फलों का राजा आम पर निबंध (Mango Essay in Hindi)

गर्मी के मौसम अपने साथ कई तरह की खुशियां और उल्लास लेकर आती है। गर्मी के दिनों में कई तरह के नए-नए फल और सब्जियां बाजारों में आते हैं जो किसी अन्य मौसम में नहीं मिलते। फलों में से आम जो ज्यादातर लोगों का पसंदीदा फल है इसी मौसम में मिलता है। आम एक स्वादिष्ट फल है जो कच्चे और पक्के दोनों रूपों में खाया जाता है। बच्चों को कच्चे आमों की कैरी बहुत पसंद होती है और वे इसे बड़े चटकारे लेकर खाते हैं। पके हुए आमों के रंग लाल पीले होते हैं जो खाने में बहुत मीठे और रसीले होते हैं। घरों में तो कच्चे आमों का अचार भी लगाया जाता है ताकि सालों भर इसे खाया जा सके। बाजार में आमों की कई प्रजातियां मिलती है, जैसे कि लंगड़ा, हापुस, मालदा, दशहरी इत्यादि। यह लगभग सभी जगहों में उगाया जाता है और जगह के अनुसार इनकी प्रजातियां अलग अलग होती हैं। आज हम इसी के बारे में विस्तार से जानेंगे। ताकि आपको आम के बारे में पैराग्राफ या फिर निबंध लिखने में सहायता मिल सकें। आम के बारे में विस्तार से जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अवश्य पढ़ें।

आम पर 10 लाइन (10 lines on Mango in Hindi)

आम एक ऐसा फल है जो बच्चे हो या बूढ़े सभी को बहुत पसंद आता है। पसंदीदा फल है तो ऐसे में इसके बारे में लिखना आसान हो सकता है। चलिए इसी के बारे में हम आपको आम पर 10 लाइन बताते हैं ताकि आप अपने निबंध को आकर्षक बना सकें।

  1. आम एक मौसमी फल है जिसे फलों का राजा कहा जाता है।
  2. यह खाने में बहुत मीठा और स्वादिष्ट लगता है।
  3. यह फल गर्मियों के मौसम में मिलता है।
  4. यह हरा, पीला और लाल रंग का होता है।
  5. आम की कई सारी प्रजातियां होती हैं।
  6. सामान्य तौर पर बाजारों में लंगड़ा, दशहरी, गुलाबखास आदि प्रजातियां मिलती हैं।
  7. कच्चे आमों के आचार भी बनाएं जाते हैं।
  8. आम का पेड़ विशाल और घना होता है।
  9. पके हुए आम को कई तरह से खाया जाता है जैसे कि आमरस, केक या आइसक्रीम बनाकर इत्यादि।
  10. स्वाद में स्वादिष्ट होने के कारण यह फल सभी उम्र के लोगों का पसंदीदा फल होता है।

आम पर छोटा निबंध 200-300 शब्दों में (Short Essay on Mango in Hindi 200-300 Words)

सभी फलों में से आम सबसे स्वादिष्ट फल है और पूरे भारत में लगभग सभी जगहों पर उगाया जाता है। सामान्य तौर पर आम के बारे में सभी को पता होता है कि यह कब मिलते हैं, कितने तरह के होते हैं, आदि। लेकिन क्या आप आम पर छोटा निबंध 200-300 शब्दों में लिखना चाहते हैं तो आपको हमारा यह लेख अवश्य पढ़ना चाहिए। इसमें हमने आम पर छोटा निबंध अपने शब्दों में बताया है, इसे जरूर पढ़ें।

आम पूरे विश्व का एक सुप्रसिद्ध फल है जो ज्यादातर गर्मियों के मौसम में मिलता है। बहुत बच्चों को तो इस मौसम का इंतजार ही बहुत बेशब्री से होता है क्योंकि इस समय ही बच्चों को मीठे मीठे आम खाने को मिलते हैं। आम एक गुदेदार फल होता है जो सभी उम्र के लोगों के खाने योग्य होता है। इसकी खेती उत्तर पूर्वी भारत में 6000 साल पूर्व शुरू की गई थी। तब से भारत में आम की खेती की जा रही है। यह मुख्य रूप से मार्च से अगस्त तक बाजार में मिलते हैं।

आम भारत का राष्ट्रीय फल है और साथ ही इसे फलों का राजा भी कहा जाता है। यह स्वाद में मीठा और खट्टा दोनों हो सकता है। यह मुख्य रूप से हरे, पीले और लाल रंग का होता है। आम में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, खनिज इत्यादि पाए जाते हैं जो हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। कच्चे आमों में विटामिन सी मौजूद होते हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। कच्चे आमों का उपयोग कई तरीकों से किया जाता है। कच्चे आमों से आम पन्ना, आचार, कैरी, सलाद, आमचूर आदि बनाए जाते हैं। पके आम के जूस, आइसक्रीम आदि बनाए जाते हैं। भारत में आम की 100 से भी अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं। जिसमें सबसे प्रसिद्ध हापुस, लंगड़ा, तोतापूरी, केसर, गुलाबखास इत्यादि प्रमुख हैं। आम से महिलाएं कई तरह के व्यंजन बनाती हैं। आम के पत्तों का उपयोग पूजा पाठ में भी किया जाता है। आम की खुशबू इतनी मनमोहक होती है कि कोई भी इसकी और खींचा चला आता है।

आम पर निबंध 400-500 शब्दों में (Essay on Mango in Hindi 400-500 Words)

किसी विषय पर अपने शब्दों में निबंध लिखना रोचक काम है। लेकिन एक आकर्षक निबंध तैयार करने के लिए हमारी भाषा में पकड़ होनी जरूरी है। आज का विषय आम के बारे में है। जिसमें हम आम पर निबंध 400-500 शब्दों में लिखना बताएंगे। यह विषय देखने में तो आसान लगता है लेकिन 500 शब्दों में इसे बयां कर पाना थोड़ा मुश्किल है। इस निबंध से क्लास 3 और उससे ऊपर की कक्षाओं के बच्चों के लिए काफी मदद मिलेगी।

भूमिका (Introduction)

विश्वरभर में लगभग सभी जगह आम की खेती की जाती है। पूरे विश्व में आम की लगभग 2000 प्रजातियां पाई जाती हैं। जिसमें भारत में ही केवल 1500 प्रजातियां विद्धमान है। आम के उत्पादन के मामले में भारत का स्थान सबसे पहला है। आम भारत में गर्मी की ऋतु में मिलता है। बाजारों में आम मौसम आने के पहले ही मिलना शुरू हो जाते हैं। कच्चे आम बच्चों को खासकर लड़कियों को काफी पसंद होते हैं। आम को भारत का राष्ट्रीय फल भी कहा जाता है। काफी स्वादिष्ट और गुदेदार होने के कारण इस फल को बच्चे, बूढ़े सभी खाना पसंद करते हैं।

आम: एक पौष्टिक फल (Mango: A Nutritious fruit)

आम एक गुणकारी फल फल है। ये तो आप सभी ने सुना होगा। आम एक लजीज फल होने के साथ साथ गुणी फल भी है। आम विटामिन ए और विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत होता है जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। आम में केरोटीन होता है जो आंखों की रोशनी में सुधार करता है। इसमें मौजूद इमायलेज खाने को तोड़ने में मदद करता है। इसलिए इस फल को खाना खाने के बाद खाया जाता है। इस फल में मिनरल्स जैसे पोटेशियम, आयरन, इत्यादि भी पाए जाते हैं। यह हमारे शरीर में मिनरल्स की पूर्ति करते हैं।

आम के विभिन्न प्रकार (Different Types Of Mango)

ऐसे तो जिन्हें जानकारी नहीं होती उन्हें सभी आम एक से लगते हैं। लेकिन आम की बहुत सारी प्रजातियां होती है जिनके नाम क्षेत्र के अनुसार अलग होते हैं। भारत में आम की कुछ ऐसी प्रजातियां हैं जो सामान्यतः सभी जगहों में मिलती हैं और वो कुछ इस प्रकार है:

  • तोतापुरी आम: तोते के आकार जैसा होने के कारण इस आम को तोतापुरी आम के नाम से जाना जाता है। आम की यह प्रजाति मुख्य रूप से तेलंगाना, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश में उपजाए जाते हैं।
  • अल्फांसो: इसे हापुस के नाम से भी जाना जाता है जो भारत के महाराष्ट्र, कर्नाटक और गुजरात में पाया जाता है। रत्नागिरी और देवगढ़ के हापुस आम दुनिया भर में लोकप्रिय है।
  • हिमसागर आम: इस प्रजाति के आम का वजन लगभग 250 से 300 ग्राम तक होता है। इसके प्रमुख उत्पादक राज्य बंगाल और उड़ीसा है। इसे कई जगह मालदा आम भी कहते है।
  • लंगड़ा आम: आम की यह प्रजाति केवल उत्तर प्रदेश में उगाई जाती है। इसका आकार अंडाकार होता है और पकने के बाद भी इसके रंग में कोई परिवर्तन नहीं आता है, हरा ही दिखता है।
  • रसपुरी आम: कर्नाटक के मैसूर शहर में पाया जाने वाला यह आम अन्य आमों की तुलना में ज्यादा गुदेदार होता है। इसका इस्तेमाल जैम आदि बनाने में किया जाता है।

फलों का राजा: आम (King Of Fruits: Mango)

रस से भरे इस फल को फलों का राजा भी कहा जाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं। लेकिन इसका मुख्य कारण यह है कि इस फल में जो पोषक तत्वों की उपलब्धता होती है वो अन्य किसी फलों में नहीं होती है। आम विटामिन्स, मिनरल्स, कार्बोहाइड्रेट, आयरन से भरपूर होते हैं जो सेहत के लिए गुणवर्धक होते हैं और इस फल को खाने के लिए बच्चे हर समय तैयार रहते हैं जो उनकी सेहत के लिए काफी अच्छा होता है। आम को कई तरह से खाया जा सकता है। जैसे कि जूस, जैम, चटनी, आचार, इत्यादि।

निष्कर्ष (Conclusion)

निष्कर्ष के रूप में आकलन किया जाए तो यह फल हमारे लिए काफी गुणकारी फल है। फल के साथ ही इसके पेड़ भी कई तरह के गुणों से भरपूर हैं। इसकी पत्तियों का उपयोग धार्मिक कार्यों में किया जाता है। आम के पेड़ से भी लोगों की धार्मिक आस्था जुड़ी हुई है। इस प्रकार कहा जा सकता है कि आम एक सर्वप्रिय फल है जिसे खाने को मन हर समय ललायित रहता है।

आम के बारे में रोचक तथ्य (Interesting Facts About Mango)

आम कच्चे हों या पके हुए, इसे हम सभी रूपों में खाते हैं और साथ ही इसके फायदे भी अलग अलग होते हैं। आम के बारे में कुछ चीजें ऐसी हैं जो आपको काफी रोचक लग सकती है, तो चलिए आपको उन खास बातों के बारे में बताते हैं।

  1. भारत के अलावा आम पाकिस्तान और फिलिपींस का भी राष्ट्रीय फल है।
  2. आम के वृक्ष और पत्तियों से कई तरह की औषधि बनाई जाती है।
  3. बांग्लादेश का राष्ट्रीय वृक्ष आम का वृक्ष है।
  4. आम का पेड़ कितना भी पुराना हो जाए लेकिन इसमें प्रतिवर्ष फल लगते ही रहते हैं।
  5. पहले दक्षिण भारत में आम को मांगा आमकाय कहा जाता था। 1498 में पुर्तगालियों ने इसे मांगो यानी आम का नाम दिया। यहाँ से मैंगो का नाम आया।

आम के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

आम के बारे में कुछ ऐसे प्रश्न जिसका उत्तर आमतौर पर सभी को जानना चाहिए। तो आइए ऐसे कुछ सवाल और उसके जवाब आपको बताते हैं।

1. आम का वैज्ञानिक नाम क्या है?

आम का वैज्ञानिक नाम मैंगीफेरा इंडिका है।

2. आम का प्रमुख उत्पादक देश कौन है?

आम का प्रमुख उत्पादक देश भारत है।

3. आम की सबसे उच्च प्रजाति कौन सी है?

आम की सबसे उच्च प्रजाति हापुस यानी एल्फ़ोंसो आम है।

4. आम को फलों का राजा क्यों कहा जाता है?

आम को फलों का राजा उसके पौष्टिक गुणों के कारण कहा जाता है।

5. आम किस देश का राष्ट्रीय फल है?

आम भारत का राष्ट्रीय फल है।

इस निबंध से बच्चों को क्या सीख मिलती है? (What Will Your Children Learn From This Essay?)

इस निबंध से बच्चों को आम के बारे में कुछ जरूरी जानकारी दी गई है, जो आमतौर पर सभी को नहीं पता होती है। जैसे की आम में क्या क्या पाए जाते हैं, आम खाने के क्या फायदे हैं, इसे फलों का राजा क्यों कहा जाता है, इत्यादि। साथ ही बच्चे इससे जुड़ी कुछ सामान्य जानकारी जान सकते हैं। ऐसे तो मूल रूप से बच्चों को आम की प्रजातियों के बारे में जानकारी नहीं होती है लेकिन इस लेख से बच्चों को आम की विभिन्न किस्मों के बारे में पता चलता है।

पायल कश्यप

Recent Posts

मुल्ला नसरुद्दीन की कहानी – खुशबू की कीमत | Mulla Nasruddin And Price of Fragrance Story In Hindi

मुल्ला नसीरुद्दीन और खुशबू की कीमत की यह कहानी चतुराई और बुद्धिमत्ता से भरी हुई…

4 days ago

तीन बैल और शेर की कहानी | The Lion And Three Bulls Story In Hindi

तीन बैल और शेर की इस कहानी में ये बताया गया है कि कैसे तीन…

4 days ago

कुएं के पानी की कहानी | Water In The Well Story In Hindi

कुएं का पानी, ये कहानी बेहद मनोरंजक है और बहुत कुछ सिखाती है। ये कहानी…

4 days ago

अकबर-बीरबल की कहानी: सारी दुनिया बेईमान | Akbar And Birbal Story: The World Is Dishonest Story In Hindi

अकबर और बीरबल की कहानियां हमेशा से मनोरंजक और सीख देने वाली रही हैं। उनकी…

1 week ago

अकबर-बीरबल की कहानी: जोरू का गुलाम | Akbar And Birbal Story: Wife’s Slave In Hindi

अकबर और बीरबल की जोरू के गुलाम वाली कहानी में पुरुष के मन में अपनी…

1 week ago

पंचतंत्र की कहानी: खरगोश और चूहा | Panchatantra Story: Rabbit And Rat In Hindi

खरगोश और चूहे की यह कहानी बच्चों को यह बताती है कि हमें कभी भी…

1 week ago