बच्चों के लिए संतरे – पोषण मूल्य, स्वास्थ्य लाभ और व्यंजन

बच्चों के लिए संतरे

Last Updated On

बच्चों की बढ़ती उम्र के साथ उनके स्वादानुसार खाद्य पदार्थों में बदलाव एक आम बात है। जाहिर है ऐसे में आप अपने बच्चे को नए स्वाद व इसमें उसकी प्रतिक्रिया को जानने के लिए विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करवाना चाहती होंगी। फल, प्राकृतिक और पौष्टिक खाद्य पदार्थ होने के कारण बच्चों के लिए एक सर्वश्रेष्ठ विकल्प हो सकते हैं। लेकिन ऐसा जरुरी नहीं है कि फल सिर्फ फायदेमंद ही हों, क्योंकि कई फलों में अम्ल और तैलीय पदार्थ भी होता है जो बच्चों की पाचन क्रिया को प्रभावित करता है और कई बार उन्हें इनसे अन्य समस्याएं हो सकती हैं।

बच्चे संतरे कब खा सकते हैं

6 महीने की उम्र के बच्चों के लिए संतरे का रस बनाना उचित नहीं है क्योंकि हो सकता है, उनका संवेदनशील पेट संतरे की अम्लीय प्रकृति को सहन करने में सक्षम न हो। संतरे में मुख्य रूप से साइट्रिक एसिड होता है जिसके परिणामस्वरूप बहुत छोटे शिशुओं की त्वचा पर चकत्ते भी दिखाई दे सकते हैं। इसलिए अपने बच्चे को एक वर्ष की आयु के आस-पास से ही संतरे खिलाने की शुरुआत करें।

बच्चों के लिए संतरे के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

बच्चों की बढ़ती आयु के साथ उनके खाद्य पदार्थों में फलों को शामिल करना एक बेहतरीन विकल्प है। यह उनके आहार में पोषण की आवश्यक मात्रा को पूर्ण करने में मदद करते हैं और साथ ही अन्य फायदे भी पहुँचाते हैं। बच्चों को संतरा खिलाने के निम्लिखित कुछ फायदे दिए हुए हैं, आइए जानते हैं;

1. पर्याप्त मात्रा में पोषण प्रदान करता है

संतरे में विटामिन और मिनरल जैसे पर्याप्त मात्रा में पोषण होता है। यह पोषक तत्व बच्चों के विकास में अधिक आवश्यक और महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यदि आपके बच्चे के शारीरिक विकास में समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं तो एक गिलास संतरे का रस उसके पोषक तत्वों की कमी को पूरा कर सकता है।

2. पाचन शक्ति बढ़ाता है

बच्चों का पाचन तंत्र धीरे-धीरे विकसित होने के कारण उनमें अपच की अधिक समस्याएं होती हैं। संतरे में कुछ ऐसे घटक मौजूद होते हैं, जो पाचन क्रिया को प्रोत्साहित करने में मदद करते हैं।

3. कब्ज को कम करता है

विकास के शुरुआती चरणों में बच्चे के आहार में उस प्रकार के फाइबर में कमी होती है जो मल त्याग में मदद करते हैं। बच्चों में कब्ज को कम करने के लिए फलों का सेवन एक बढ़िया विकल्प है। संतरे में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है जो आपके बच्चे को कब्ज की समस्या से निजात दिला सकता है।

4. हड्डियां मजबूत करता है

संतरे में मिनरल और नमक की भरपूर मात्रा होती है जो इसे कैल्शियम और फॉस्फेट जैसे तत्वों का एक बेहतरीन स्रोत बनाता है। संतरे का नियमित रूप से सेवन कमजोर हड्डियों व नर्म जोड़ों को मजबूत करने में मदद करता है। जोड़ों की समस्या मिनरल की कमी के कारण होती है जिसे ‘रिकेट’ के नाम से भी जाना जाता है।

5. खांसी और सर्दी की संभावना को कम करता है

ज्यादातर बच्चे सर्दी और खांसी के कारण अत्यधिक बीमार पड़ते हैं। बच्चे की इस समस्या को खत्म करने के लिए आप एक प्रसिद्ध व परखा हुआ घरेलू उपाय अपना सकती हैं। इसके लिए एक कप संतरे के जूस में चुटकी भर नमक और व शहद मिलाकर अपने बच्चे को दें। इस उपचार से आपके बच्चे की खांसी व सर्दी बहुत जल्द ठीक हो सकती है।

6. काली खांसी से राहत दिलाता है

काली खांसी अन्य खांसी व सर्दी की समस्या से अलग होती है। इस समस्या के कारण गले में दर्द होता है और यह अत्यधिक संक्रामक भी माना जाता है। संतरे के रस में थोड़ा सा पानी डालकर इसे पतला करके अपने बच्चे को पिलाएं, उसे काफी आराम मिलेगा।

7. गले में सूजन के लिए उपाय

मंप्स या पैरोटाइटिस एक वायरल व संक्रामक समस्या होती है और यह बच्चों में अत्यधिक पाई जाती है। संतरे का रस, मंप्स या पैरोटाइटिस के इलाज का एक लोकप्रिय तरीका है और यह रस अन्य फलों के रस द्वारा संपूरित होता है। आधे कप रस को आधे कप पानी के साथ मिलाएं और अपने बच्चे को दें।

8. दस्त में फायदा देता है

छोटे बच्चों में दस्त की समस्या अधिक खतरनाक है, इससे उन्हें डिहाइड्रेशन हो सकता है और उनमें ऊर्जा की कमी भी हो सकती है। संतरे के रस से शरीर में कम हुए पानी को वापस पाया जा सकता है और साथ ही यह शरीर में मिनरल की मात्रा को संतुलित करता है।बच्चे को संतरे का रस देने से पहले इसमें पानी मिलकार हल्का पतला कर लें।

9. सबसे अच्छा वैकल्पिक तरल आहार है

यदि आपका बच्चे को भोजन चबाने में कठिनाई होती है तो उसे अपच की समस्या भी हो सकती है। ऐसे मामलों में बच्चे को कुछ दिनों के लिए बिना ठंडा किया हुआ संतरे का रस दें। जैसा कि मलत्याग की समस्या बार-बार होती है इसलिए आप उसे कुछ समय के लिए यह रस दें और फिर धीरे-धीरे उसे फिर से सामान्य आहार खिलाना शुरू करें।

10. टाइफाइड से स्वस्थ होने में सहायता करता है

टाइफाइड बुखार व्यक्ति की पाचन शक्ति को नष्ट करने के साथ-साथ पेट दर्द, खांसी, सिरदर्द, बुखार आदि के लिए जाना जाता है। इस समस्या में पीड़ित व्यक्ति केवल तरल पदार्थों का सेवन ही कर सकता है। टाइफाइड से पीड़ित बच्चे के लिए संतरे का रस सर्वश्रेष्ठ विकल्पों में से एक है।

संतरे में मौजूद पोषण मूल्य

जैसा कि पहले भी बताया गया है कि संतरे में अनेक पोषण तत्व पर्याप्त मात्रा में मौजूद हैं। आइए अब जानते हैं कि संतरे में कौन सा पोषक तत्व कितनी मात्रा में पाया जाता है। निम्नलिखित पोषक तत्व एक माध्यम आकार के संतरे में होते हैं, आइए जानें;

घटक मात्रा
पोटेशियम 232 मिलीग्राम
फॉस्फोरस 32 मिलीग्राम
मैग्नीशियम 15 मिलीग्राम
कैल्शियम 50 मिलीग्राम
सोडियम 2 मिलीग्राम
आयरन 0.18 मिलीग्राम
विटामिन ‘ए’ 346 आई.यू.
विटामिन ‘सी’ 82 मिलीग्राम
थायमिन 0.09  मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन 0.07 मिलीग्राम
नियासिन 0.59 मिलीग्राम
फोलेट 0.48 मिलीग्राम

 

इसमें थोड़ी मात्रा में कॉपर, जिंक और मैंगनीज भी होता है।

संतरे में मौजूद पोषण मूल्य

बच्चों को संतरे कैसे खिलाएं

सबसे पहले संतरे हो छील कर उसकी फांकों को साफ करके बीज निकाल दें। संतरे की फांकों को इतने छोटे टुकड़ों में काट लें कि बच्चा इसे सरलता से खा सके और उसके गले में भी न फंसे।

बच्चे को पहली बार में सिर्फ मीठे संतरे ही दें क्योंकि हो सकता है कि शुरुआत में उसे खट्टा स्वाद पसंद न आए। बच्चे को संतरे खिलाने से पहले यह जांचना न भूलें कि वह खराब या अजीब रंग का न हो।

अपने बच्चे को बाजार में मिलने वाला संतरे का रस या प्यूरी न दें। बाजार में मिलने वाले संतरों के स्वाद को बनाए रखने के लिए उनमें कई पदार्थ और चीनी मिलाई जाती है। आप अपने बच्चे के लिए बाजार से सिर्फ ताजे संतरे खरीदें और घर पर ही रस बनाएं।

खाद्य पदार्थ जिन्हें आप संतरे के साथ मिला सकती हैं

वैसे तो संतरा ऐसे ही खाने में अच्छा लगता है किंतु यदि कभी आपको अपने बच्चे को कोई दूसरा स्वाद भी चखाना है तो आप संतरे के साथ विभिन्न फलों को मिला सकती हैं। संतरे के साथ निम्नलिखित विभिन्न फलों को मिलाया जा सकता है, आइए जानते हैं;

  • एवोकाडो – यह संतरे के खट्टे स्वाद के साथ मिलाने के लिए एक बेहतरीन फल है।
  • ब्लूबेरी और क्रैनबेरी – इनमें से प्रत्येक के स्वाद में मौजूद अंतर, संतरे के साथ मिलाने पर इसका स्वाद और भी बेहतरीन हो सकता है।
  • शकरकंद – आप शकरकंद का उपयोग करके सूफ्ले (souffle) बना सकती हैं जिसे संतरे के रस के साथ मिलाया जा सकता है।
  • चिकन – जैसे-जैसे आपका बच्चा मांस खाना शुरू करता है, आप संतरे का उपयोग मांस पर ग्लेज के रूप में कर सकती हैं।
  • दही – संतरे का रस और दही मिलाकर बनाए हुए फ्रीज पॉप अत्यधिक स्वादिष्ट होते हैं।

बच्चे को संतरा खिलाते समय बरती जाने वाली सावधानियां

बच्चे को संतरा खिलाने से पहले निम्नलिखित सावधानियों का जरूर खयाल रखें

  • संतरे में छिलका, रेशा या बीज न हो

संतरे के छिलके, रेशे या बीज में खुद का एक अजीब सा स्वाद होता है। यदि यह चीजें आपके बच्चे के मुंह में गई तो वह पूरे संतरे को नापसंद कर सकता है और इससे बीज हटाना भी अत्यधिक अनिवार्य है।

  • यदि चबाने में दिक्कत होती है तो मसल लें

अगर छिलके, रेशे और बीज निकालने के बाद भी आपके बच्चे को संतरे के छोटे-छोटे टुकड़े खाने में परेशानी होती है, तो आप बच्चे के लिए संतरे को मसल सकती हैं। आप अपने बच्चे को संतरा मसल कर प्यूरी के रूप में दें। इसे आपका बच्चा सरलता से खा सकता है और उसे यह स्वादिष्ट भी लगेगा।

  • खट्टे संतरे देने से बचें

आपको थोड़ी ज्यादा मेहनत करनी पड़ सकती है परंतु अपने बच्चे के लिए मीठे संतरे ही चुनें। हो सकता है अभी आपका बच्चा संतरे के खट्टे स्वाद के लिए अधिक संवेदनशील हो। यदि संतरा मीठा होगा तो वह आपके बच्चे को भी अधिक पसंद आएगा।

  • हमेशा ताजे फल दें

अपने बच्चे को हमेशा ताजे और पूरी तरह से पके हुए फल ही खिलाएं। एक सर्वोत्तम संतरा चुनने के लिए खयाल रहे कि आप पका हुआ और हल्का कड़क संतरा ही लें। यदि संतरा दबाने पर नर्म लगता है तो ऐसे संतरे को न खरीदें।

बच्चों के लिए संतरे के सरल व्यंजन

यदि आप अपने बच्चे को साधारण रस के साथ-साथ संतरे के विभिन्न व्यंजन भी खिलाना चाहती हैं तो यहाँ कुछ विभिन्न व्यंजन दिए हुए हैं। निम्नलिखित व्यंजन साधारण रस से अलग व स्वादिष्ट भी हैं।

1. गाजर संतरे की प्यूरी

आवश्यक चीजें

  • संतरे का रस
  • छीले और कटे हुए गाजर
  • दालचीनी

विधि

  • गाजर को नर्म होने तक पकाएं।
  • फिर नर्म गाजर में संतरे के रस को मिलाकर पीस लें।

2. फ्रोजन संतरे और क्रैनबेरी

आवश्यक चीजें 

  • क्रैनबेरी का रस
  • संतरे का रस
  • बर्फ के टुकड़े

विधि

  • बर्फ के टुकड़े और रस को ब्लेंडर में डालें।
  • इसे गाढ़ा होने तक ब्लेंड करें।

3. ऑरेंज ड्रीम्सिकल मिल्क

आवश्यक चीजें 

  • कम वसा वाला दूध
  • वनीला एक्सट्रेक्ट
  • चीनी
  • संतरे की प्यूरी (बिना चीनी की)

विधि

  • सभी सामग्रियों को एक कंटेनर में डालें।
  • मिश्रण को अच्छी तरह से ब्लेंड करें।

4. संतरे के साथ दही

आवश्यक चीजें 

  • दही
  • कटे हुए संतरे
  • शहद

विधि

  • एक कप दही में संतरे की प्यूरी को अच्छी तरह से मिला लें।
  • अब इसके ऊपर से थोड़ा सा शहद डालें।

5. ऑरेंज जूलियस

आवश्यक चीजें 

  1. संतरे का रस
  2. सेब का रस
  3. माँ का दूध या फॉर्मूला दूध
  4. वनीला
  5. दालचीनी

विधि

  • ब्लेंडर में सभी सामग्रियां डालकर ब्लेंड कर लें।
  • मिश्रण को थोड़ा पतला ब्लेंड कर लें।

6. केले और संतरे का मैश

आवश्यक चीजें 

  • कटा हुआ केला
  • संतरे का रस
  • सेब का रस
  • जैतून का तेल

विधि

  • एक पैन में जैतून का तेल गुनगुना कर लें।
  • उस पर केले के टुकड़ों को हल्का तलें। इसमें संतरे और सेब का रस मिलाएं और बच्चे को खिलाएं ।

7. गाजर और संतरे

आवश्यक चीजें 

  • छिले और कटे हुए गाजर
  • संतरे का रस
  • पानी

विधि

  • एक पैन लें और उसमें गाजर, पानी और रस मिला लें।
  • गाजर को तब तक भाप में पकाएं जब तक कि वह नर्म न हो जाए और आप चाहें तो इसे मैश भी कर सकती हैं।
  • अतिरिक्त स्वाद के लिए दालचीनी ऊपर से छिड़कें।

8. ऑरेंज योगर्ट पॉप्स

आवश्यक चीजें 

  • छिले और बीज निकाले हुए संतरे
  • दही

विधि

  • संतरे की प्यूरी बनाएं और साथ ही इसमें दही भी मिलाते रहें।
  • मिश्रण को एक आइस-क्यूब ट्रे में डालें और इसे फ्रीज करें।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. क्या मैं अपने बच्चे को संतरे का रस दे सकती हूँ?

यदि आपका बच्चा लगभग एक वर्ष का हो गया है और उसने ठोस आहार का सेवन करना शुरू कर दिया है तो आप उसे संतरे का रस दे सकती हैं। बच्चे को संतरे का रस पतला करके दें और साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि उसे अम्लीय पदार्थों से एलर्जी न हो।

2. क्या मेंडेरियन संतरे बच्चों के लिए सुरक्षित हैं?

एक वर्ष तक के बच्चों के लिए मेंडेरियन संतरे सुरक्षित होते हैं। बच्चे को संतरे देने के बाद उनकी प्रतिक्रिया पर जरूर ध्यान दें।

3. क्या मैं बच्चों को संतरे का स्क्वैश दे सकती हूँ?

संतरे के स्क्वैश में मिठास के लिए अधिक मात्रा में अलग से चीनी मिलाई गई होती है। इसमें बहुत कम पोषण होता है और यह आपके बच्चे के दाँतों को नुकसान पहुँचा सकता है इसलिए अपने बच्चे को संतरे का स्क्वैश देने से बचें।

4. सिट्रस फल के लिए बेहतर वैकल्पिक फल कौन से हैं?

विटामिन ‘सी’ का एक अच्छा स्तर बनाए रखने के लिए वैकल्पिक खाद्य पदार्थ खरबूजा, पपीता, आलू और पालक हैं। इनमें सिट्रस फलों के गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं और इनमें खट्टा स्वाद व एलर्जी की संभावना कम होती है।

5. क्या मैं घर पर बनाए हुए भोजन को संरक्षित करने के लिए साइट्रिक एसिड का उपयोग कर सकती हूँ?

बच्चों के लिए हल्के खट्टे फल नुकसानदेह नहीं होते हैं। प्रिजर्वेटिव के रूप में नींबू की कुछ बूंदें एक बेहतर विकल्प हैं क्योंकि इन्हें सबसे अंत में मिलाया जाता है।

संतरे जैसे फल बहुत अच्छी मात्रा में पोषण प्रदान करते हैं और इसका उपयोग विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाने के लिए भी किया जा सकता है। सुनिश्चित करें कि बच्चे की आयु उचित हो, तभी वह पौष्टिक व स्वादिष्ट आहार का आनंद ले सकेगा ।