गर्भनिरोधक के इस्तेमाल के बाद गर्भवती होने की संभावना

Woman holding birth control pills

Last Updated On

अनियोजित गर्भधारण को रोकने के लिए गर्भनिरोधक गोलियाँ लेना सबसे लोकप्रिय और बेहद प्रभावी तरीका है। अगर गर्भनिरोधक गोलियाँ, सलाह के हिसाब से सही तरीके से ली जाएं, तो ये गर्भावस्था को रोकने में 99 प्रतिशत तक सफल रहती हैं। इसका मतलब है कि उन्हें प्रतिदिन बिना भूले एक ही समय पर लेना। हालांकि, यदि आप एक खुराक लेना भूल जाती हैं, तो गर्भवती होने की संभावना 1000 में से 1 से लेकर 20 में से 1 तक बढ़ जाती है।

क्या आप गर्भनिरोधक के इस्तेमाल के बाद भी गर्भवती हो सकती हैं?

गर्भनिरोधक गोलियाँ लेते हुए भी गर्भवती होना संभव है। अगर डॉक्टर द्वारा बताए गए तरीके से ही इसे लिया जाए तो यह गर्भावस्था को रोकने में बहुत प्रभावी है। आप गोली कैसे लेती हैं यह इस बात पर निर्भर करता है कि यह किस प्रकार की गोली है।

गर्भनिरोधक गोलियाँ दो प्रकार की होती हैं: संयुक्त गोली (कंबाइंड पिल) और मिनी गोली (प्रोजेस्टेरोनओनली पिल या पी..पी )

संयुक्त गर्भनिरोधक गोलियाँ 21 दिनों के लिए ली जाती हैं और फिर 7 दिनों के लिए बंद कर दी जाती हैं । इन 7 दिनों में आपको मासिक धर्म शुरू हो जाएगा। यह गोली सही क्रम में प्रतिदिन लगभग उसी समय पर ली जानी चाहिए। अगर आप एक दिन गोली लेना भूल जाती हैं, तो आप अगले 24 घंटों में इसे ले सकती हैं, और फिर भी गर्भावस्था से बचाव हो सकता है। इसका असर सिर्फ तभी कम होता है जब आप दो या दो से ज्यादा गोलियाँ लेना भूल जाती हैं।

प्रोजेस्टेरोनओनली गोली को पैक पर बताए निर्देशों के अनुसार ही लिया जाना चाहिए। उन्हें प्रतिदिन बिना भूले उसी समय के 3 घंटों के भीतर ले लेना चाहिए। यदि आप गोली लेना भूल जाती हैं, तो आप गर्भावस्था से सुरक्षित नहीं रह पाएंगी।

गर्भनिरोधक की प्रभावशीलता को क्या प्रभावित करता है?

निम्नलिखित कारण हैं जो गर्भनिरोधक गोलियों की प्रभावशीलता को कम कर सकते हैं:

1. प्रतिदिन एक ही समय पर गर्भनिरोधक न लेना

गर्भनिरोधक गोलियों में कम मात्रा में एस्ट्रोजनऔर प्रोजेस्टिन जैसे हार्मोन होते हैं, जो गर्भावस्था को रोकने के लिए एक साथ काम करते हैं। इसके प्रभावी होने के लिए गोलियों को प्रतिदिन एक ही समय पर लेना चाहिए। एक भी खुराक छूटने से गोली बेअसर हो सकती है।

2. दवाइयाँ

कुछ दवाएं गर्भनिरोधक गोलियों को अवशोषित करने की शरीर की क्षमता को प्रभावित करती हैं। इनमें प्रतिजैविकी, तंत्रिका सम्बन्धी दवा, आयुर्वेदिक अनुपूरक और अवसादरोधक दवाएं शामिल हैं।

3. उल्टी और दस्त

यदि गर्भनिरोधक गोली लेने के 2 घंटे के अंदर आपको उल्टी होती है तो उसे गोली ना लेना ही समझना चाहिए और आपको एक और गोली लेनी चाहिए। यदि आप ऐसा नहीं करती हैं, तो आप गर्भवती हो सकती हैं। इसी तरह यदि आपको 24 घंटे तक डायरिया या पतले दस्त होते हैं तो गोली अवशोषित नहीं होती है और गर्भनिरोधक अप्रभावी हो जाता है।

4. गर्मी और धूप में रखना

यदि आप गर्मी और सीधे सूर्य के प्रकाश में अपनी गर्भनिरोधक गोलियाँ छोड़ देती हैं तो गोलियाँ नष्ट होने लगती हैं और इनका असर खत्म हो जाता है। इन्हें सूर्य की रोशनी से दूर और 25 डिग्री तापमान से कम वाली जगह पर रखें।

5. खुराक भूलना

गोली की एक खुराक भूलने से गर्भधारण को रोकने की क्षमता कम हो जाती है। यदि आप दो से ज्यादा गोलियाँ लेना भूल जाती हैं, तो आपको गर्भनिरोधक के दूसरे उपाय जैसे कि शुक्राणुनाशक या कंडोम का उपयोग करना चाहिए और अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

6. शराब

शराब का चयापचय यकृत द्वारा होता है । जो कुछ भी यकृत को प्रभावित करता है वह गोली को शरीर द्वारा अवशोषित करने के तरीके को बदल सकता है। आप शराब का जितना अधिक सेवन करती हैं, गर्भनिरोधक गोली उतनी ही कम प्रभावी होगी।

गर्भनिरोधक की विफलता को रोकने के लिए सुझाव

गर्भनिरोधक की विफलता को रोकने के लिए यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं

  • बिना भूले प्रतिदिन एक निर्धारित समय पर गोलियाँ लें: इस गतिविधि को किसी ऐसी चीज के साथ संयुक्त करें जो आप प्रतिदिन एक ही समय पर करती हैं, जैसे कि अपने दाँत साफ करना या नाश्ता करना। इस तरह, आप इसे प्रतिदिन एक ही समय पर लेना नहीं भूलेंगी।

  • गर्भनिरोधक के अन्य उपायों का इस्तेमाल करें: यदि आप एक गोली भूलती हैं, तो जैसे ही आपको याद आता है वैसे ही गोली लें, परन्तु सुरक्षा के तौर पर शुक्राणुनाशक जैसे दूसरे गर्भनिरोधक का उपयोग करें। यदि आप 2 या अधिक बार गोली लेना भूल जाती हैं, तो अपने डॉक्टर से भूली हुई खुराक के लिए सलाह लें, और कम से कम एक सप्ताह के लिए प्रतिकृति गर्भनिरोधक का उपयोग करें।

  • यदि आपने अभी गोली लेना शुरू किया है तो क्या करें: यदि आपने अभी गर्भनिरोधक गोलियाँ लेना शुरू किया है, तो कई चिकित्सक गोलियाँ शुरू करने के एक सप्ताह से लेकर एक महीने तक अन्य गर्भनिरोधक का उपयोग करने की सलाह देते हैं।
  • प्रायोगिक गोलियाँ लें: गर्भनिरोधक गोलियों के पैक में 3 सप्ताह की सक्रिय गोलियाँ और 1 सप्ताह की प्रायोगिक या निष्क्रिय गोलियाँ होती हैं। यदि आप प्रायोगिक गोलियाँ नहीं लेती हैं, तो आप भूल सकती हैं और अगले पैक को शुरू करने में देरी हो‌ सकती है। इससे गोलियों का असर कम हो सकता है।

  • दवाओं को एक साथ मिलाएं नहीं: गोलियाँ लेते समय बिना नुस्खे की दवाओं और नुस्खे द्वारा निर्धारित दवाओं को एक साथ न लें। यदि आपको कोई और दवाई भी बताई गई है, तो अन्य गर्भनिरोधक इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से अवश्य सलाह लें कि आपको इसकी जरुरत है या नहीं। गोलियाँ लेते समय आयुर्वेदिक अनुपूरकों का उपयोग न करें। यह सब गर्भावस्था रोकने में गोलियों को प्रभावहीन बना सकता है।

गर्भनिरोधक उपाय अपनाने के के बावजूद आपके गर्भवती होने के संकेत हो सकते हैं

कभीकभी, चीजें गलत हो सकती हैं, और गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करने के बावजूद आप गर्भवती हो सकती हैं। यदि आपको लगता है कि आप गर्भवती हो गई हैं, तो घर पर गर्भावस्था जाँच करें और सुनिश्चित करने के लिए खून की जाँच से इसकी पुष्टि करें। गर्भनिरोधक इस्तेमाल करते समय गर्भावस्था के इन लक्षणों का ध्यान रखें :

1. स्तनों का संवेदनशील होना

स्तनों में सूजन और संवेदनशीलता गर्भावस्था के आरंभिक लक्षणों में से एक है जो हार्मोन में बदलावों के कारण होती है।

2. मॉर्निंग सिकनेस

मॉर्निंग सिकनेस गर्भावस्था का एक लक्षण है जिसमें मतली, उल्टी और थकान होती है।

3. विशिष्ट खाद्य पदार्थों के लिए विमुखता

यदि आपको अचानक कुछ विशेष खाद्य पदार्थों को खाने की प्रबल इच्छा हो या फिर कुछ विशेष खाद्य पदार्थों से विमुखता हो, तो यह संकेत हो सकता है कि आप गर्भवती हैं।

4. मासिक धर्म ना होना

अधिकाँश महिलाओं के लिए गर्भावस्था का पहला संकेत मासिक धर्म मे देरी या चूक है। हालांकि, कुछ महिलाओं में गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन के दौरान मासिक धर्म नहीं होता है। तो यह उनके लिए गर्भावस्था का अच्छा संकेत नहीं है।

गर्भनिरोधक लेते हुए यदि आप गर्भवती होंतो क्या करें?

गर्भनिरोधक गोलियों के इस्तेमाल के बाद गर्भवती होने की संभावना बेहद कम होती है। यदि आपको पता चलता है कि आप गर्भनिरोधक गोलियाँ लेने के दौरान गर्भवती हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। आपको तुरंत गर्भनिरोधक गोलियाँ लेना बंद कर देना चाहिए। यदि आप गर्भावस्था को बनाए रखने का निर्णय लेते हैं, तो आपको पोषक आहार खाना और तुरंत ही फोलेट अनुपूरक और प्रसवपूर्व विटामिन लेना शुरू करने चाहिए।

यदि आप अनियोजित गर्भावस्था को खत्म करने का फैसला लेते हैं, तो आपको तुरंत कार्यवाही करनी चाहिए, क्योंकि हो सकता है कि आप जिस शहर में रहते हैं वहाँ का कानून एक निश्चित समय के बाद आपको चिकित्सकीय गर्भपात न करने दे।

क्या गर्भनिरोधक आपके शिशु के लिए हानिकारक हो सकता है?

आप गर्भनिरोधक गोलियाँ लेने पर भी गर्भवती हो सकती हैं। शोध बताते हैं कि प्रारंभिक गर्भावस्था के दौरान गर्भनिरोधक गोलियाँ लेने और असामान्य मूत्रमार्ग, समय से पूर्व प्रसव, और जन्म के समय वजन कम होना, के बीच सम्बन्ध होता है। हालांकि, इसे सिद्ध नहीं किया जा सका है। फिर भी, गर्भावस्था की अनुभूति होने के तुरंत बाद गर्भनिरोधक गोलियाँ लेना बंद करना बहुत महत्वपूर्ण है।

यदि गर्भनिरोधक गोलियाँ सही तरीके से ली जाएं तो अनियोजित गर्भधारण को रोकने का यह एक अत्यधिक प्रभावी तरीका है। ये गोलियाँ मासिक धर्म के दौरान होने वाली दर्दनाक ऐंठन और मुँहासे जैसी अन्य स्थितियों के इलाज में भी मदद करती हैं। अगर इन्हें सही तरीके से नहीं लिया जाता, तो ये अप्रभावी हो जाती हैं। उन सभी कारणों की सही जानकारी रखना, जो गोलियों को अप्रभावी बनाते हैं, गर्भनिरोधक की विफलता रोकने में आपकी मदद कर सकते हैं।