गर्भावस्था के दौरान बच्चे का पैर मारना

प्रेगनेंसी के दौरान बच्चे का पैर मारना

Last Updated On

गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में आपको गर्भ में बच्चे के हिलने डुलने का शायद कोई अहसास न हो, लेकिन थोड़े समय बाद आपको कुछ ऐसे लक्षण नजर आने लगते हैं जो गर्भावस्था के संकेत हो सकते हैं जैसे मतली आना, मॉर्निंग सिकनेस आदि । हालांकि, जब आपका गर्भस्थ शिशु इतना बड़ा हो जाता है कि आप उसकी गतिविधियां महसूस कर सकें, तो यह आपको अपने गर्भवती होने का अधिक अहसास दिलाता है! यह चरण हर माँ बनने वाली महिला के लिए बहुत ही रोमांचक होता है।

गर्भावस्था दौरान होने वाली बाकी चीजों की तरह ही बच्चे का पेट में लात मारना भी एक आम लक्षण है । जब आपका शिशु बहुत छोटा होता है, तो आपके गर्भ में घूमने के लिए, उसे पर्याप्त जगह होती है। वह सक्रिय भी होता है लेकिन आपको इसका पता नहीं चल पाता। जैसे-जैसे वह बड़ा होता जाता है, गर्भ में जगह घिरती जाती है जिससे उसका स्वतंत्रता के साथ घूमना सीमित हो जाता है । इसके बावजूद, अपने शिशु से स्थिर रहने की उम्मीद न करें। आपको इस समय में भी उसकी बहुत सारी गतिविधियों के लिए खुद को तैयार करना होगा।

हालांकि हर शिशु अलग होता है इसलिए उसकी गतिविधि का स्तर भी अलग होता है, जो हर स्त्री की गर्भावस्था को विशिष्ट बनाता है। लेकिन कुछ ऐसे तथ्य भी हैं जिनका उपयोग करके आप यह जान सकती हैं कि आपके साथ जैसा हो रहा है क्या वैसा ही होना चाहिए । तो, आइए जानते हैं कि किन कारणों से गर्भावस्था के दौरान बच्चे पेट में लात मारते हैं।

बच्चे के पैर मारने को महसूस करने से जुड़े रोमांचक तथ्य

1. यह इशारा करता है कि बच्चा संकट में नहीं है

अपने बच्चे की लात को गर्भ में महसूस करने के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि ये इस बात का संकेत है की आपका बच्चा बिलकुल ठीक है और उसे किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है । हालांकि, जब बच्चा गर्भ में बड़ा होने लगता है, तो जगह की कमी के कारण उसकी हलचल धीमी होने लगती है।

2. इसके शुरू होने का कोई निश्चित समय नहीं होता

एक बार जब आपकी गर्भावस्था की पुष्टि हो जाती है और आप अपनी गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षणों को महसूस कर रही होती हैं, तो आपके दिमाग में यह आ सकता है कि गर्भावस्था के किस महीने में बच्चे का लात मारना शुरू होता है? हो सकता है आपके आसपास मौजूद लोग आपसे इस विषय में सवाल करना भी शुरू कर दें लेकिन इस बात को याद रखिए कि हर गर्भावस्था अलग होती है। आप अपने बच्चे की हलचल का अनुभव कब करेंगे इस बारे में कोई निश्चित नियम नहीं लागू होता है। कुछ महिलाएं अपनी गर्भावस्था के दौरान इसे जल्दी महसूस करती हैं, जबकि अन्य महिलाएं इसे बाद में महसूस कर सकती हैं। यह आपके प्रत्येक गर्भधारण में भी भिन्न हो सकता है, अगर आप पहले भी बच्चे को जन्म दे चुकी हैं।

इसके शुरू होने का कोई निश्चित समय नहीं होता

3. 16-25 सप्ताह के बीच अधिकांश माएं बच्चे का पेट में पैर मारना महसूस करती हैं

आमतौर पर, गर्भधारण के 16 से 25 सप्ताह के बीच बच्चे के पेट में लात मारने को महसूस किया जा सकता है। यदि आप पहली बार माँ बन रही हैं, तो 25वें सप्ताह के करीब आप बच्चे की हलचल को महसूस करने की अपेक्षा कर सकती हैं। यदि इस चरण को पार करने के बाद भी आपको बच्चे की हलचल महसूस नहीं हो रही है तो, आपको अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। ऐसे कई उदाहरण हैं, जिसमें आपको बच्चे के पेट में लात मारने का अहसास नहीं होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि शुरूआती समय में आप शायद बच्चे के पैर मारने को ठीक से महसूस न कर पाएं, इसे समझना आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है, लेकिन समय के साथ आपको बच्चे की हलचल स्पष्ट रूप से समझ आने लगेगी।

4. बच्चे के पैर मारने को ट्रैक करने की सलाह दी जाती है

विशेषज्ञों का सुझाव है कि माओं को यह सुनिश्चित करने के लिए कि सब ठीक है अपने बच्चे की हरकतों पर नजर रखनी चाहिए। जब आपको बच्चे के पेट में लात मारने जैस महसूस हो तो, आप इस बात इस बात का ध्यान रखें कि वह ऐसा कितनी बार दिन भर में करता है, यदि संभव हो तो आप बच्चे द्वारा की जाने वाली सभी गतिविधियों को नोटबुक में लिख कर रिकॉर्ड बना लें । हालांकि, यह हर दिन अलग भी हो सकता है, इससे आपको यह जानने में मदद मिलती है कि आपका शिशु कब सक्रिय है और कब वह सोता है या आराम करता है।

5. रात में बच्चे ज्यादा पैर चला सकते हैं

एक आम सवाल जो कि कई गर्भवती महिलाएं डॉक्टरों से पूछती हैं, वो यह है कि बच्चे रात के समय गर्भ में क्यों लात मारते हैं? वास्तव में, कई माएं रात में शिशुओं की निरंतर हलचल के कारण सो नहीं पाती हैं। इसका कारण यह है कि जब आप आराम कर रही होती हैं और आपके आसपास कोई शोर शराबा न हो रहा, तो आपका शिशु सतर्क और सक्रिय हो जाता है। ऐसा इसलिए भी है, क्योंकि हो सकता है कि दिन के दौरान जब आप स्वयं सक्रिय हों, तो शिशु की गतिविधियों पर ध्यान न दें और इसलिए जब आप रात में आराम कर रही होती हैं, उस समय हलचल ज्यादा जोर से महसूस होती है।

रात में बच्चे ज्यादा पैर चला सकते हैं 

6. बच्चे का पैर चलाना उसकी अति सक्रियता को इंगित नहीं करता है

जैसे-जैसे आपकी गर्भावस्था पूर्ण-अवधि के करीब आने लगती है, हो सकता है उसका लात मारना अधिक बढ़ जाए जिसके कारण आपको चिंता हो सकती है कि कहीं आपका बच्चा अतिसक्रिय तो नहीं है। आप निश्चिंत रहिए, इसका सिर्फ यह मतलब है कि आपका बच्चा ठीक है और सक्रिय है।

7. बच्चे का पेट में पैर मारना माँ के आहार से प्रभावित होता है

बच्चे की हलचल का संबंध आपके द्वारा उपभोग की जाने वाली चीजों से भी है। आप देख सकती हैं कि भोजन के बाद आपका बच्चा उत्तेजित हो जाता है और अधिक सक्रिय हो जाता है। ऐसा आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन से अचानक बढ़ने वाली ऊर्जा के कारण होता है। कैफीन जैसे उत्तेजक पदार्थ भी आपके बच्चे की गतिविधि का कारण बन सकते हैं। यदि आपको लगता है कि आपका बच्चा, बहुत सक्रिय हो रहा है, तो आपको चीनी युक्त पदार्थ और कैफीन युक्त पेय का अधिक सेवन करने से बचना चाहिए । यदि आपके सोने के समय में बच्चे की हलचल बढ़ जाती है, तो थोड़ी देर खड़ी हो जाएं और टहल लें। ऐसा करने से वह स्थिर हो जाएगा और आप बेहतर रूप से नींद ले सकेंगी।

8. भोजन करने के बाद अपने बच्चे की पैर चलाने की क्रिया को ट्रैक करें

बच्चे की लात महसूस करने की शुरुआती भावना पेट में स्पष्ट रूप से बच्चे की लात पड़ने के बजाय आपको अक्सर अपने पेट में बुलबुले या तितलियों के फड़फड़ाने जैसी महसूस होगी । इस तरीके से आप बच्चे के पेट में लात मारने को महसूस कर सकती हैं । चूंकि बच्चे माँ के भोजन से ऊर्जा प्राप्त करने के बाद अपनी गतिविधि का स्तर अधिक बढ़ा देते हैं, इसलिए भोजन समाप्त करने के बाद कोई न कोई गतिविधि करना अच्छा रहेगा। आपको बच्चे द्वारा की जाने वाली तमाम गतिविधियों की पहचान अब तक हो जानी चाहिए।

भोजन करने के बाद अपने बच्चे की पैर चलाने की क्रिया को ट्रैक करें

9. दूसरी गर्भावस्था में बच्चे का पैर मारना जल्दी महसूस हो सकता है

दूसरी बार माँ बनाने वाली महिलाएओं को बच्चे के पेट में लात मारने का अहसास कब होता है? आमतौर पर दोबारा माँ बन रही महिलाओं को पहली बार की तुलना में बच्चे की हलचल की पहचान करना आसान लगता है। चूंकि आपका शरीर पुनः हुई गर्भावस्था को बेहतर तरीके से समायोजित करता है, इसलिए यह भी संभावना है कि आप अपनी पहली गर्भावस्था की तुलना में अपने बच्चे की हलचल को दोबारा जल्दी महसूस करें। हालांकि, यह आपके बच्चे के गतिविधि के स्तरों पर भी निर्भर करेगा।

10. आपका साथी तीसरी तिमाही में बच्चे के पैर मारने को महसूस कर सकता है

आपके पेट में फड़फड़ाहट के रूप में शुरू होने वाली हलचल जल्द ही तेज हो जाएगी और आपको बच्चे के लात मारने के संकेत स्पष्ट रूप से मिलने लगेंगे। जैसे-जैसे आपकी गर्भावस्था तीसरी तिमाही की ओर आगे बढ़ती है, शिशु की हलचल आपको अपने पेट के बाहर से भी दिखाई देने लगेगी। जब आपके पेट पर कोई अपना हाथ रखेगा, तो वह आपके बच्चे की हलचल को महसूस कर पाएगा।

बच्चे का पेट में लात मारना उसके स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण संकेत है, जो न केवल आपके बच्चे के साथ आपका होने वाला पहला संपर्क है, बल्कि यह आपके बच्चे का गर्भ में अच्छी तरह से विकास होने का एक संकेत भी है जिसे आपको ट्रैक करते रहना चाहिए। यदि आपको बच्चे के नियमित पैटर्न में या उसकी हलचल में कोई बदलाव दिखाई देता है, तो इसके बारे में अपने डॉक्टर से बात करना ज्यादा बेहतर रहेगा।