एक साल (12 महीने) के बच्चे का विकास

एक साल (12 महीने) के बच्चे का विकास

Last Updated On

एक साल के बच्चे हल्का लड़खड़ाकर चलने लगते हैं और अगर आपके बच्चे ने अभी तक चलना शुरू नहीं किया है तो वे जल्द ऐसा करेगा। आपका बच्चा पिछले एक साल में काफी बड़ा हो गया है और वह जैसे ही चलना शुरू करेगा दूसरों का सहारा ना लेकर खुद से धीरे-धीरे चलना सीख गया है।

एक साल के बच्चे के लिए माइलस्टोन चार्ट

प्राप्त किए जा चुके विकास के चरण  आगे आने वाले विकास के चरण
किसी चीज को पकड़कर या खींचकर खड़ा हो सकता है बिना सहारे के खड़ा हो पाएगा
अकेले कुछ कदम चल सकता है अधिक दूरी तक अकेले चल सकेगा
सरल शब्दों में बोल सकता है सरल वाक्य बोल पाएगा
आपके काम व इशारों की नकल कर सकता है वह इशारों को याद करके उन्हें फिर खुद दोहरा सकेगा
आसान बातों का जवाब दे सकता है मुश्किल निर्देशों को समझ सकेगा
आवाज की नकल कर सकता है आवाज और वह कहाँ से आ रही है, याद रख सकेगा
कोई चीज कहाँ रखी है, ये याद रख सकता है चीजों को उनकी सही जगह पर रख सकेगा
चीजों को पकड़ने के लिए अपने हाथों को इस्तेमाल कर सकता है चीजों को समझने लगेगा और उन्हें उठा भी पाएगा
तर्जनी उंगली का उपयोग इशारा करने और छूने के लिए कर सकता है सभी उंगलियों पर ज्यादा कंट्रोल आ जाएगा
उसके हाथों और आंखों के बीच अच्छा कोर्डिनेशन बनना शुरू हो चुका है हाथ / आँख / पैर में पूरा कोर्डिनेशन बना जाएगा

कुछ प्रमुख विकास जो 1 साल के बच्चों में आ जाने चाहिए

आपके बच्चे ने आखिरकार एक साल पूरा कर लिया है! वह अब चल सकता है, खुद खा सकता है, जानी पहचानी चीजों और लोगों की ओर इशारा कर सकता है और छोटी-मोटी चीज भी समझ सकता है। आपका बच्चा अब दिन में कम सोना शुरू कर देगा और रात में अधिक समय तक सोना पसंद करेगा। इस उम्र के बच्चों को अभी भी दोपहर में नींद की जरूरत होगी, लेकिन उन्हें सुबह में देर तक सोने की आवश्यकता नहीं है।

उनके खाने के पैटर्न में भी बदलाव आएगा, वे अब दूध और मैश लिए हुए खाने के अलावा अब ठोस भोजन लेना शुरू कर देते हैं लेकिन वही जो उन्हें खाने में आसान रहें, जैसे कि बिना बीज के तरबूज, आम, केले और पपीते जैसे नरम फल। इस तरह, आप हेल्दी नाश्ते के लिए फलों का एक छोटे कटोरे में सलाद बना सकती हैं जिसे आपका बच्चा खुद खा पाएगा। अब आप देखेंगी कि आपका बच्चा और भी काफी नई-नई चीजें सीख रहा है। इसके बारे में नीचे और जानकारी दी गई है, आइए देखें।

कॉग्निटिव (संज्ञानात्मक) विकास

संज्ञानात्मक विकास में आपके बच्चे की सोच-समझ और दिमाग से जुड़े कार्य शामिल होते हैं। आपके बच्चे में 1 साल की उम्र में कितना संज्ञानात्मक विकास होना चाहिए, आइए जानते हैं:

  • अगर आपके बच्चे का खिलौना किसी चीज के नीचे छिपा रहता है तो अब वह इस बात से कन्फ्यूज नहीं होगा, बल्कि वह अब यह समझता है कि जिस चीज से खिलौना ढका है उसको हटा कर वो उस तक पहुंच सकता है।
  • अगर आप अपने बच्चे के खिलौने को उसी जगह पर रखते हैं, तो वह हर दिन उसी जगह पर इसे ढूंढता रहेगा, जो यह बताता है कि उसे चीजों को देखकर याद रखने की क्षमता में सुधार हो रहा है।
  • अब तक, आपके बच्चे ने चीजों और जगह आदि को जोड़कर बोलना सीख लिया है। यदि आप उससे पूछते हैं कि कुत्ता कहाँ है, तो वह उसकी ओर इशारा करके बता सकता है!
  • अब बच्चा कुछ चीजों का सही ढंग से इस्तेमाल भी करने लगेगा। उदाहरण के लिए, महीनों देखने के बाद, आपके शिशु को पता चल जाएगा कि कंघे से बालों में कंघी कैसे की जाती है और यह भी पता चल जाएगा कि मोबाइल का कौन सा साइड सुनने का है और कौन का बोलने की जगह।

शारीरिक विकास

आपका बच्चा शारीरिक रूप से बढ़ रहा है और अब वो ऐसी चीजें भी कर सकता है जिनमें काफी ज्यादा ध्यान लगाने की जरूरत है। ध्यान देने योग्य शारीरिक विकास कुछ इस तरह से हैं:

  • अब आपका बच्चा खुद को ऊपर खींच कर खड़ा हो सकता है और कुछ सेकंड तक वैसे ही खड़ा रह सकता है क्योंकि अब उसकी मांसपेशियां और जोड़ शरीर के वजन को संभालने के लिए काफी मजबूत हो गए हैं।
  • आपका 1 साल का बच्चा अब बिना सहारे के चलना शुरू कर देगा।
  • अब आपका बच्चा अपनी उंगलियों, अंगूठे और हाथों का इस्तेमाल करके ग्रिप बनाना सीख जाएगा। वह अब कुछ उठाकर वापस उस सामान को रखना सीख जाएगा। आपका बच्चा यह भी सीख जाएगा कि उंगली से कैसे इशारा करना है और उससे कैसे पोक करना है।
  • आपके बच्चे के हाथ-आँख का कोर्डिनेशन बेहतर हो जाएगा, और वह अब दूरियों को बेहतर ढंग से समझ सकेगा।

भाषा और कम्युनिकेशन स्किल्स

आपके बच्चे को अब यह सीखने में बहुत दिलचस्पी होने लगती है कि बात कैसे करनी है। यह वह उम्र है जिसमें बहुत सारी प्रगति होती है। कुछ चीजें जो आपका बच्चा करने में सक्षम होगा, वह है:

  • आपका बच्चा अब सरल निर्देशों और मांगों को समझ सकता है। आपका बच्चा यह भी समझता है कि कोई भी काम तब करना है जब आप उससे ऐसा करने को कहेंगी।
  • जब आप अपने बच्चे से अब बात करेंगी, तो वह बोलने की पूरी कोशिश करेगा, भले ही वह जो कहता है, उसमें से बहुत कुछ अभी भी आपको समझ न आए।
  • आपका बच्चा अब गंभीरता से उन शब्दों की नकल करना शुरू कर देगा जो आप उसके साथ बात करते हुए प्रयोग करते हैं।
  • वह अन्य आवाजों और कामों की नकल करना शुरू कर देगा। यदि आप हाथ हिलाती हैं, तो आपका बच्चा आपको कॉपी करने की कोशिश करेगा। अगर वह कुत्ते का भौंकना सुनता है, तो वह उस आवाज की नकल करने की कोशिश कर सकता है।
  • आपका बच्चा “उम्म्म्म…, ओह!” जैसे शब्द का उपयोग करना शुरू कर देगा।
  • सिर हिलाने और नाराजगी जताने के लिए या फिर ऐसा कुछ जो वो नहीं करना चाहते हैं उसके लिए, अक्सर बच्चे इस उम्र में “नहीं” बोलना सीख लेते हैं।

सामाजिक और भावनात्मक विकास

आपके बच्चे का व्यवहार, स्वभाव और भावनाओं को एक्सप्रेस करने की उसकी क्षमता अब विकसित होने लगेगी। कुछ चीजें हैं जिनपर नजर रखी जानी चाहिए, वह कुछ इस प्रकार है:

  • अगर आपके बच्चे को किसी चीज से डर लगता है, तो वह माता-पिता को कस कर पकड़ लेगा। वह पूरी तरह से अंधेरा होने पर डर भी सकता है।
  • नए लोगों के सामने होने पर आपको अपने आस-पास ना देख के आपका बच्चा शरमा सकता है या फिर घबरा सकता है। वह किसी के पास जाने के लिए नर्वस हो सकता है या झिझक महसूस कर सकता है।
  • 1 वर्ष के बच्चे अक्सर अपने माता-पिता की प्रतिक्रिया और धैर्य का परीक्षण लेते हैं, चीजों को फर्श पर फेंक देते हैं या अपने भोजन को खाने से इनकार करते हैं।
  • जैसे-जैसे आपका बच्चा समाज से जुड़ता है, वह कुछ लोगों के प्रति खास लगाव दिखाना शुरू कर देगा।
  • उसे खेल में दूसरों की नकल करने में मजा आएगा।

आपको कब चिंता करनी चाहिए?

प्रत्येक बच्चा अपने हिसाब से विकास करता है, और यह याद रखना बहुत जरूरी है कि बच्चे पर कभी भी दबाव न डालें या जल्दी से विकसित होने के लिए मजबूर न करें। हालांकि, कुछ संकेतक हैं कि आपके बच्चे के विकास में कुछ गड़बड़ हो सकती है। अगर आप निम्नलिखित में से कुछ भी नोटिस करें, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें:

  • आपका बच्चा सहारा लेकर भी खड़ा नहीं हो पा रहा है।
  • आपका बच्चा खुद से बैठ नहीं पा रहा है, और जब बैठने में मदद की जाती है, तो सहारे के बिना बैठा नहीं रह पाता है।
  • छिपी हुई वस्तुओं को देख नहीं पाता, भले ही वे उसकी नजर के सामने ही क्यों ना हों।
  • बहुत आसान इशारों की नकल नहीं कर पाता है।
  • एक भी शब्द नहीं बोल पाता।
  • पेट के बल घसीटता है और केवल रेंग (घुसक) पाता है।
  • किसी चीज को पॉइंट करने के लिए अपनी उंगली का उपयोग बिलकुल भी नहीं करता है।

अपने बच्चे को ठीक से विकास करने में कैसे मदद करें

हालांकि, किसी बच्चे को विकसित होने या बढ़ने के लिए जबरदस्ती करना कभी भी ठीक नहीं है, कुछ चीजें हैं जो अपने बच्चे को तेजी से और आसानी से विकसित करने में मदद करने के लिए रोजाना कर सकते हैं। यहाँ कुछ तरीके दिए गए हैं जिनसे आप अपने बच्चे को पहले साल में विकास के चरण को प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं:

  • जब आपका बच्चा अपने भाषा कौशल को विकसित कर रहा होता है, इस समय आप ज्यादा से ज्यादा उससे बातें करें। उसे बताए की आप अभी क्या कर रही हैं, इसके बाद क्या करेंगी, अभी आप क्या देख पा रही हैं, इत्यादि। इससे उन्हें नए-नए शब्द मिलेंगे और वह आपको जवाब सेना चाहेगा और बोलने की कोशिश भी करेगा।
  • यदि आप अपने बच्चे को बताती हैं कि आप कैसा महसूस कर रही हैं तो इससे उसे भावनाओं को समझने में मदद मिलेगी।
  • चित्र वाली पुस्तकों का उपयोग करके अपने बच्चे को पढ़ाएं।
  • अपने बच्चे के साथ गेम्स खेलें जैसे कि ब्लॉक ट्रांसफर, जहाँ आप एक बाल्टी को ब्लॉक से भरते हैं और एक अपने बच्चे के सामने खाली करते हैं और उसे दिखाते हैं कि उन्हें कैसे एक बॉक्स से दूसरे में डालना है। इससे उसे भी उंगलियों और हाथों को इस्तेमाल करने के बारे में समझ विकसित करने में मदद मिलती है।

अब आपका बच्चा अपने आस-पास की दुनिया के बारे में पता लगाने को लेकर उत्सुक रहेगा। वह चीजों को गिराना शुरू कर देगा और शायद आपकी बात सुनने से इंकार भी करे, क्योंकि उसका जिज्ञासु स्वभाव उससे ऐसा करवाता है। यदि आप अपने बच्चे को बार-बार “ना” कहना चाहती हैं, तो आप अकेली माँ नहीं हैं जो ऐसा सोच रही हैं। यह आपके बच्चे के लिए खोजने और सीखने का समय है। जब तक यह खतरनाक न हो, उन्हें उनकी एक्टिविटीज करने से न रोकें। इसके बजाय, उनके चीजों को एक्सप्लोर करते वक्त उनके आसपास रहें और उन्हें प्यार से जो चीज वो कर सकते हैं और जो नहीं कर सकते हैं वो सिखाएं।

यह भी पढ़ें:

12 महीने के बच्चे की वृद्धि एवं विकास
बच्चों की नींद की मूल बातें: 10 से 12 महीने