गर्भावस्था: 29वां सप्ताह

गर्भावस्था: 29वां सप्ताह

Last Updated On

आपने अपनी गर्भावस्था के 29वें सप्ताह में सफलतापूर्वक कदम रख दिया है। यह तीसरी तिमाही है और आप निश्चित ही व्यग्र होने के साथसाथ उत्सुक होंगी क्योंकि आप अपने ख़ुशी के छोटे से ख़ज़ाने के जन्म के एक कदम और करीब आ गई हैं। यह आपके बच्चे के सामान व उसके कमरे को सजाने के बारे में सोचने का एक अच्छा समय है।

परिवारजनों और सुभचिंतकों से मिलने वाली हर तरह की सलाह से अभिभूत न हों । आराम करें, शांत रहें और इस चरण के दौरान क्याहोता है उसका ध्यान रखें।

गर्भावस्था के 29वें सप्ताह में आपके बच्चे का विकास

आपका बच्चा बड़ा हो रहा है और जिन नन्ही ठोकरों और हल्के धक्कों के लिए आप तरस रही थीं अंततः उनका समय आ गया है। आपके शिशु का वज़न अब थोड़ा बढ़ गया है, क्योंकि उसके मस्तिष्क के विकास के साथ सिर का आकार लगातार बढ़ता जा रहा है। बच्चे के फेफड़े और मांसपेशियाँ परिपक्व होने लगी हैं, और कंकाल का विकास शुरू हो गया है। हड्डियाँ सख्त और मजबूत होने लगी हैं और शिशु को अधिक कैल्शियम की आवश्यकता है।

बच्चे का आकार क्या है

बच्चे का आकार क्या है

जब आप 29 सप्ताह की गर्भवती होती हैं, तो बच्चे की लम्बाई आमतौर पर 15.2 इंच होती है, और उसका वजन लगभग 2.5 पाउंड (1.1 किलो) होता है। यह लगभग बलूत स्क्वैश के एक फल के आकार का होता है। अगले 11 हफ्तों के दौरान, बच्चे की लंबाई थोड़ी ही बढ़ेगी, लेकिन इस अवधि के दौरान उसका वजन दोगुना या तिगुना हो सकता है।

सामान्य शारीरिक परिवर्तन

29वें सप्ताह में आपका पेट साफ़ तौर पर बड़ा नज़र आता है, और आपको पूरा झुकने में पूरी मुश्किल हो सकती है। गर्भावस्था के दौरान महत्वपूर्ण शारीरिक परिवर्तनों में से एक वज़न बढ़ना है। आदर्श रूप से आपका वज़न लगभग 8 किलोग्राम से 11 किलोग्राम तक बढ़ जाना चाहिए, लेकिन यह आंकड़ा हर स्त्री के लिए भिन्न होता है। आप निम्नलिखित बातों पर विचार कर सकती हैं:

  • आपके स्तन बड़े और भारी हो जाते हैं, इसलिए सहायक ब्रा पहनने की सलाह दी जाती है (स्पोर्ट्स ब्रा या नर्सिंग ब्रा ठीक रहती है)

  • प्रसूति के अधोवस्त्रों के लिए कई विकल्प हैं, सुनिश्चित करें कि आप एक ऐसा विकल्प चुनें जो आपको सबसे आरामदायक महसूस कराता हो।

गर्भावस्था के 29वें सप्ताह के लक्षण

ये कुछ लक्षण हैं जिन्हें आप 29वें सप्ताह में अनुभव करेंगी:

  • आपको सीने में जलन होती रहेगी।
  • आपको सांस लेने में कठिनाई हो सकती है, क्योंकि बढ़ता हुआ बच्चा आपके फेफड़ों पर दबाव डालता है।
  • बच्चे के बढ़ते हुए वज़न के कारण और बवासीर (गुदा क्षेत्र में सूजन) हो सकता है।
  • हार्मोन के उत्पादन में वृद्धि के कारण, चक्कर आना या यादाश्त कम होना और एकाग्रता से जुड़ी समस्याओं का अनुभव हो सकता है।
  • आपको पीठ और पैर में दर्द भी हो सकता है।
  • खिंची हुई त्वचा के कारण पेट के हिस्से में खुजली हो सकती है ।
  • बढ़े हुए पेट के कारण सोते समय अस्वस्थता।
  • बारबार पेशाब आना।

गर्भावस्था के 29वें सप्ताह में आपका पेट

इस अवस्था में, आपका पेट काफी बड़ा होता है, और बढ़ता जाता है। बच्चे का हिलनाडुलना अब साफ़ पता चलता है, और आप अपना हाथ अपने पेट पर रखकर उसकी हरकतों को महसूस कर सकते हैं।

आदर्श रूप से, शिशु इस अवस्था में काफी सक्रिय होता है, और गर्भाशय के अंदर फंसा हुआ महसूस करता है। उसके पैर मारने की गिनती करना आवश्यक है। बच्चे को 2 घंटे में लगभग दस बार ठोकर मारनी चाहिए। यदि आपको भ्रूण की गतिविधि कम हुई लगती है, तो घबराइए नहीं। पेट पर हल्की मालिश करें या थोड़ा बर्फ का पानी पिएं, और करवट पर लेट जाएँ। यदि आपको कोई हलचल महसूस नहीं होती है, तो अपने डॉक्टर को फोन करें या अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में जाएँ।

गर्भावस्था के 29वें सप्ताह का अल्ट्रासाउंड

इस सप्ताह, अल्ट्रासाउंड आपको दिखाएगा कि, आपका बच्चा कितनी जल्दी बढ़ रहा है। वो ठोकरें और मुक्के बारंबार और शक्तिशाली होते जा रहे हैं क्योंकि बच्चे के लिए अंदर हिलनेडुलने के लिए बहुत कम जगह है। कभीकभी, आप अपने अंदर छिटपुट चिकोटी जैसी हरकतों को महसूस कर सकती हैं। इसका अर्थ है कि आपके बच्चे को हिचकी आ रही है।

इस बार अल्ट्रासाउंड में आपका बच्चा थोड़ा मोटा लग सकता है, अब जब उसकी त्वचा के नीचे कुछ सफेद वसा बन रहा है, जो पहले से ही बनी हुई भूरी वसा से अलग है, और उसकी झुर्रियों वाली त्वचा चिकनी होती जा रही है। वसा बच्चे के शरीर के तापमान को नियमित करने के लिए आवश्यक है, और उसकी गतिविधियों के लिए ऊर्जा का एक स्रोत भी है।

बच्चा अब अपने विकास के चरण में है, और उसकेसमग्र विकास में महत्वपूर्ण परिवर्तन होते हैं। उसका मस्तिष्क, महत्वपूर्ण अंग और दांत विकसित होने लगते हैं। स्वस्थ भोजन खाना और पौष्टिक आहार का पालन करना आवश्यक है। आपके बच्चे के जननांग विकसित होने लगे हैं और अब अल्ट्रासाउंड में अधिक साफ़ नज़र आ सकते हैं।

ठोकर मारने की संख्या गिनना अब एक महत्वपूर्ण काम है। आपको हर दिन बच्चे के पैर मारने को गिनना या यहाँ तक कि उसके हिलनेडुलने पर नज़र रखने की आवश्यकता है। चूंकि भ्रूण ज़ोर लगाकर पैर मारता है, आप और आपके साथी दोनों ही इन छोटीछोटी हरकतों का अनुभव कर सकते हैं और अपने बच्चे के साथ जुड़ाव महसूस कर सकते हैं।

क्या खाना चाहिए

सही भोजन एक स्वस्थ गर्भावस्था का राज़ है। यह जानना अत्यावश्यक है कि आप क्या खा सकती हैं और क्या नहीं। आपका बच्चा तीव्र गति से बढ़ रहा है, और इसलिए आपको उसके विकास की आवश्यकताओं को भी पूरा करना चाहिए। गर्भावस्था के 29वें सप्ताह में भोजन में आयरन, कैल्शियम और विटामिन सी शामिल होना चाहिए।

जैसेजैसे आपके बच्चे की हड्डियाँ सख्त होती जाती हैं, आपके कैल्शियम का सेवन प्रति दिन लगभग 200 मिलीग्राम होना चाहिए। अपने आहार में बहुत सारे आयरन युक्त भोजन को शामिल करने का प्रयास करें, ताकि आपका बच्चा लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने के लिए आवश्यक आयरन ले सके। हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ, पतला मांस, और ठोस अनाज आयरन के अच्छे स्रोत हैं।

आपको मिठाई, केक, चॉकलेट और अन्य फास्ट फूड खाने की कुछ प्रबल इच्छा हो सकती है, लेकिन यह सलाह दी जाती है, कि उन्हें नियमित रूप से न खाएं, हालांकि कभीकभार खा लेने की अनुमति है।

विटामिन सी से भरपूर भोजन शिशु के लिए भी बहुत अच्छा होता है क्योंकि यह रक्त कोशिकाओं द्वारा आवश्यक संयोजी ऊतक बनाता है। अनाज, आम, शकरकंद और गाजर कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो विटामिन सी से भरपूर होते हैं।

हल्की शारीरिक गतिविधि के साथसाथ एक नियमित, संतुलित भोजन करना आपकी गर्भावस्था के दौरान पालन करने के लिए एक अच्छी व्यवस्था है।

सुझाव और देखभाल

यहाँ कुछ सरल तरीके दिए गए हैं जिनसे आप उस प्रसूति के दर्द का प्रबंधन कर सकते हैं।

क्या करें

  • जब आप कर सकें तब भरपूर आराम करें, और इस जादुई अवधि का आनंद लें।
  • लम्बे समय तक खड़े या बैठे रहना टालें, क्योंकि यह आपके शरीर में रक्त के प्रवाह को कम करता है।
  • बाईं करवट पर सोएं क्योंकि यह रक्त परिसंचरण में मदद करता है।
  • सूखी और खुजली वाली त्वचा के लिए एक अच्छे मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें।
  • भरपूर ऊर्जा युक्त स्वस्थ आहार लें।
  • ढेर सारा पानी पिएं और यु.टी.आई. (यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन) के लक्षणों का ध्यान रखें।
  • संभव हो तबपैरों को ऊपर उठाएं।
  • सरल व्यायाम करें।

क्या न करें

  • भूख को दबाएं नहीं, भूख लगने पर खाना जरूरी है।
  • अपने पैरों को मोड़ने से बचें क्योंकि यह आपके पैरों में रक्त परिसंचरण को रोक सकता है और सूजन या वैरीकोज़ नसों का कारण बन सकता है।
  • भारी वस्तुओं को उठाने या शारीरिक परिश्रमकरने से बचें।
  • बेचैनी से बचने के लिए तंग कपड़े न पहनें।
  • आवश्यकता से अधिक खाने से बचें, क्योंकि इससे अतिरिक्त वजन बढ़ सकता है।
  • पीठ के बल न सोएं क्योंकि इससे शिशु में रक्त का प्रवाह सीमित हो सकता है।

आपके लिए आवश्यक ख़रीददारी

गर्भावस्था की उन परेशानियों को मात देने के लिए शॉपिंग से बेहतर और क्या हो सकता है!

यहाँ कुछ मजेदार चीजें दी गई हैं जिन्हें आप खरीद सकती हैं:

  • आरामदायक और सुंदर कपड़े, सोते समय पहनने के कपड़े और साथ ही अधोवस्त्र।
  • बच्चे के कमरे को सजाने के लिए आवश्यक वस्तुएं।
  • आपके प्रसूति झोले के लिए डायपर, बच्चे के कपड़े, तौलिए।
  • प्रसूति वस्त्र

बच्चा अब कुछ ही हफ्तों में आने वाला है, और आप इस जानकारी का उपयोग खुद को स्वस्थ रखने के लिए और जन्म के बाद बच्चे के लिए एक आरामदायक घर तैयार करने के लिए कर सकती हैं।

पिछला सप्ताह: गर्भावस्था: 28वां सप्ताह

अगला सप्ताह: गर्भावस्था: 30वां सप्ताह