गंगा नदी पर निबंध (Essay On Ganga River In Hindi)

हिन्दू धर्म के अनुसार गंगा नदी भारत की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है, जिसके प्रमाण हमारे वेदों और पुराणों और धर्मग्रंथों में भी मिलता है। हम इसे गंगा माँ भी कहते हैं। ये भारत की सबसे लंबी नदी है और इसकी लंबाई 2525 किलोमीटर है। सदियों से इस नदी से लोगों की आस्था जुड़ी हुई है। गंगा नदी हिमालय से निकलकर सबसे पहले हरिद्वार जाती है। हरिद्वार पहुँचकर इस नदी में लाखों लोग स्नान करने आते हैं। लोगों का मानना है कि गंगा नदी में नहाने से मनुष्यों के सभी पाप धुल जाते हैं। इस नदी के किनारे हमेशा पूजा और आरती का आयोजन होता रहता है। इसके साथ ही इस नदी का प्रवाह लगातार 12 महीने बना रहता है। गंगा नदी हिमालय से निकलकर भारत के कई राज्यों में जाती है और बांग्लादेश से होकर बंगाल की खाड़ी में गिरती है। यदि आप इस इस विषय पर विस्तार से जानना चाहते हैं तो लेख पढ़ना जारी रखें।

गंगा नदी पर 10 लाइन (10 Lines On Ganga River In Hindi)

अगर आप कम शब्दों में गंगा नदी पर छोटा निबंध लिखना चाहते हैं या 10 लाइन के आसान वाक्य बनाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए गंगा नदी पर निबंध लेख जरूर पढ़ें।

  1. गंगा भारत की राष्ट्रीय और सबसे पवित्र नदी है।
  2. गंगा नदी गंगोत्री से निकलती है और घूमकर बंगाल की खाड़ी में मिल जाती है।
  3. ये भारत की सबसे बड़ी नदी है और इसकी लम्बाई 2525 किलोमीटर है।
  4. हमारे ग्रंथों और पुराणों में गंगा नदी की पवित्रता का वर्णन किया गया है।
  5. गंगा नदी को भागीरथी के नाम से भी जाना जाता है।
  6. हिन्दू धर्म में गंगा नदी को माँ का दर्जा दिया गया है।
  7. गंगा नदी की वजह से कई प्रमुख शहरों में पानी की पूर्ति होती है।
  8. इस नदी के तट पर कई धार्मिक स्थल, मंदिर और शहर बने हुए हैं।
  9. ये नदी भारत, नेपाल और बांग्लादेश से होते हुए जाती है।
  10. साल 2008 में गंगा नदी को राष्ट्रीय नदी घोषित किया गया था।

गंगा नदी पर निबंध 200-300 शब्दों में (Short Essay on Ganga River in Hindi 200-300 Words)

यदि आपके बच्चे को स्कूल की प्रतियोगिता में गंगा नदी पर निबंध लिखने के लिए आता है, तो वह हमारे द्वारा लिखे इस शॉर्ट एस्से की सहायता ले सकते हैं।

गंगा नदी दुनिया की सबसे प्रसिद्ध नदियों में से एक है। यह भारत की राष्ट्रीय और सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। जो गंगा नदी गंगोत्री से निकलकर बंगाल की खाड़ी में मिलती है। लोग विदेशों से केवल गंगा माँ का दर्शन करने आते हैं, ताकि गंगा नदी में स्नान कर सकें। कहा जाता है कि गंगा नदी में स्नान करने से हमारे पाप धुल जाते हैं, जैसे हमारा नया जन्म हुआ हो। इस नदी का वर्णन पुरानी हिन्दू कथाओं में भी किया गया है। जहाँ गंगा नदी को माँ का दर्जा दिया गया है। गंगा नदी हिमालय के गंगोत्री से निकलती है और इसमें यमुना नदी सहित कई अन्य नदियां समाती हैं। यह हिमालय से अपनी यात्रा शुरू करते हुए सीधे बंगाल की खाड़ी में गिरती है। ये नदी भारत के कई हिस्सों से गुजरती है, इसलिए ये यह अरबों लोगों को रोजी-रोटी प्रदान करती है। ये नदी कृषि के कामों, मछली पकड़ने और पर्यटन उद्योग को बड़े पैमाने पर मदद करती है। लेकिन अब गंगा माँ प्रदूषित होती जा रही है और इसी वजह से कई सफाई अभियान चलाए जा रहे हैं और ‘नमामि गंगे’ जैसे कार्यक्रम की शुरुआत की गई और इसे साफ करने में सफलता भी मिली है।

गंगा नदी पर निबंध 400-500 शब्दों में (Essay on Ganga River in 400-500 Words)

आपके बच्चे के हिन्दू धर्म की लोकप्रिय और पवित्र नदी पर एक हिंदी निबंध लिखना है और वो भी 400 से 500 की शब्द सीमा में तो यहां आपको गंगा नदी पर हिंदी में लॉन्ग एस्से दिया गया है, जिसे पढ़कर आप एक अच्छा निबंध खुद भी लिख सकते हैं।

गंगा नदी की उत्पत्ति कहां से हुई? (From Where The Ganga River Originates?)

गंगा नदी का उद्गम भागीरथी व अलकनंदा नदी मिलकर करती है। जो गढ़वाल में हिमालय के गौमुख नामक स्थान पर गंगोत्री हिमनद या ग्लेशियर से निकलती हैं।ये नदी हिमालय पर्वत से निकलते हुए उत्तरी भारत और बांग्लादेश में बंगाल की खाड़ी में बहती है। गंगा नदी हिमालय के गंगोत्री ग्लेशियर में शुरू होती है। ये ग्लेशियर 12,769 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। गंगा नदी भारत और बांग्लादेश के देशों से होकर बहती है। साथ ही बंगाल क्षेत्र में इसका बड़ा डेल्टा, जो ब्रह्मपुत्र नदी का हिस्सा है वह ज्यादातर बांग्लादेश में स्थित है। गंगा नदी भारत के उपमहादेशों की महत्वपूर्ण नदियों में से एक है जो पूर्व से उत्तरी भारत के गंगा के मैदान से होकर बांग्लादेश में बहती है। यह नदी भारत के उत्तराखंड राज्य में पश्चिमी हिमालय में लगभग 2,510 किमी की दूरी पर है और बंगाल की खाड़ी में सुंदरबन डेल्टा में गिरती है।

गंगा नदी का धार्मिक महत्व (Religious Importance of Ganga River)

गंगा नदी को सबसे पवित्र और प्रसिद्ध नदी माना जाता है। वहीं धार्मिक कार्यों में इस नदी को बाकी नदियों से सबसे ऊपर माना जाता है। इस नदी की पवित्रता के कारण हजारों सालों से लोगों के आर्थिक, सामाजिक और धार्मिक जीवन में इसकी अहम भूमिका रही है। हिंदू धर्म के अनुसार इस नदी को देवी का रूप माना जाता है। प्राचीन ग्रंथों के अनुसार राजा भगीरथ के पूर्वज बहुत बड़े पाप करने वाले थे। अपने राज्य को अपने बुरे कर्मों से मुक्त करने के लिए, उन्होंने देवी गंगा को जीवन में लाने के लिए ध्यान किया। ऐसा कहा जाता था कि इसमें स्नान करने से लोगों के पाप धुल जाते हैं और उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है। लेकिन गंगा नदी की भयंकर शक्ति धरती को नष्ट कर सकती थी, इसलिए भगवान शिव ने गंगा नदी को अपनी जटाओं में धारण किया और उसमें से धाराओं के रूप में बहने लगी। मान्यता के अनुसार देवी गंगा लोगों को जीवन और मृत्यु के चक्र से मुक्त करने के लिए जानी जाती हैं, इसलिए लोग अपने प्रियजनों की राख को इस पवित्र नदी में विसर्जित करते हैं।

गंगा नदी और प्रदूषण का बढ़ना – एक गंभीर मुद्दा (Ganga River And Pollution – A Serious Issue)

प्रतिदिन गंगा नदी में प्रदूषण बढ़ता जा रहा है और ये एक गंभीर समस्या बन चुकी है। प्रदूषित गंगा नदी हमारे पर्यावरण पर बुरा असर डाल रही है। गंगा नदी के प्रदूषित होने के पीछे वैसे तो कई कारण हैं और उनमें से कुछ मुख्य कारण है – कारखानों से निकलने वाला कूड़ा, गन्दा पानी और पशुओं की गंदगी आदि। इसमें दिन पर दिन बढ़ रही जनसंख्या भी एक कारण है। इतना ही नहीं नदी के किनारे बसे लोग प्रदूषित गंगा के पानी की वजह से कई सारी गंभीर बिमारियों एक शिकार बन रहे हैं।

गंगा नदी का सफाई अभियान (Ganga River Cleaning Campaign)

प्रदूषित गंगा को साफ करने के लिए भारत द्वारा नमामि गंगे कार्यक्रम और राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) जैसी योजनाओं की पहल की गई है। ये कार्यक्रम बायोडायवर्सिटी, वनीकरण और जल गुणवत्ता की निगरानी करते हैं। भारत सरकार कई राज्यों को पैसों की मदद देकर नदी के प्रदूषण को कम करने वाले प्रयासों में सहायता कर रही है। नमामि गंगे कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य गंगा को साफ करना है।

गंगा नदी के बारे में रोचक तथ्य (Interesting Facts about Ganga River in Hindi)

  1. गंगा के किनारे सैकड़ों घाट हैं, जिनकी सीढ़ियों की मदद से नदी तक पहुंचा जाता है।
  2. भारत का प्रसिद्ध कुंभ मेला 12 साल में एक बार गंगा नदी के तट पर आयोजित किया जाता है।
  3. वाराणसी, प्रयागराज और कोलकाता जैसे बड़े शहर गंगा नदी के तट पर स्थित हैं।
  4. पौराणिक कथाओं में गंगा को देवी का रूप माना जाता है।
  5. गंगा दुनिया की सबसे पवित्र नदी है।
  6. ऐसा माना जाता है कि गंगा नदी में डुबकी लगाने से उद्धार हो जाता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

1. गंगा नदी यमुना में कहां मिलती है?

गंगा नदी प्रयागराज में यमुना नदी और सरस्वती नदी से मिलती है। जिस स्थान पर ये मिलते हैं उसे त्रिवेणी संगम कहा जाता है।

2. गंगा नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी कौन सी है?

गंगा की सबसे बड़ी सहायक नदी घाघरा नदी है।

3. गंगा नदी को भारत की राष्ट्रीय नदी कब घोषित किया गया?

4 नवंबर 2008 को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गंगा को भारत की राष्ट्रीय नदी घोषित किया था।

गंगा नदी के इस निबंध से हमें क्या सीख मिलती है? (What Will Your Child Learn from a Ganga River Essay?)

आपके बच्चे को स्कूल में गंगा नदी पर निबंध लिखने का कार्य मिला है, तो वह इस निबंध की मदद ले सकता है और साथ इस निबंध से उसे कुछ सीखने को भी मिलेगा। इसे पढ़ने के बाद आपके बच्चे को नदी से जुड़ी भारत की संस्कृति और अर्थव्यवस्था समझ में आएगी। साथ ही वो एक बेहतर निबंध लिखना भी सीखेगा और अपने लेखन को बेहतर कर सकेगा।

समर नक़वी

Recent Posts

मुल्ला नसरुद्दीन की कहानी – खुशबू की कीमत | Mulla Nasruddin And Price of Fragrance Story In Hindi

मुल्ला नसीरुद्दीन और खुशबू की कीमत की यह कहानी चतुराई और बुद्धिमत्ता से भरी हुई…

5 days ago

तीन बैल और शेर की कहानी | The Lion And Three Bulls Story In Hindi

तीन बैल और शेर की इस कहानी में ये बताया गया है कि कैसे तीन…

5 days ago

कुएं के पानी की कहानी | Water In The Well Story In Hindi

कुएं का पानी, ये कहानी बेहद मनोरंजक है और बहुत कुछ सिखाती है। ये कहानी…

5 days ago

अकबर-बीरबल की कहानी: सारी दुनिया बेईमान | Akbar And Birbal Story: The World Is Dishonest Story In Hindi

अकबर और बीरबल की कहानियां हमेशा से मनोरंजक और सीख देने वाली रही हैं। उनकी…

1 week ago

अकबर-बीरबल की कहानी: जोरू का गुलाम | Akbar And Birbal Story: Wife’s Slave In Hindi

अकबर और बीरबल की जोरू के गुलाम वाली कहानी में पुरुष के मन में अपनी…

1 week ago

पंचतंत्र की कहानी: खरगोश और चूहा | Panchatantra Story: Rabbit And Rat In Hindi

खरगोश और चूहे की यह कहानी बच्चों को यह बताती है कि हमें कभी भी…

1 week ago