बच्चों के लिए दिवाली पर 10 पंक्तियाँ

छोटे बच्चों के लिए दीपावली पर 10 लाइन हिंदी में

दिवाली का पर्व भारत का सबसे मुख्य त्योहार है और इस त्योहार को बहुत धूम-धाम से मनाया है। ज्यादातर लोग जानते हैं कि दीपावली या दिवाली कब है पर कुछ ही लोग जानते होंगे कि हिन्दू कैलेंडर के अनुसार कार्तिक मास की अमावस्या के दिन दिवाली का उत्सव मनाया जाता है। इस दिन सभी अपने घरों में दिए जलाते हैं, घर के बाहर मिलकर पटाखे भी जलाते हैं और मिठाइयां बांटते हैं। यह दिन निराशा पर आशा की विजय के लिए मनाया जाता है। भारत में विशेष इस त्योहार पर कई दिनों की छुट्टियां रहती हैं और इस दिन स्कूल में शिक्षक अपने छात्रों को दिवाली पर शॉर्ट निबंध या कुछ लाइन भी लिखने को कहते हैं। दीपावली की महत्ता को समझने के लिए अक्सर बच्चे इंटरनेट में दिवाली पर 10 पंक्तियाँ या अच्छा सा निबंध खोजते हैं। बस आपकी इसी खोज को सफल बनाने के लिए यहाँ हमने बच्चों के लिए दिवाली पर 10 पंक्तियाँ दी हैं, जैसे दीपावली क्यों और कब मनाते हैं, दिवाली इसका क्या महत्त्व है, जानने के लिए आगे पढ़ें। 

बच्चों के लिए दिवाली पर 10 पंक्तियाँ 

यदि आप अपने बच्चे के लिए दिवाली पर निबंध की 10 पंक्तियाँ लिखना चाहती हैं तो यहाँ पर दिवाली पर विशेष 10 लाइन हिंदी में बताई गई हैं, आइए जानें;

  1. दिवाली हिन्दुओं का एक सबसे बड़ा त्योहार है और हमारे देश में इसे सभी धर्म के लोग पूरे हर्ष और उल्लास से मनाते हैं। 
  2. यह त्योहार पूरे 5 दिनों तक मनाया जाता है और दिवाली के दिन घर को रंगोली और दीयों से सजाया जाता है।
  3. इस दिन भगवान राम 14 वर्ष का वनवास पूरा करके लौटे थे और इसी खुशी में लोग अपने घर में खूब सारे दिए जलाते हैं। 
  4. यह दिन निराशा पर आशा की विजय का प्रतीक माना जाता है।
  5. इस दिन परिवार के सभी लोग नए कपड़े पहनते हैं, घर में दिए जलाते हैं और भगवान गणेश व लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं। 
  6. बच्चों को भी नए कपड़े, मिठाइयां और चॉकलेट मिलती हैं और साथ ही वे बड़ों के साथ पटाखे जलाकर इस त्योहार को मनाते हैं। 
  7. दिवाली के दिन सभी लोग एक दूसरे से मिलते हैं और खुशियां बांटते हैं।
  8. दीपावली में सभी घरों पर इतने सारे दिए जलते हैं कि अमावस्या का अंधेरा मिट जाता है। 
  9. पर्यावरण दूषित न हो इसलिए हमें सिखाया जाता है कि दिवाली पर हम तेज आवाज वाले पटाखों का उपयोग न करें।
  10. हवा को शुद्ध बनाए रखने के लिए कम से कम या बिलकुल भी पटाखे न जलाएं और दियों से इस त्योहार की शोभा बढ़ाएं। 

दिवाली में लोग ईश्वर से अपने घर में सुख, समृद्धि और रिश्तों में मिठास बनी रहने की कामना करते हैं। यह त्योहार खुशियों और उजाले का पर्व माना जाता है। बच्चों के लिए भी यह दिन सबसे खास होता है और इस पर्व की महत्वता बताने के लिए शिक्षक बच्चों से दिवाली पर निबंध या 10 पंक्तियाँ लिखने के लिए कहते हैं ताकि उन्हें भी हमारी परंपराओं का ज्ञान मिल सके।