रक्षाबंधन विशेष: बच्चों के लिए खास पहनावे

रक्षाबंधन विशेष: बच्चों के लिए खास पहनावे

Last Updated On

हम जानते हैं कि अपने खूबसूरत और प्यारे बच्चों को तरहतरह के कपड़ों में सजाना आपको कितना पसंद है। रंगबिरंगे कपड़ों में अपनी गुड़िया जैसी बेटी को इठलाते हुए और अपने लाडले बेटे को सबके आकर्षण का केंद्र बनते हुए देखकर आपको कितना अच्छा लगता है। इसके लिए आप देर तक इंटरनेट और किताबें खंगालती होंगी और कौनसा रंग और कैसी डिजाइन चलन में है ये देखकर अपने दोनों बच्चों को सजाती होंगी। अब तो वैसे भी त्यौहारों का मौसम है और सबसे पहले तो रक्षाबंधन ही आता है। ऐसे में एथनिक और स्टाइलिश कपड़े सिर्फ बड़े ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी जरूरी हैं, तो क्यों न हम आपकी मुश्किल आसान कर दें। हम आपको बताते हैं कि कौन से रंग, स्टाइल, डिजाइन और पैटर्न के कपड़े इस समय चलन में हैं। इस लेख में लड़कों और लड़कियों दोनों पर फबने वाले एक से एक शानदार पहनावे दिए गए हैं।

क्या है 2019 के चलन में

  • रंग

यूं तो बच्चों पर कोई भी रंग अच्छा लगता है। फिर भी कुछ हट कर दिखने के लिए रंगों के चयन के मामले में थोड़ा चूज़ी होना बेहतर है। फिलहाल जो रंग फैशन की दुनिया में छाए हुए हैं उनमें हैं, पेस्टल रंग, कोरल, गुलाबी, हल्का लैवेंडर, हल्का हरा (लाइम ग्रीन), क्लीयरवॉटर ब्लू और सिल्वर।

  • डिजाइन व पैटर्न

पिछले कुछ समय से बच्चों के लिए एथनिक कपड़ों में भरपूर डिजाइन और पैटर्न का उपयोग होने लगा है। इसमें सबसे खास बात यह है कि कुछ डिजाइन लड़के व लड़कियों दोनों के लिए इस्तेमाल होते हैं जैसे धोती। साथ ही फ्लोरल प्रिंट, ट्राइबल लुक, एसिमट्रिक कट इन दिनों बेहद चलन में हैं। हम आपको बताते हैं कि कैसे इन ट्रेंड्स का उपयोग आप अपने बच्चों के लिए ड्रेसेस के चयन में कर सकती हैं और रक्षाबंधन के इस त्यौहार को यादगार बना सकती हैं।

१. लहंगाचोली व शेरवानी

लहंगा-चोली व शेरवानी

यह सबसे लोकप्रिय और सदाबहार भारतीय पहनावों में से एक है। भाईबहन की जोड़ी इसमें खूब दिखाई देगी। अपनी इच्छानुसार इसके साथ थोड़े फेरबदल भी किए जा सकते हैं, जैसे लड़कियों की चोली बिना बाँहों की या छोटीबड़ी रखी जा सकती है और लहंगा एलाइन कट या घेरदार बनाया जा सकता है। लड़कों की शेरवानी में मैंडरिन कॉलर, या गांठ व लूप पैटर्न रखे जा सकते हैं और साथ ही बटन सामने या साइड की तरफ भी लगाए जा सकते हैं। इन कपड़ों के लिए, जो रंग इन दिनों चलन में हैं उन्हें ध्यान में रखकर सिल्क, बनारसी, जॉर्जेट या ब्रोकेड के कपड़ों का चुनाव करें।

२. इंडोवेस्टर्न गाउन व क्रॉप कुर्ताधोती

इंडो-वेस्टर्न गाउन व क्रॉप कुर्ता-धोती
स्रोत: Pinterest

लहरिया या बंधेज पैटर्न में जॉर्जेट, शिफॉन या सिल्क के कपड़े में आपकी स्टाइलिश राजकुमारी के लिए गाउन बनवाएं। इसे एलाइन कट दें। इसके ऊपरी भाग में कढ़ाई (एम्ब्रॉइडरी) के काम वाला कपड़ा भी इस्तेमाल कर सकती हैं। अब, जब बहन इतनी बनठन कर राखी बांधेगी तो भैया का रौब भी कम नहीं पड़ना चाहिए। उसके कुर्ते को अंगरखा पैटर्न का बनाकर नीचे से एक तरफ क्रॉप करें। इसके साथ धोती या चूड़ीदार पैजामा दोनों ही अच्छे लगेंगे।

३. पलाज़ोटॉप व कुर्तापैजामा

पलाज़ो-टॉप व कुर्ता-पैजामा
स्रोत: Pinterest

किसी भी पेस्टल रंग में सिल्क, सेमीसिल्क या ब्रोकेड के कपड़े में अपनी लाडो के लिए पलाज़ो और अपने राजकुमार के लिए लंबी बाहों वाला कुर्ता बनवाएं। किनारों पर ज़री की लेस के इस्तेमाल से इसमें चार चाँद लग जाएंगे। बिटिया का टॉप 2-3 रंगों के कॉम्बिनेशन में रखें और भैया के पैजामे का रंग कुर्ते के रंग से 2 शेड हल्का लें। इस साल की राखी आपको हमेशा याद रहेगी।

४. पेप्लम टॉपस्कर्ट व एथनिक जैकेटधोती

पेप्लम टॉप-स्कर्ट व एथनिक जैकेट-धोती
स्रोत: Pinterest

यह एक बहुत ही अनूठा कॉम्बिनेशन है। वेस्टर्न पहनावे में पेप्लम टॉप बेहद लोकप्रिय है और अक्सर इसे शॉर्ट स्कर्ट के साथ पहना जाता है लेकिन आप उसे भारतीय तरीके की सिल्क की घेरदार स्कर्ट के साथ जोड़ सकती हैं। इसकी खूबसूरती बढ़ाने के लिए स्कर्ट के रंग से मेल खाते रंग के फ्लोरल प्रिंट का कपड़ा टॉप में इस्तेमाल करें। इसकी तोड़ में अपने राजदुलारे के कपड़ों में भी कुछ नया आजमाएं। पेप्लम टॉप के ही कपड़े में बंद गले की एथनिक जैकेट बनवाएं और इसे लेस लगी सिल्क की धोती के साथ पहनाएं।

५. एथनिक फ्रॉक व धोती सलवारकुर्ता

एथनिक फ्रॉक व धोती सलवार-कुर्ता
स्रोत: Pinterest

अगर आपकी बच्ची को ज्यादा तामझाम वाले कपड़े पहनना पसंद नहीं है तो सबसे बेहतर तरीका है उसके लिए एथनिक स्टाइल का एक सुंदर व घेरदार फ्रॉक बनवाएं। इसके साथ ज्यादा प्रयोग न करें बस कपड़े व रंग के चुनाव पर ध्यान दें। भाईबहन की चंचल जोड़ी बिलकुल ‘पार्टनर्स इन क्राइम’ लगे इसके लिए आपके नन्हे साहब के लिए बहन के फ्रॉक के ही कपड़े का इस्तेमाल करें। इन दिनों धोती सलवार का फैशन जोरों पर है सो उसके कुर्ते के साथ इसे आजमाएं।

आपके बच्चों के लिए कपड़ों के ये कॉम्बिनेशंस केवल रक्षाबंधन तक सीमित नहीं रहने वाले हैं। इन्हें पहनकर वे जब भी कहीं साथ जाएंगे तो एक जैसे दिखने के कारण अनायास ही लोगों की नजरें उन पर टिक जाएंगी। बच्चे बहुत जल्दी बड़े हो जाते हैं। यही वे पल हैं जब आप छोटीछोटी बातों में भी नयापन ढूंढकर अपनी आँखों में उनके बचपन की यादगार तस्वीरों का एक एलबम तैयार कर सकती हैं। तो फिर जल्दी कीजिए त्यौहारों का यह मौसम कहीं छू मंतर न हो जाए।