बच्चो के लिए ब्लूबेरी – फायदे, नुकसान और रेसिपीज

बच्चो के लिए ब्लूबेरी

Last Updated On

बच्चों को वयस्कों की तुलना अलग पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। इसी कारण से उनका आहार हमारे आहार से अलग होता है। बच्चों के लिए आहार की योजना बनाते समय इस बात का भी खयाल रखें कि वह खाने के मामले में अधिक चंचल हो सकते हैं। इसलिए अपने बच्चे के लिए आहार योजना बनाते समय खाद्य पदार्थों के स्वाद और उनके पोषण मान का खयाल आवश्यक है और पोषण को पूर्ण करने के लिए फलों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। आप अपने बच्चे के आहार में एक बेहतरीन फल शामिल कर सकती हैं वह है ‘ब्लूबेरी’।

क्या ब्लूबेरी बच्चों के लिए फायदेमंद है

ब्लूबेरी में एंटी-ऑक्सीडेंट, मिनरल जैसे जिंक, पोटैशियम व फॉस्फोरस के साथ-साथ विटामिन ‘ए’, ‘ई’, ‘के’ और ‘बी’ काम्प्लेक्स और स्वस्थ शर्करा जिसे फ्रुक्टोस कहा जाता है भी अधिक मात्रा में होते हैं। यह आपके बच्चे को सक्रिय व ऊर्जा से भरपूर रखता है ब्लूबेरी रक्त प्रवाह को नियंत्रित करता है, रक्तचाप को संतुलित रखता है, हृदय स्वास्थ्य में वृद्धि करता है, हड्डियों की वृद्धि व विकास में मदद करता है और संज्ञानात्मक विकास के दर को बढ़ाता है। यह जानना आवश्यक है कि डॉक्टर के अनुसार लगभग 1 वर्ष की आयु तक बच्चे को किसी भी प्रकार की बेरी, ब्लूबेरी या स्ट्रॉबेरी देना नहीं चाहिए।

ब्लूबेरी का पोषण मान

ब्लूबेरी का पोषण मान

ब्लूबेरी में अत्यधिक मात्रा में पोषण मौजूद होता है, 100 ग्राम ब्लूबेरी में कितना पोषण मान होता है इसके बारे में जानकारी निम्नलिखित तालिका में दी गई है।

पोषक तत्व पोषण मान प्रति 100 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 14.5 ग्राम
फाइबर 2.4 ग्राम
प्रोटीन 0.74 ग्राम
प्राकृतिक शर्करा 9.96 ग्राम
पोटैशियम 77 मि.ग्रा.
फास्फोरस 12 मि.ग्रा.
कैल्शियम 6 मि.ग्रा.
मैग्नीशियम 6 मि.ग्रा.
विटामिन ‘ई’ 0.55 मि.ग्रा.
विटामिन ‘सी’ 9.5 मि.ग्रा.
विटामिन ‘बी3’ 0.42 मि.ग्रा.
विटामिन ‘के’ 19.3 मि.ग्रा.

बच्चों को ब्लूबेरी कब दिया जा सकता है

ज्यादातर माता-पिता का यह सवाल रहता है कि बच्चे को ब्लूबेरी कब दिया जा सकता है या कौन सी आयु में उन्हें ब्लूबेरी खिलाना नुकसानदेह नहीं होगा। जैसा कि पहले भी बताया गया है कि एक वर्ष की आयु के बाद जब बच्चा ठोस आहार का सेवन शुरू कर देता है तब उसे ब्लूबेरी दिया जा सकता है। यदि आप अपने बच्चे को छोटी उम्र से ही ब्लूबेरी खिलाना चाहती हैं तो यह जानना आवश्यक है कि आप उसे ब्लूबेरी सुरक्षित रूप में किस प्रकार से दे सकती हैं। यदि आपका बच्चा 6 माह की आयु से कम का है तो उसे यह खाद्य पदार्थ बिलकुल भी न दें। यदि आप अपने 6-8 माह की आयु के बच्चे को ब्लूबेरी खिला रही उसे प्यूरी के रूप में दें पर इसका पूरा खयाल रखें कि इसकी मात्रा बहुत कम व संयमित हो। बच्चे को बहुत सावधानी से ब्लूबेरी खिलाएं क्योंकि इससे अन्य भोजन को पचने में दिक्कत हो सकती है।

बच्चों के लिए ब्लूबेरी के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

ब्लूबेरी में अनेक फायदे होने के कारण इसे एक सुपरफूड माना जाता है, इस खाद्य पदार्थ के फायदे कुछ इस प्रकार हैं;

1. हड्डियों के विकास में मदद करता है

ब्लूबेरी विटामिन ‘के’, मैग्नीशियम और कैल्शियम से भरपूर होता है। हड्डी के विकास के लिए इन तीन चीजों का मिश्रित होना आवश्यक है। विटामिन ‘के’, विशेष रूप से अस्थिकोरक (ऑस्टिओकैलसिन) नामक गुण का संश्लेषण करके हड्डी के विकास में मदद करता है।

2. हृदय स्वास्थ्य में सुधार करता है

ब्लूबेरी ऐसे तत्वों से भरपूर होता है जिन्हें हृदय की सुरक्षा के लिए जाना जाता है, इनमें फाइबर और पॉलीफेनोल जैसे तत्व शामिल होते हैं। यह दोनों तत्व हृदय प्रणाली को स्वस्थ रखने के लिए अधिक महत्वपूर्ण हैं।

3. रक्त परिसंचरण को नियंत्रित करता है

बच्चों की परिसंचरण प्रणाली (सर्कुलेटरी सिस्टम) अब भी विकसित हो रही है और उनमें प्लाक का विकास हो सकता है। ब्लूबेरी का सेवन बच्चों में प्लाक को रोकने में मदद करता है।

4. रक्तचाप को नियंत्रित करता है

पोटैशियम उन तत्वों में से एक है जो रक्तचाप को नियंत्रित और नियमित कर सकते हैं। ब्लूबेरी में पोटैशियम की भरपूर मात्रा होती है और यह रक्तचाप को नियंत्रित व नियमित करने में एक बड़ी भूमिका निभाता है।

5. कैंसर को रोकने में मदद करता है

ब्लूबेरी में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होती है और यह एंटीऑक्सीडेंट कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।

6. मुक्त कणों को नियंत्रित करने में मदद करता है

ब्लूबेरी में एंटीऑक्सीडेंट की अच्छी मात्रा होती है। यह एंटीऑक्सिडेंट एक प्रकार की कोशिकाओं के निर्माण को रोकने के लिए जाने जाते हैं जिन्हें फ्री रेडिकल कहा जाता है। यह उम्र से संबंधित किसी भी समस्या को रोकने में मदद करता है।

7. आँखों की थकान को कम करता है और आँखों की रौशनी बढ़ाता है

ब्लूबेरी में हाइड्रेटिंग मिनरल भरपूर मात्रा में होते हैं जो आँखों के लिए अच्छे होते हैं। यह खाद्य पदार्थ आपके बच्चे की आँखों को स्वस्थ रखने और आराम देने में मदद करता है। इसके अलावा, ब्लूबेरी में एंथोसायनिन नामक तत्व मौजूद होते हैं जो आँखों की रौशनी सुधारने में मदद करते हैं।

8. तंत्रिका तंत्र को बनाए रखने और संज्ञानात्मक विकास में मदद करता है

ब्लूबेरी में मिनरल, विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट के अद्भुत गुण तंत्रिका तंत्र की गति को धीमा करने में मदद करता है और साथ ही यह मिश्रित तत्व तंत्रिका तंत्र ठीक बनाए रखने में भी मदद हैं।

क्या आपके बच्चे को ब्लूबेरी से एलर्जी हो सकती है

ज्यादातर बेरी से बच्चों में एलर्जी होने की संभावना होती है।हालांकि, ब्लूबेरी से बच्चों में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं देखी गई है। इसका मतलब यह नहीं है कि आपके बच्चे में ब्लूबेरी से एलर्जी विकसित नहीं हो सकती है।संभवतः 8 माह की आयु में ब्लूबेरी का सेवन करने से ऐसा नहीं होता है। यदि आपके बच्चे में ब्लूबेरी से एलर्जी होती है तो आपको निम्नलिखित लक्षण दिखाई दे सकते हैं;

  • लाल चकत्ते
  • आँखों में सूजन
  • होठों में सूजन
  • पेट खराब

डॉक्टर यह भी सलाह देते हैं कि यदि आपके बच्चे को एक्जिमा जैसी त्वचा से संबंधित समस्या है या उसे आहार में दिए गए खाद्य पदार्थ से एलर्जी है तो उसे कुछ समय ब्लूबेरी न दें। ब्लूबेरी से वयस्कों में किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं होती है।

क्या ब्लूबेरी बच्चों में कब्ज पैदा कर सकता है

अधिक मात्रा में ब्लूबेरी का सेवन करने से ज्यादातर लोगों में दस्त या कब्ज हो सकता है। यदि आपके बच्चे को ब्लूबेरी से एलर्जी होती है तो उसे कब्ज की समस्या भी हो सकती है। बच्चे का पाचन तंत्र संवेदनशील होने के कारण भी ब्लूबेरी के कारण कब्ज की संभावना बढ़ सकती है। इससे बचने के लिए प्राथमिक रूप से बच्चे का इलाज करवाएं।

बच्चे के लिए ब्लूबेरी कैसे चुनें और इसे स्टोर कैसे करें

अपने बच्चे के लिए ब्लूबेरी को चुनना और उसे सही ढंग से स्टोर करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य है। हमेशा ताजा और आर्गेनिक ब्लूबेरी खरीदने की सलाह दी जाती है। इनमें अत्यधिक पोषण होता है और इसमें किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव की संभावना कम से कम होती है।आर्गेनिक ब्लूबेरी की पहचान करने के लिए आर्गेनिक गुणवत्ता के स्टीकर वाले पैकेट को खोजें और साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि ब्लूबेरी का रंग गहरा नीला और वह दिखने में ताजे व हल्के ठोस हों। यदि ब्लूबेरी बताए अनुसार नहीं होते हैं तो इसका तात्पर्य है कि वह बासी है। ब्लूबेरी को स्टोर करने से पहले उसे अच्छी तरह से धो लें और फ्रिज में 0-3 डिग्री सेल्सियस के तापमान तक स्टोर करें।

यदि आप फ्रोजन ब्लूबेरी खरीद रही हैं, तो सुनिश्चित करें की उसकी एक्सपायरी डेट देख लें। अगर पैकेजिंग पर कोई निर्माण तिथि या समाप्ति तिथि नहीं है, तो उसे न खरीदें। सुनिश्चित करें कि फ्रोजन ब्लूबेरी की पैकेजिंग को टाइट से सील किया गया है और जब आप पैकेट खोलती हैं, तो बेरी को एक एयरटाइट जिप-लॉक बैग रखकर फ्रिज में स्टोर कर दें।

बच्चों के लिए ब्लूबेरी की कुछ रेसिपी

बच्चों के लिए ब्लूबेरी की कुछ रेसिपी

यह जानना बहुत जरुरी है कि आप अपने बच्चे के लिए ब्लूबेरी कैसे तैयार कर सकती हैं। बच्चे को ब्लूबेरी फल के रूप में या व्यंजन में खिलाया जाए यह उसकी उम्र पर निर्भर करता है। आपके बच्चे के लिए निम्नलिखित कुछ व्यंजन दिए हुए हैं, आइए जानते हैं;

1. ब्लूबेरी की प्यूरी

एक वर्ष से छोटे बच्चों के लिए ब्लूबेरी की प्यूरी अत्यधिक आम व्यंजन है। यहाँ आपके बच्चे के लिए ब्लूबेरी की प्यूरी बनाने का तरीका दिया गया है, आइए जानते हैं;

सामग्री

  • ताजा ब्लूबेरी – 1 कप
  • पानी – ½ कप

विधि

उबले हुए पानी में थोड़ा सा ब्लूबेरी डालें और उसे नर्म होने तक पकने दें। पकने के बाद ब्लूबेरी को अच्छी तरह से मैश कर लें। ब्लूबेरी व पानी को गाढ़ा मिश्रण बनने तक इसे बर्तन में ही रखें। ठंडा होने के बाद मैश की हुई ब्लूबेरी को ब्लेंडर में डालकर ब्लेंड कर लें अतिरिक्त पानी निकाल कर अपने बच्चे को खिलाएं।

2. ब्लूबेरी और ओटमील

ब्लूबेरी और ओट्स आपके बच्चे के लिए एक अत्यंत स्वस्थ्यपूर्ण नाश्ता है और इसे सरलता से पकाया जा सकता है जो आपके बच्चे को अत्यधिक पसंद आएगा।

सामग्री

  • ब्लूबेरी प्यूरी – ½ कप
  • ओट्स – ½ कप

विधि

ओट्स को दरदरा पीस लें और इसे ब्लूबेरी से बनी प्यूरी में अच्छी तरह से मिलाएं। अपने बच्चे के लिए इस मिश्रण को हल्का गाढ़ा व मुलायम रखें। आप चाहें तो इसे गर्म पानी में पतला करके बच्चे को खिला सकती हैं।

3. ब्लूबेरी और सेब की प्यूरी

ब्लूबेरी प्यूरी की तरह ही आपके बच्चे के लिए यह व्यंजन बनाना बेहद आसान है और यह आपके बच्चे को अत्यधिक स्वादिष्ट भी लगेगा।

सामग्री

  • ताजा ब्लूबेरी – 1 कप
  • ताजा सेब – 1
  • पानी – ½ कप

विधि

एक बर्तन में पानी को उबाल लें और धीमी आंच करके ब्लूबेरी व सेब कटे हुए टुकड़ों को उबलते हुए पानी में डालें। दोनों खाद्य पदार्थों को नर्म होने तक धीमी आंच पर उबालें और फिर मिश्रण को एक बर्तन में डालकर अतिरिक्त पानी निकालें व मैश कर लें। इस मिश्रण को ब्लेंडर में ब्लेंड करके थोड़ा मुलायम कर लें और यदि आप चाहें तो थोड़ा सा शहद मिलाकर अपने बच्चे को खिलाएं।

4. ब्लूबेरी और केला की प्यूरी

ब्लूबेरी व केले की प्यूरी आपके बच्चे को सम्भवतः अत्यधिक पसंद आएगी और उसके लिए यह व्यंजन स्वस्थ भी है।

सामग्री

  • केला – 1
  • ताजा ब्लूबेरी – 1 कप
  • पानी – ½ कप

विधि

एक बर्तन में लगभग एक कप पानी उबालकर, आंच को धीमा कर दें। उबले हुए पानी में एक कप ब्लूबेरी मिलाएं व नर्म होने तक पकने दें। ब्लूबेरी को अच्छी तरह से मैश करने के बाद इसमें केला मिलाएं और एक बार फिर मैश कर लें। मिश्रण को सामान्य तापमान में ठंडा करने के बाद इसे ब्लेंडर में ब्लेंड कर लें और यदि आप चाहें तो शहद के साथ या बिना शहद के परोसें।

ब्लूबेरी को एक सुपरफूड माना जाता है, लेकिन किसी भी सुपरफूड की तरह इसमें भी यह आवश्यक है कि आप अपने बच्चे को ब्लूबेरी के अनुकूल प्रभाव के लिए इसे संयमित रूप में खिलाएं । अपने बच्चे के आहार में ब्लूबेरी की सही मात्रा जानने के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करना सुनिश्चित करें।