गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड

गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड

Last Updated On

यदि आपको हाल ही में पता चला है कि आप गर्भवती हैं तो, हम जानते हैं कि आप उत्साहित होने के साथ-साथ थोड़ी सी बेचैन भी होंगी। बधाई हो! आप अब प्रेगनेंसी क्लब में शामिल हो चुकी हैं। सामान्यतः 5वें सप्ताह में ज्यादातर महिलाओं को अपनी गर्भावस्था के बारे में पता चलता है। अपना मासिक धर्म चक्र चूकने से आपको गर्भावस्था का अंदाजा होने पर आप थोड़ी खुश और साथ में थोड़ी चिंतित होंगी। आप पहले ही गर्भावस्था के 5वें हफ्ते में पहुँच चुकी हैं! यह वह समय है जब आपको चक्कर आ सकते हैं, इस दौरान आप मतली और थकान का अनुभव भी कर सकती हैं। आपको अपने स्तनों में अत्यधिक संवेदनशीलता महसूस हो सकती है, ये सभी लक्षण गर्भावस्था के होते हैं। अपनी गर्भावस्था के बारे में सुनिश्चित होने के लिए आपको डॉक्टर के पास जाने की और अल्ट्रासाउंड करवाने की आवश्यकता होती है। गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड स्कैन में क्या होता है इसे जानने के लिए यह लेख पूरा पढ़ें।

पहला अल्ट्रासाउंड कब होना चाहिए

पहला अल्ट्रासाउंड कब होना चाहिए

आपको अपना पहला अल्ट्रासाउंड स्कैन गर्भावस्था के लगभग 5वें सप्ताह में करवाना पड़ सकता है और इसी समय ही गर्भस्थ भ्रूण के हृदय की सबसे पहली धड़कन उत्पन्न होती है। यह अल्ट्रासाउंड गर्भावस्था के शुरूआती चरणों में आपके गर्भ में पल रहे भ्रूण की उपस्थिति की पुष्टि करने में मदद करता है।

गर्भावधि का 5वां सप्ताह जांच के लिए कई कारणों से महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इस समय से पहले गर्भावस्था की पुष्टि नहीं की जा सकती है। 5वें सप्ताह में कई बार अनेक कारणों से गर्भधारण की समाप्ति हो सकती है इसलिए सबसे पहला अल्ट्रासाउंड स्कैन करवाने के लिए यह सबसे उचित सप्ताह है।

5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड स्कैन की आवश्यकता क्यों होती है

गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड करवाने के निम्नलिखित कारण हैं, आइए जानें;

  • 5वें सप्ताह के दौरान किया गया अल्ट्रासाउंड स्कैन, जो संभवतः आपका पहला अल्ट्रासाउंड स्कैन होगा, इससे डॉक्टर को यह जांचने और पुष्टि करने में मदद मिलती है कि क्या आपके गर्भ में एक से अधिक शिशु हैं।
  • डॉक्टर अल्ट्रासाउंड करके किसी भी असामान्यता की जांच कर सकते हैं। हालांकि यह गर्भावस्था का शुरूआती समय है इसलिए डॉक्टर किसी भी असामान्यता का पता लगाने के लिए योक सैक (प्लेसेंटा यानि गर्भनाल बनने से पहले की झिल्ली) और जेस्टेशनल सैक (गर्भाशय की थैली) की जांच करते हैं।
  • यदि आपको गर्भधारण से संबंधित पहले कभी कोई समस्या हुई है या आपके जुड़वां शिशु हैं तो 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड यह पुष्टि करने में मदद करता है कि क्या गर्भस्थ शिशु का विकास सामान्य रूप से हो रहा है।
  • 5वें सप्ताह के आसपास प्लेसेंटा का निर्माण होने लगता है। अल्ट्रासाउंड के माध्यम से डॉक्टर यह सुनिश्चित करते हैं कि प्लेसेंटा कैसे बन रहा है और वह सही है या नहीं।
  • आप अल्ट्रासाउंड के माध्यम से बच्चे के आकार का अनुमान लगा सकती हैं।

5वें सप्ताह के अल्ट्रासाउंड स्कैन की तैयारी कैसे करें

गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड करने से पहले डॉक्टर भरपूर पानी पीने की सलाह देते हैं ताकि आपका मूत्राशय पूरी तरह से भर जाए। इससे गर्भ में पल रहा शिशु ऊपर की ओर आ जाता है और अल्ट्रासाउंड में बहुत स्पष्ट दिखाई देता है। इस अवधि में भ्रूण सेब के बीज जितना होता है और स्कैन में इसकी स्पष्ट छवि नजर आ सकती है।

अल्ट्रासाउंड स्कैन के लिए आपको लेटने के लिए कहा जाएगा। डॉक्टर आपके पेट के निचले भाग में लुब्रिकेटिंग जेल लगाकर हल्के दबाव के साथ ट्रांसड्यूसर पूरे पेट पर घुमाएंगे । फिक्र न करें इस दबाव से आपको किसी भी प्रकार की तकलीफ नहीं होगी। ट्रांसड्यूसर की मदद से डॉक्टर आपके गर्भाशय और भ्रूण की धड़कन के स्थान को समझ सकता है। ध्वनि तरंगें स्क्रीन पर भ्रूण की एक स्पष्ट पिक्चर उत्पन्न करती हैं। इस पूरी प्रक्रिया में आपको धैर्य रखने की आवश्यकता है। गर्भावस्था का शुरूआती समय अत्यधिक चुनौतीपूर्ण हो सकता है क्योंकि इस समय आपको चक्कर आ सकते हैं, सिर में दर्द और अत्यधिक थकान भी महसूस हो सकती है। इस दौरान शांत और धैर्य के साथ रहने से आपका तनाव कम होगा और आपको असुविधाएं कम करने में मदद मिलेगी।

5वें सप्ताह के अल्ट्रासाउंड स्कैन में कितना समय लगता है

अल्ट्रासाउंड स्कैन करने में लगभग 20 से 30 मिनट लगते हैं। स्कैन करने के लिए डॉक्टर आपके पेट पर जेल लगाकर पूरे पेट में ट्रांसड्यूसर घुमाते हैं जिसकी मदद से स्क्रीन पर भ्रूण की स्पष्ट पिक्चर दिखाई देती है। इस पूरी प्रक्रिया में 30 मिनट या ज्यादा से ज्यादा एक घंटा लगता है। यदि चाहें तो आप इस अल्ट्रासाउंड की पिक्चर प्रिंट भी ले सकती हैं।

5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड स्कैन की प्रक्रिया

यह प्रक्रिया सरल है जिसमें डॉक्टर आपको स्कैन से पहले पानी पीने के लिए कहेंगे।फिर आपको परीक्षण मेज पर अपनी पीठ के बल लेटना होगा। इसके बाद, तकनीशियन आपके पेट पर एक जेल लगाएंगे और अल्ट्रासाउंड डिवाइस या छड़ी को घुमाएंगे ताकि मॉनिटर पर पिक्चर दिखाई दे। प्रक्रिया में आप, अपनी मदद के लिए अपने साथी को भी ले जा सकते हैं। यह वास्तव में आपके लिए एक बहुत ही विशेष क्षण होगा, अर्थात, जब आप अपने बच्चे को अपने गर्भ में बढ़ते हुए देखेंगे। इस पल का आनंद लें, और अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन करें।

स्कैन में क्या दिख सकता है

अल्ट्रासाउंड स्कैन के दौरान आप जेस्टेशनल सैक के साथ योक सैक को देख सकती हैं क्योंकि इसका निर्माण इसी अवधि में होता है। जुड़वां बच्चों के मामले में, आप योक सैक फिटल पोल के साथ भी देख सकती हैं। यदि आपके आइडेंटिकल यानि एक जैसे जुड़वां शिशु हैं तो इस स्थिति में आप एक जेस्टेशनल सैक के साथ दो योक सैक देख सकेंगी । साथ ही भ्रूण की लंबाई लगभग 1.25 मी.मी. तक हो सकती है।

अल्ट्रासाउंड स्कैन में गर्भाशय काले रंग का दिखता है और गर्भनाल थैली में ऊपर बाईं ओर सफेद रंग का गोला दिखाई देता है, जो योक सैक होता है। यह योक सैक भ्रूण के लिए पोषक तत्वों को उत्पन्न करता है। लगभग 5 महीनों के बाद ही आप अपने गर्भ में पल रहे भ्रूण को देख सकती हैं क्योंकि इससे पहले इसका आकार चावल के दाने के समान होता है।

ट्रांसवजाइनल स्कैन के माध्यम से एक अनुभवी सोनोग्राफर ही गर्भनाल की थैली को देख सकता है।

क्या 5वें सप्ताह में गर्भ में जुड़वां शिशुओं की उपस्थिति का पता चल सकता है

गर्भावस्था के 5वें सप्ताह में आपका डॉक्टर यह बताने में सक्षम होता है कि आपके गर्भ में जुड़वां शिशु हैं या नहीं। आप अपने जुड़वां शिशुओं को फ्रैटर्नल या आइडेंटिकल के रूप में देख पाएंगी।

स्कैन में कुछ पता न लगने पर क्या होगा

यदि 5वें सप्ताह के अल्ट्रासाउंड में आपके डॉक्टर को कुछ भी नहीं दिखता है तो यह महत्वपूर्ण है कि आप योक सैक की मौजूदगी के बारे में पूछें। कभी-कभी भ्रूण इतना छोटा होता है कि वह अल्ट्रासाउंड स्कैन में नहीं दिखता है। यदि 5वें सप्ताह में अल्ट्रासाउंड में योक सैक नहीं मिलती है तो इसका तात्पर्य निम्नलिखित में से कुछ हो सकता है:

१. आपको गलत तारीखें दी गई थीं और गर्भस्थ शिशु कुछ दिनों बाद स्कैन में दिखाई देगा ।

२. यह एक अस्थानिक गर्भावस्था है।

३. यह गर्भपात है।

स्कैन में कोई असामान्यता दिखने पर क्या होगा

यह अल्ट्रासाउंड योक सैक, फीटल पोल और गर्भाशय की थैली में असामान्यताओं का पता लगाने में मदद कर सकता है। शिशु में असामान्यता की गंभीरता के आधार पर आप डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन कर सकती हैं।

क्या यह स्कैन आपकी नियमित देखभाल का हिस्सा है

5वें सप्ताह में किया जाने वाला अल्ट्रासाउंड स्कैन गर्भावस्था की सबसे पहली जांच होती है और इसलिए यह जांच गर्भावस्था की देखभाल का एक नियमित हिस्सा हो सकती है। इस स्कैन से यह निर्धारित होगा कि आप गर्भवती हैं या नहीं।

गर्भावस्था के दौरान उत्पन्न होने वाली किसी भी समस्या से छुटकारा पाने के लिए अल्ट्रासाउंड स्कैन बहुत ही महत्वपूर्ण है। 5वें सप्ताह में किया जाने वाला स्कैन गर्भावस्था का पहला स्कैन होता है इसलिए इसे या इसके बाद के स्कैन को न छोड़ें। अपने स्वास्थ्य व भ्रूण की स्थिति की पुष्टि करने के लिए यह अल्ट्रासाउंड अवश्य करवाएं और मातृत्व की ओर अपनी यात्रा की शुरूआत करें।