बच्चों को दलिया खिलाने के फायदे और रेसिपीज

बच्चों को दलिया खिलाने के फायदे और रेसिपीज

Last Updated On

बच्चों को ठोस आहार की शुरुआत में दलिया देना बहुत अच्छा रहता है। दलिया एक ऐसा आहार है जो न केवल पौष्टिक है बल्कि शिशु को खिलाने में भी आसान होता है। इसे कई तरह से बनाया जा सकता है और इसके व्यंजनों की विधि बेहद सरल और दिलचस्प होती है । आपके बच्चे के मुँह में अलग-अलग स्वाद विकसित करने के लिए सादा दलिया से लेकर थोड़ा मीठा या मसालेदार दलिया कैसे बनाया जा सकता है, इस लेख को पढ़कर जानिए ।

दलिया क्या होता है

दलिया वास्तव में गेहूँ के टुकड़ों को कहा जाता है । दुनिया के दूसरे कई देशों में जौ और मकई से भी दलिया बनाया जाता है । भारत के अधिकांश हिस्सों में गेहूँ से बने दलिया का उपयोग होता है । जिन शिशुओं को अभी-अभी ठोस पदार्थों की शुरुआत की गई है उनके लिए पतला और पचाने में आसान, ऐसा दलिया बनाया जाता है जबकि अपेक्षाकृत बड़े बच्चों को दलिया गाढ़ा बनाकर खिलाया जाता है।

बच्चों को दलिया देना कब शुरू कर सकते हैं

माता-पिता अपने शिशु को दलिया देना शुरू करने के लिए उत्सुक रहते हैं क्योंकि इससे पेट भर जाता है और यह अच्छी मात्रा में ऊर्जा प्रदान करता है, तथा पाचन तंत्र को भी सुचारु रूप से काम करने में मदद करता है। अधिकांशतः माता-पिता अपने शिशु को 78 माह का होने पर दलीय देने की शुरुआत करते हैं। हालांकि इस उम्र में बच्चा दलिया का सेवन कर सकता है, लेकिन वास्तव में वह 10-12 माह की आयु से ठोस पदार्थों को ठीक से पचाने में सक्षम होता है । इसलिए बेहतर यह है कि उसकी आयु कम से कम 10 महीने की होने के बाद उसके आहार में दलिया शामिल करें, ताकि आप उसके अधिकतम लाभ उठा सकें ।

बच्चों को दलिया देना कब शुरू कर सकते हैं

बच्चों के लिए दलिया देने के स्वास्थ्य लाभ

शिशु को ठोस पदार्थ देना शुरू करते समय यह सुनिश्चित करें कि आप उसे वे खाद्य पदार्थ दें जिनसे विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभ होते हैं और जो बच्चे को शायद माँ के दूध से न मिल पाए हों । इस संबंध में दलिया ढेर सारे लाभ प्रदान करता है।

  • दलिया का एक प्रमुख लाभ यह है कि यह आपके शिशु की बढ़ती भूख के लिए एक उत्तम आहार है। स्तनपान को धीरे-धीरे कम करने के लिए दलिया सर्वश्रेष्ठ विकल्प है जो बच्चे को पेट भरने में मदद करता है और चावल या आटे से बने खाद्य पदार्थों से बेहतर होता है ।
  • दलिया मुख्य रूप से फॉस्फोरस, मैग्नीशियम और आयरन जैसे खनिजों से समृद्ध है। ये सभी शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं और उसे एक स्वस्थ बालक या बालिका के रूप में विकसित होने में मदद करते हैं ।
  • साबुत गेहूँ को तोड़कर दलिया बनाने की प्रक्रिया में समृद्ध फाइबर सामग्री और विभिन्न पोषक तत्वों से युक्त विशिष्ट यौगिक और पदार्थ निकलते हैं । यह विकासशील पाचन तंत्र को आवश्यक शक्ति प्रदान करने में मदद करता है और विभिन्न चयापचय प्रक्रियाओं को भी शुरू करता है।

बच्चों के लिए पौष्टिक दलिया बनाने की विधि

दलिया का उपयोग विभिन्न प्रकार के व्यंजनों को तैयार करने के लिए किया जा सकता है, जो लगभग एक दर्जन हैं । हमने कुछ लोकप्रिय व्यंजनों के साथ-साथ हमारे व्यक्तिगत पसंदीदा व्यंजनों की रेसिपीज भी यहाँ दी हैं, जो आपके लाडले को अधिक पसंद आ सकते हैं।

1. वेजी दलिया

जैसे ही आपका बच्चा अधिक ठोस आहार खाना शुरू कर देता है, दलिया में कुछ सब्जियां मिलाएं ताकि वह उन्हें चबाए और उनके स्वाद का आनंद ले सके।

वेजी दलिया

सामग्री

  • दलिया
  • गाजर, आलू कटा हुआ
  • मटर के दाने
  • काजू
  • करी पत्‍ता
  • सरसों/राई
  • तेल
  • पानी
  • नमक

विधि

  • दलिया को कड़ाही में तब तक भूनें जब तक अच्छी महक न आने लगे। इसे निकालकर अलग रख लें।
  • एक अलग पैन में थोड़ा सा तेल और राई डालें।
  • एक बार जब राई चटकना शुरू कर दे, तो इसमें करी पत्ता डाल कर थोड़ी देर के लिए उसे भून लें।
  • कटी हुई सब्जियां जैसे कि गाजर, आलू, सेम और इसी तरह की कोई भी सब्जी डालें, काजू मिलाएं और चलाएं ।
  • एक चुटकी नमक डालें और इसे ढककर कुछ मिनट तक पकने दें।
  • फिर थोड़ा पानी डालें, भुना हुआ दलिया डालें और इसे हिलाएं ताकि गाँठ नहीं बने।
  • तब तक उबालें जब तक सारा पानी सोख न लिया जाए और फिर अपने शिशु को खिलाएं।

2. दलिया की खीर

दलिया की खीर बच्चों के लिए सर्वकालिक स्वादिष्ट व्यंजन है। वर्तमान पीढ़ी के अधिकांश बच्चों को इसी तरह दलिया से परिचित कराया जाता है।

सामग्री

  • दलिया
  • गुड़
  • दूध
  • घी
  • किशमिश
  • काजू
  • बादाम
  • इलायची
  • पानी

विधि

  • एक बर्तन में थोड़ा घी डालें।
  • इसे गैस पर रखें और इसमें सभी ड्रायफ्रूट्स मिलाएं । उन्हें ठीक से भूनें और एक तरफ रख दें।
  • अब बर्तन में दलिया डालकर कुछ मिनट के लिए भूनें । भूनते समय अच्छी तरह हिलाएं ।
  • एक बार जब इसमें से मीठी महक उठने लगे, तो इसमें दूध डालें और पूरे मिश्रण को उबलने दें।
  • इसे लगभग 15 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं । घोल को पतला करने के लिए इसमें पानी मिलाएं और दूध डालें।
  • पतला हो जाने पर मेवा और इलायची पाउडर इसमें मिलाएं और बच्चे को खिलाएं।

3. दलिया उपमा

इसमें कोई शक नहीं है कि मीठे दलिया का व्यंजन स्वादिष्ट होता है। लेकिन बच्चे को नमकीन दलिया भी काफी पसंद आ सकता है।

दलिया उपमा

सामग्री

  • दलिया
  • मूंग दाल
  • करी पत्‍ता
  • तेल
  • जीरा
  • सरसों/राई के दाने
  • पानी
  • नमक

विधि 

  • सबसे पहले दलिया भूनें और जब सोंधी सी महक आने लगे तो इसे अलग निकाल लें
  • एक गहरे तले का पैन लें। इसमें तेल, सरसों, करी पत्ता और जीरा डालें।
  • इसे तेज आंच पर रखें और सरसों के दाने चटकने तक इंतजार करें। फिर मिश्रण में थोड़ी हींग और मूंग दाल डालें और थोड़ी देर तक भूनें।
  • हल्दी और नमक के साथ थोड़ा सा पानी डालें और इसे उबलने दें।
  • इसमें दलिया डालें और गाँठ बनने से बचने के लिए चलाते रहे। इसे तब तक उबालें जब तक दलिया नरम न हो जाए। इसे ज्यादा पतला न करें । आप इसमें आवश्यकतानुसार कुछ सब्जियां भी मिला सकती हैं।

4. दलिया का हलवा

जिस प्रकार दलिया की खीर बच्चों को पसंद आती है उसी प्रकार दलिया का हलवा भी खाने में बहुत स्वादिष्ट लगता है ।

सामग्री

  • दलिया
  • घी
  • काजू
  • बादाम
  • गुड़
  • दूध
  • पानी

विधि

  • एक पैन लेकर उसमें घी डालें और काजू-बादाम डालकर अच्छे से भूनें । उसे अलग रख दें।
  • उस पैन में दलिया डालें और एक-दो मिनट के लिए भूनें । ऐसा करते समय उसे हिलाते रहें।
  • एक बार जब सुगंध उठने लगे पैन में दूध डालें, इसे सही ढंग से हिलाएं और उबलने दें। उसके बाद आंच को कम करें और इसे लगातार चलाते हुए लगभग 15 मिनट तक पकने दें। दूध या पानी के साथ गाढ़ापन समायोजित करें।
  • जब पक जाता है, तो अपने बच्चे को देने से पहले उसमें मेवा और कुछ इलायची पाउडर डालें।

5. दलिया लापसी

एक पुराना पारंपरिक नुस्खा जिसे आमतौर पर बच्चे को दिए जाने वाले पहले ठोस आहार के रूप में माना जाता है।

दलिया लापसी

सामग्री

विधि

  • प्रेशर कुकर का उपयोग करके लापसी सबसे अच्छी तरह तैयार किया जाता है। कुकर में, थोड़ा घी और दलिया एक साथ मिलाएं । दलिया को अच्छी तरह से तब तक भूनें जब तक कि सुगंध न आने लगे।
  • थोड़े से पानी के साथ एक अलग कटोरी में गुड़ डालें। जब तक पूरा गुड़ घुल न जाए, तब तक इसे आवश्यकतानुसार उबलने दें।
  • एक बार जब यह हो जाए तो इस पानी के मिश्रण को कुकर में डालें। कुकर को बंद कर दें और इसे मध्यम आंच पर पकाएं । इसे तीन सीटी तक पकाएं ।
  • प्रेशर हटा दें और पकी हुई लापसी को एक बड़े कटोरे में निकाल लें। अपने बच्चे को इसे थोड़ा ठंडा करके खिलाएं ।

शिशु को ठोस पदार्थ से परिचित कराना काफी अच्छा अनुभव हो सकता है। दलिया एक सुपाच्य और लोकप्रिय आहार है, और इसके व्यंजन आसानी से बनाए जा सकते हैं । इसलिए आज ही इनमें से किसी रेसिपी को पढ़कर अपने बच्चे के लिए स्वादिष्ट और पोषण से भरपूर दलिया बनाइए।

यह भी पढ़ें:

शिशुओं के लिए घर का बना सेरेलेक (साथु-मावु)
शिशु का आहार – क्या और कितना खिलाएं