बच्चों में रूसी से कैसे निजात पाएं

बच्चों में रूसी से कैसे निपटें

Last Updated On

रूसी एक आम समस्या है जो किसी को भी हो सकती है और बच्चे भी इससे अछूते नहीं हैं । अक्सर बाहर खेलने, स्कूल में किसी और बच्चे के सिर में रूसी होने के कारण यह समस्या आपके बच्चे को भी हो सकती है। वास्तव में वातावरण की धूल या मिट्टी बच्चों के सिर को संवेदनशील बना देती है जिसके परिणामस्वरुप सिर की त्वचा रूखी हो जाती है और खुजली होने लगती है। इससे रूसी की समस्या होती है।

रूसी क्या है

सामान्यतः हर किसी के सिर पर मृत त्वचा की जमी हुई ऊपरी परत हो सकती है । जब इस मृत त्वचा की परत निकलना शुरू होती है तो छोटे-छोटे टुकड़ों में यह पूरे सिर पर फैल जाती है जिसे रूसी कहा जाता है। रूसी होने से सिर पर ज्यादातर खुजली होती जबकि कुछ मामलों में इसके कारण सिर पर गंभीर समस्याएं हो सकती हैं, जैसे सेबोर्रेहिक डर्मेटाइटिस। इस समस्या से बच्चों के सिर में सूजन भी हो सकती है।

बच्चों में रूसी होने के कारण

रूसी की समस्या के अनेक कारण हो सकते हैं। आइए जानते हैं:

1. अनुचित तरीके से शैंपू करना

आप अपने बच्चे के बालों को शैंपू करती होंगी और जिससे अक्सर सिर की मृत त्वचा निकल जाती है। किन्तु कभी-कभी अनुचित तरीके से सिर धोने के कारण बालों में मृत त्वचा चिपकी रह जाती है और यही मृत त्वचा बच्चों के सिर में रूसी का कारण बनती है।

2. कुपोषण

अत्यधिक अस्वास्थ्यकर भोजन या जंक फूड का सेवन करने से बच्चों में पोषण की कमी हो सकती है। इस कारण से बच्चों के सिर में भी पोषण नहीं पहुँच पाता है और उनके सिर की त्वचा बेजान होने लगती है। सिर पर यही बेजान त्वचा रूसी का कारण बनती है जिससे उन्हें सिर पर अत्यधिक खुजली होती है।

3. हेयर प्रॉडक्ट्स के प्रति संवेदनशीलता

आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले तेल या शैंपू जैसे हेयर प्रॉडक्ट आपके बच्चे के लिए उपयुक्त नहीं होते हैं जिससे उन्हें रूसी हो सकती है। इस स्थिति में आप डॉक्टर की सलाह अनुसार बच्चों के लिए बने उत्पादों का उपयोग करें।

4. मैलेसेजिया

यह एक फंगस है जो अत्यधिक तेजी से बढ़ता है और मांसपेशियों के प्राकृतिक विकास को रोक सकता है। जिसके परिणामस्वरुप सिर में अत्यधिक खुजली और रूसी हो सकती है। बच्चों में कुछ बीमारियों और हॉर्मोन परिवर्तन के कारण भी इस तरह का फंगस होता है।

5. सेबोर्रेहिक डर्मेटाइटिस

इस रोग को ‘एक्जिमा’ भी कहा जाता है जिसके कारण त्वचा में जलन हो सकती है। त्वचा की यह समस्या सरलता से दूर नहीं होती है किंतु बच्चों में यह समस्या हल्के डैंड्रफ के रूप में दिखाई दे सकती है जिसका प्रभाव गंभीर नहीं होता है।

बच्चों में रूसी के संकेत और लक्षण

रूसी होने पर बच्चों में विभिन्न प्रकार के निम्नलिखित लक्षण व संकेत दिख सकते हैं:

  • बच्चे के कपड़े और सिर पर सफेद रंग की मृत त्वचा की परतों के टुकड़े।
  • सिर पर तैलीय मृत त्वचा का होना।
  • सिर में लगातार खुजली होना।
  • अत्यधिक रूसी या खुजली के कारण सिर में लाल रंग के पैच होना।

बच्चों के सिर में रूसी का प्रभाव

आमतौर पर रूसी की समस्या बहुत मामूली होती है जिससे आपका बच्चा परेशान तो हो सकता है किंतु यह समस्या सिर को अधिक प्रभावित नहीं करती है। कुछ मामलों में सिर पर अत्यधिक रूसी गंभीर समस्याओं का भी कारण बन सकती है, जैसे सेबोर्रेहिक डर्मेटाइटिस, एक्जिमा, मैलेसेजिया या सोरायसिस जिसके कारण सिर में सूजन हो जाती है व त्वचा पर लाल पैच दिखाई देते हैं। इस स्थिति में बच्चों को प्रभावी उपचार देने के लिए स्किन केयर डॉक्टर से ही संपर्क करें।

बच्चों में रूसी से बचाव के उपाय

जैसा कि कहा गया है बच्चों में कम रूसी उनके सिर पर गंभीर प्रभाव नहीं डालती है किन्तु इससे आपका बच्चा परेशान अवश्य हो सकता है। अपने बच्चे को इस समस्या से उबारने के लिए नीचे दिए हुए कुछ उपचारों का उपयोग करके देखें:

1. मेडिकेटेड शैंपू का प्रयोग करें

मेडिकेटेड शैंपू का इस्तेमाल बच्चों में काफी हद तक रूसी का इलाज कर सकता है। इसके लिए अपने मन से किसी भी शैंपू का उपयोग करने के बजाय डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही अपने बच्चे के सिर पर मेडिकेटिड शैंपू का उपयोग करें।

2. बच्चे को हाइड्रेटेड रखें

बच्चे को ज्यादा से ज्यादा पानी पिलाकर हाइड्रेटेड रखें, इससे आपके बच्चे में रूसी की समस्या कम हो सकती है।

3. शैंपू करने से पहले बालों को कंघी करें

मेडिकेटिड शैंपू के उपयोग से पहले बच्चे के बालों को अच्छी तरह से कंघी करें। इससे आपके बच्चे के सिर में जमी मृत त्वचा की ऊपरी परत निकलने में मदद मिलती है और शैंपू के बाद उसके बाल बेहतर तरीके से साफ हो जाते हैं।

शैंपू करने से पहले बालों को कंघी करें

4. कंघी और तौलिया अलग रखें

अपने बच्चे का तौलिया और कंघी अलग रखें क्योंकि अनेक लोगों द्वारा एक ही कंघी या तौलिये का उपयोग करने से रूसी बढ़ने की संभवना अधिक हो सकती है।

5. उचित पोषण दें

बच्चों में रूसी की समस्या को खत्म करने के लिए उन्हें हरी पत्तेदार सब्जियां खिलाएं। इनमें मौजूद प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट व अन्य आवश्यक पोषक तत्व बच्चे के शारीरिक हिस्सों में नमी पहुँचाने में मदद करते हैं और साथ ही त्वचा को भी स्वस्थ रखते हैं। जिससे बच्चे के सिर की त्वचा भी नम व स्वस्थ रहती है और रूसी कम करने में मदद मिलती है।

6. सिर में तेल लगाएं

अपने बच्चे के सिर में नियमित रूप से तेल लगाएं क्योंकि यह सिर को नम रखने में मदद करने के साथ-साथ रूसी को भी खत्म करता है।

7. किसी भी हेयर उत्पाद का इस्तेमाल न करें

बच्चों की त्वचा अधिक संवेदनशील होने के कारण उसमें जल्द ही समस्याएं हो सकती हैं इसलिए बच्चों के लिए किसी भी प्रकार के हेयर जेल या शैंपू का उपयोग न करें।ये चीजें आपके बच्चे के सिर की त्वचा को प्रभावित कर सकती हैं और उनमें रूसी जैसी अन्य समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं।

8. शैंपू का नियमित उपयोग करें

नियमित रूप से शैंपू का उपयोग करने से बच्चों के सिर की त्वचा साफ रहती है और उससे धूल व अन्य कीटाणु भी दूर रखने में मदद मिलती है। बच्चों में रूसी होने का मुख्य कारण धूल है और नियमित शैंपू से यह समस्या भी खत्म हो जाती है, किन्तु ध्यान रखें बच्चों के बालों में रोजाना शैंपू न करें।

शैंपू का नियमित उपयोग करें 

बच्चों में रूसी के घरेलू उपचार

ऊपर आपने बच्चों को होने वाली रूसी से बचाव के लिए अनेक उपायों को पढ़ा। आइए अब बच्चों की रूसी खत्म करने के लिए घरेलू उपचारों को भी जानें।

1. बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा एक स्क्रब के रूप में कार्य करता है, जो सिर पर जमी मृत त्वचा की पपड़ी को हटाने में मदद करता है। शैंपू में थोड़ा सा बेकिंग सोडा मिलाएं और इसे बच्चे के सिर पर लगाकर अच्छी तरह से धो लें।

2. टी ट्री ऑयल

टी-ट्री ऑयल में एंटी-फंगल गुण मौजूद होते हैं, जो सिर की रूखी त्वचा को मुलायम बनाने में मदद करते हैं । बादाम के तेल या ऑलिव ऑयल में ट्री ऑयल की कुछ बूंदें डालें और इसे अच्छी तरह से मिलाएं। फिर रुई की मदद से मिश्रित तेल को अपने बच्चे के सिर की त्वचा पर लगाएं और लगभग 1/2 घंटे तक ऐसे ही लगा रहने दें। अंत में बालों को अच्छी तरह से धो लें, यह तेल निश्चित ही आपके बच्चे को रूसी से मुक्त करने में मदद करेगा।

3. दही

दही सिर को नम और मुलायम बनाए रखने में मदद करता है। दही को फेंट कर सिर की त्वचा पर लगाएं और लगभग 1/2 घंटे बाद बालों को धो लें।

4. नींबू

नींबू में विटामिन ‘सी’ होता है जो रूसी जैसी सिर की समस्याओं के इलाज में मदद करता है। एक रुई के फाहे को नींबू के रस में भिगोएं और सिर की त्वचा में लगाकर लगभग आधे घंटे तक ऐसे ही रखें और फिर बाल धो लें। यह आपके बच्चे के सिर की मृत त्वचा को साफ करने में मदद करता है।

5. नीम

नीम रूसी को खत्म करने के लिए अत्यधिक प्रभावी है। आप नीम के रस को नारियल के तेल में मिलाकर बालों में लगाएं और फिर शैंपू कर लें। यह आपके बच्चे के सिर से रूसी और अन्य समस्याओं को भी खत्म करने में सक्षम है।

6. मेथी के बीज

मेथी के बीज में एंटी-फंगल और सिर को राहत पहुँचाने वाले गुण होते हैं। मेथी के बीज पीस लें और इसमें दही मिलाकर पेस्ट बनाएं। इसे शैंपू करने से पहले अपने बच्चे के सिर पर लगाएं। इससे आपके बच्चे को रूसी से निजात पाने में मदद मिलती है।

7. एलोवेरा का रस

एलोवेरा ठंडक के लिए जाना जाता है और इसके एंटी-फंगल गुण आपके बच्चे के सिर में जमी मृत त्वचा की परत को निकालने में मदद करते हैं । इस्तेमाल करने के लिए बस एक एलोवेरा की पत्ती लें और शैंपू करने से पहले सिर में लगा लें।

8. अंडे

अंडे का उपयोग करने से भी सिर में नमी रहती है। इसे लगाने के लिए बस एक अंडे को अच्छी तरह से फेंट कर बालों में शैंपू करने से पहले लगाएं।

9. एप्प्ल साइडर विनेगर

एप्प्ल साइडर विनेगर से सिर में बालों के छिद्रों को साफ होने में मदद मिलती है। एप्पल साइडर का उपयोग करने के लिए इसे बराबर मात्रा में पानी में मिलाएं और शैंपू करने से पहले अपने बच्चे के सिर पर लगाएं।

10. नारियल का तेल

नारियल में एंटी-फंगल गुण होते हैं और यह सिर को मॉइस्चराइज रखने में मदद करता है। अपने बच्चे के सिर को शैंपू करने के थोड़ी देर पहले नारियल का तेल लगाएं और फिर उसके बाल धो लें। इससे आपके बच्चे के बालों को रूसी से मुक्त होने में मदद मिलती है।

11. सफेद सिरका

सफेद सिरका रूसी की समस्या के लिए सर्वश्रेष्ठ उपायों में से एक है। यह फंगस को बढ़ने से रोकता है और खुजली से राहत प्रदान करने में भी मदद करता है। अपने बच्चे के बालों में शैंपू करने से पहले थोड़े से पानी में सफेद सिरका मिलाकर लगाएं ।

12. लहसुन

लहसुन की दुर्गंध को नजरअंदाज करते हुए शैंपू से पहले आप अपने बच्चे के सिर में पिसा हुआ लहसुन लगाएं। लहसुन में मौजूद एंटी-फंगल गुण आपके बच्चे के सिर की रूखी त्वचा और मृत त्वचा को साफ करने में मदद करता है।

13. बटर

हाथ में थोड़ा सा बटर लें और उसे अपने बच्चे के सिर में लगाकर मालिश करें। सिर पर बटर को लगभग एक घंटे तक ऐसे ही लगा रहने दें और फिर इसे साफ पानी से धो लें। यह आपके बच्चे के सिर पर जमे डैंड्रफ को खत्म करने में मदद करता है।

14. आंवला

आंवले को सुखा कर पीस लें और इसके पेस्ट को अपने बच्चे के सिर पर लगाएं। यह पेस्ट बच्चे के सिर से रूसी को खत्म करने में मदद करता है।

डॉक्टर से कब मिलें

यदि आपके बच्चे के सिर पर रूसी और खुजली के कारण लाल रंग का पैच या रक्त के थक्के दिखते हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

आपके बच्चे में रूसी की समस्या को खत्म करने के लिए ऊपर दिए हुए सुझावों और उपचारों को अपनाएं, यह आपकी जरूर मदद करेंगे।