आप मातापिता बनने की योजना बना रहे हैं, तो संभवतः आपने शारीरिक और मानसिक रूप से इसके लिए तैयारी आरम्भ कर दी होगी। पहला कदम होगा उपयुक्त समय पर संभोग करना ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आपके गर्भधारण करने की सर्वाधिक संभावना हो। आंकड़ों से संकेत मिलता है कि एक औसत युगल को गर्भधारण करने से पहले कम से कम 78 बार संभोग करने की आवश्यकता होती है। यह लगभग छह महीने होते हैं।

क्या गर्भवती होने के लिए हर दिन संभोग करना आवश्यक है?

जल्दी से गर्भधारण करने के उत्साह में, आप रोज संभोग करने के लिए इच्छुक हो सकती हैं। और यह आरम्भ में एक या दो महीनों के लिए रोचक और आनंददायक हो सकता है। लेकिन, यदि आप तब तक गर्भवती नहीं होती हैं, तो हर दिन संभोग करना एक नीरस काम हो सकता है। जिस बारंबारता के साथ आपको संभोग करने की आवश्यकता होती है वह काफी कुछ कारकों पर निर्भर करेगा जैसे कि आपके द्वारा चुनी गई विधि और प्रजनन क्षमता की कोई मौजूदा समस्या। ऐसे उदाहरणों में जहां शुक्राणुओं की संख्या कम होती है या शुक्राणुओं की गुणवत्ता खराब होती है, हर दिन यौन संबंध बनाना उल्टा साबित हो सकता है। एक योग्य चिकित्सा पेशेवर की राय प्राप्त करने से आपको यह तय करने में मदद मिल सकती है कि आपके और आपके साथी के लिए सबसे अच्छा क्या है।

गर्भधारण करने के लिए कितनी बार संभोग करें?

जल्दी से गर्भधारण करने की संभावनाओं को अनुकूलित करने के लिए आपको निश्चित रूप से अधिक बार संभोग करने की आवश्यकता होगी। यदि आपके या आपके साथी की प्रजनन क्षमता में कोई समस्या नहीं है, तो हर दिन संभोग करना भी एक अच्छा विचार है। लेकिन कुछ समय बाद, कभी मजेदार लगने वाली गतिविधि के बजाय यह एक थकाऊ काम बन सकता है। इसलिए, रोमांस को बनाए रखें और बारीबारी एकदूसरे के लिए कुछ खास करके उत्साह कायम रखें।

प्रजननक्षम दिनों के दौरान अक्सर संभोग करें ।

एक महिला के मासिक चक्र में ऐसा समय आता है जब वह सबसे अधिक प्रजननक्षम होती है। गर्भवती होने के लिए, इस अवधि की पहचान करना और प्रजननक्षम दिनों के दौरान हर दिन संभोग करना गर्भधारण करने की संभावना को बढ़ा सकता है। अपने मासिक धर्म की तारीखों पर नज़र रखने से और डिंबोत्सर्जन के संभावित दिनों पर ध्यान देने से गर्भधारण होने की सम्भावना बढ़ सकती है। आमतौर पर, अण्डोत्सर्ग से ठीक पहले के पांच दिनों को हर महीने इस संक्रमण काल के दौरान गर्भाधान की 25% संभावना के साथ बेहद प्रजननक्षम माना जाता है। ऐसे बहुत से तरीके हैं जिनके उपयोग से आप यह निर्धारित कर सकती हैं कि आप सबसे अधिक प्रजननक्षम कब हैं। अपने शरीर के बुनियादी तापमान की रूपरेखा बनाना, अपने गर्भाशय ग्रीवा के श्लेम की निगरानी करना, और डिंबोत्सर्जन के अनुमान की किट (ओव्यूलेशन प्रिडिक्टर किट) का उपयोग करना, आपको हर महीने आपके प्रजननक्षम दिनों को पहचानने में मदद कर सकता है। फर्टिलिटी मॉनिटर और कैलेंडर कुछ अन्य चीजें हैं जिनका आप उपयोग करना चाह सकती हैं।

हालांकि, अपनी प्रजनन क्षमता और संभोग के लिए समय बद्धता पर नजर रखना तनावपूर्ण हो सकते हैं और बदले में यह आप पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है। सही संतुलन बनाए रखना और प्रजनन क्षमता पर आवश्यकता से अधिक नजर नहीं रखना, महत्वपूर्ण है।

अप्रजननक्षम समय के दौरान संभोग

जबकि यह सच है कि आपके प्रजननक्षम समय के दौरान संभोग करने से आपके गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको अपने अप्रजननक्षम दिनों के दौरान यौन संबंध नहीं बनाना चाहिए। यदि आप सोचती हैं कि वास्तव में इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप अप्रजननक्षम समय के दौरान संभोग करते हैं या नहीं, तो इस विषय पर आपको फिर से सोचना चाहिए। यद्यपि यह सीधे गर्भाधान को प्रभावित नहीं कर सकता है, शोध बताते हैं कि यौन संबंध महिलाओं की प्रतिरक्षा प्रणाली को कई तरीकों से संशोधित कर सकता है जो गर्भाधान की संभावना को बढ़ाता है। एक अप्रमाणित सिद्धांत यह भी है कि डिंबोत्सर्जन होने के बाद भी संभोग करना जारी रखना गर्भावस्था को बनाए रखने में मदद कर सकता है क्योंकि विकासशील भ्रूण के लिए वीर्य लाभदायक होता है।

गर्भाधान के लिए संभोग को कब सीमित करें

कुछ उदाहरणों में, आपके डॉक्टर यह सलाह दे सकते हैं कि आपको गर्भधारण करने की कोशिश करते हुए कम बार सेक्स करना चाहिए। यह तब हो सकता है जब पुरुष या महिला में प्रजनन संबंधी समस्याएं हों। यदि पुरुष में शुक्राणु की संख्या कम है, तो डॉक्टर हर रोज के बजाय एक दिन छोड़कर संभोग करने का सुझाव दे सकते हैं। इसी तरह, अगर महिला प्रजनन संबंधी समस्याओं का सामना कर रही है और उसका उपचार शुरू है अथवा उपचार के बारे में सोचा जा रहा है, तो डॉक्टर रोजाना संभोग करने से परहेज करने का सुझाव दे सकते हैं। प्रजननक्षम दिनों के दौरान भी, आपको एक दिन छोड़कर संभोग करना चाहिए क्योंकि इससे गर्भधारण की संभावना बढ़ सकती है, खासकर अगर शुक्राणु संख्या कम हो।

एक बच्चे को जन्म देने की मजेदार और रोमांचक रूप में शुरू की गई योजना, अगर इसमें कुछ अधिक महीने लग जाते हों तो तनावपूर्ण हो सकती है या यह आपके साथी के साथ आपके संबंधों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकती है। अपने प्रजननक्षम समय के दौरान संभोग करने से आपकी गर्भवती होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। और साथ ही, यह भी सच है कि यदि अन्य कोई समस्या ना हो तो प्रत्येक माह के दौरान अक्सर सम्भोग करने से भी अंत में गर्भधारण हो सकता है। इसलिए, आपके अनुसार जो आप दोनों के लिए सबसे अच्छा काम करेगा, वह कीजिए और अगर एक वर्ष नियमित रूप से कोशिश करने के बाद भी आपको गर्भवती होने में मुश्किल आती है, तो बिना किसी हिचकिचाहट के चिकित्सीय परामर्श लीजिए।