7 महीने के शिशु की वृद्धि एवं विकास

7 महीने के शिशु की वृद्धि एवं विकास

Last Updated On

जैसे ही आपका शिशु सात महीने का हो जाता है, वह नाको समझने में सक्षम हो जाता है और जब आप उसका नाम पुकारते हैं तो आपको प्यार से देखने लगता है। जैसेजैसे दिन बीतते हैं, आप विकास के निर्धारित पड़ावों के अनुसार अपने बच्चे की वृद्धि और विकास होते हुए देखकर प्रफुल्लित होते हैं। 7 महीने के शिशु के विकास के संबंध में क्या अपेक्षाएं की जानी चाहिए उसके बारे में यहाँ बताया गया है।

शिशु की वृद्धि

सात माह में, आपका शिशु जीवन के एक परिवर्तनशील चरण में है। आपका शिशु अपने वजन को आंशिक रूप से अपने पैरों पर उठाने, घुटनों के बल चलने और अपने परिवेश की खोज करने में सक्षम है। इस समय आपका शिशु विभिन्न प्रकार के अनुभवों से गुजरता है। भावनाओं के माध्यम से, जब वह अपनी इच्छा का खिलौना पाने में विफल होता है या यह नहीं बता सकता है कि वह क्या कहना चाहता है, वह बड़बड़ाकर और छोटे शब्दों के माध्यम से कहता है। उसके सिर और शरीर का आकार बदल जाएगा, अधिक सुगठित और 7वें महीने में वजन पहले की तुलना में दोगुना भी हो सकता है। आप देख सकते हैं कि लड़कों की तुलना में इस उम्र में लड़कियों के पैर लंबे होते हैं और आपको उन्हें बड़े माप के कपड़े पहनाकर तैयार करना पड़ सकता है।

शिशु का विकास

आपका शिशु सातवें महीने के सभी हफ्तों के दौरान अपने विकास के चरणों में रहेगा। वह फर्श पर सभी तरह के दाँवपेंच आजमाएगा और कुछ समय बाद बिना किसी सहारे के बैठ भी सकेगा। उसे अपने परिवेश का पता लगाने के लिए प्रोत्साहित करने का प्रयास करें और जब भी उसे आपकी आवश्यकता हो उसके साथ रहें। आपका बच्चा भी अब उसकी देखभाल करने वालों से परिचित हो जाएगा और विभिन्न लोगों की आवाजों को अलगअलग पहचानने में सक्षम हो जाएगा। वह आपका आलिंगन चाह सकता है, गले लग सकता है, या वह बिना कुछ किए चुपचाप बैठा भी रह सकता है। कभीकभी वह किसी नई चीज की खोज में रुचि नहीं भी ले सकता है। यह बिल्कुल सामान्य है, इसलिए चिंतित न हों और आश्वस्त रहें कि आप एक अभिभावक के रूप में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं।

शिशु का विकास

28वें सप्ताह में शिशु का विकास

डायपर रैश: यह आपके बच्चे के पाचन तंत्र के लिए एक नाजुक समय है क्योंकि आप धीरेधीरे ठोस आहार उसके आहार में शामिल करना शुरू करते हैं। आपके बच्चे को नैपी के कारण रैश हो सकते हैं, जिसका अर्थ है कि ऐसा होने से रोकने के लिए आपको उसके नितंबो को अधिक बार पोंछना होगा और उसके डायपर को अधिक बार बदलना होगा। कभीकभी गर्मी के कारण उसके डायपर क्षेत्र पर लाल दाने आ सकते हैं, यही कारण है कि उसे हाइड्रेटेड और उसके डायपर को साफ रखना महत्वपूर्ण है।

दाँत निकलना: चूँकि आपका बच्चा बड़ा हो रहा है, इस समय के आसपास उसके दाँत निकलने भी शुरू हो जाएंगे। खेल और मस्ती के साथ इस समय के दौरान उसका मन बहलाते रहें क्योंकि यह बहुत दर्दनाक होता है।

29वें सप्ताह में शिशु का विकास

दिनचर्या: आपका बच्चा धीरेधीरे अपनी दिनचर्या के अनुरूप ढलने लगेगा, वह आपसे बात करने की और आपके साथ समय बिताने की कोशिश करेगा। यह समय उसे नई चीजें सिखाने का है, उसे ब्रेडस्टिक्स, केला, और बेबी स्टिक जैसी चीजें अपने हाथों का उपयोग करके खाना सिखाएं। वह लंबे समय तक सोता भी रहेगा क्योंकि वह हर दिन अपने ठोस खाद्य पदार्थों को जी भरकर खायेगा।

नहलाना और खिलाना: आपका बच्चा अपनी जगह पर भोजन के दाग छोड़ सकता है और अपने दम पर खाने की कोशिश करना चाह सकता है। उसे खाने के लिए प्रोत्साहित करें क्योंकि जब वह दूध छुड़ाने की प्रक्रिया से गुजरता है तो यह उसे थोड़ी देर के लिए व्यस्त कर देता है। लेकिन उसके कपड़ों से दाग धोना और अक्सर डायपर बदलना सुनिश्चित करें।

30वें सप्ताह में शिशु का विकास

शरारती व्यवहार: इस उम्र में आपका बच्चा तेजी से शरारती हो जाएगा। वह अपने चारों ओर की दुनिया का पता लगाने के लिए हर चीज को काट और उछाल सकता है, मोड़ सकता है और सभी ओर फेंक सकता है। इसका मतलब यह भी है कि जब आप उसे स्तनपान कराते हैं तो आपको उसके काटने जैसा अनुभव होगा। चिल्लाने से उसे आपकी प्रतिक्रिया मनोरंजक लगेगी, और वह ऐसा और भी करेगा।

शिष्टाचार सीखना: चूँकि आपका शिशु अपने आसपास अलगअलग चीजों को तलाशने और उन्हें आजमाने में व्यस्त होगा, इसलिए शायद उसे जागने पर सब कुछ याद न रहे। हालांकि, आप धीरेधीरे उन चीजों को दोहराकर उसे शिष्टाचार सिखा सकते हैं, जो आप नहीं चाहते कि वो करे, जैसे कि खिलौने को नहीं फेंकना या लोगों नहीं को काटना या किसी के बालों को भी नहीं पकड़ना।

घुटनों के बल चलना: यह आपके बच्चे के लिए एक रोमांचक समय है क्योंकि वह घर के अंदर खोजबीन शुरू कर देता है और रेंगने के संकेत दिखाता है। सुनिश्चित करें कि आप घर को अच्छी तरह से साफ करें और धूल हटाएं क्योंकि आप अपने बच्चे को अस्वच्छता के कारण बीमार पड़ता हुआ नहीं देखना चाहेंगे और असुरक्षित कणों को उसके मुँह में जाने से रोके क्योंकि इससे दस्त और गंभीर रूप से रोने के की समस्या हो सकती है।

घुटनों के बल चलना

31वें सप्ताह में शिशु का विकास

खाद्य पदार्थों के साथ प्रयोग: आपका बच्चा भोजन के विभिन्न स्वादों और बनावट को चखना शुरू कर देगा। उसके पाचन तंत्र के लिए विभिन्न किस्मों के भोजन की शुरुआत करके उसे इसका मजा लेने दें।

दाँत निकलने का समय: इस समय तक अगर आपके बच्चे के दाँत नहीं आए हैं तो अभी दाँत आ सकते हैं। इस समय तक, उसके सामने के निचले दाँतों के निकलने की संभावना है।

लोरी का समय: उसे पार्क में ले जाएं और अलगअलग वातावरण से उसका परिचय कराएं। रातों के दौरान उसे लोरी और अन्य मधुर धुनें सुनाकर सुलाएं । उसे अपने आसपास के माहौल में ढलने दें और अन्य बच्चों के साथ दोस्ती करने और पालतू जानवरों को ध्यान से देखने दें।

शिशु का स्वास्थ्य

सात महीने की उम्र में, आपको उसका टीकाकरण कराने या डॉक्टर को दिखाने की चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। बस सुनिश्चित करें कि आप हर बार भोजन से पहले अपने बच्चे के हाथों को साफ करें और उसे फर्श पर रेंगने की कोशिश करने दें। आपके बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली विकसित हो रही है और वह धीरेधीरे विभिन्न संक्रमणों से लड़ने की आदी हो रही है, इसलिए हर समय फर्श को साफ रखने के बारे में बहुत जुनूनी न हों। बस सुनिश्चित करें कि आपके घर में स्वच्छता हो।

शिशु का स्वास्थ्य7 महीने के शिशु की उपलब्धियाँ

7 महीने की उम्र में, विकास संबंधी कुछ उपलब्धियाँ होती हैं जिन्हें आपको अपने बच्चे में देखना चाहिए। आपके बच्चे में ध्यान देने योग्य कुछ बातों में शामिल हैं:

  • भूख में वृद्धि होना: आपका बच्चा विभिन्न स्वादों और खाद्य पदार्थों की बनावटों को आजमाना चाहता है।
  • चीजों को याद रखना: अब चीजों को छुपाने से आपका नन्हा मुन्ना बेवकूफ नहीं बनने वाला हैं। वह उन्हें ढूंढ लेता है।
  • दूरी की बेहतर समझ: आपका बच्चा दूरियों के बारे में समझ हासिल करेगा और जानेगा कि दूर क्या होता है।
  • रंग को पहचानने की समझ: आपका बच्चा आपकी और उसके परिवेश की पहचान करने में सक्षम होगा। उसकी रंग को पहचानने की बढ़ी हुई समझ का अर्थ यह भी है कि वह अपने परिवेश का पता लगाने और उनका निरीक्षण करने में सक्षम हो रहा है।
  • गहरी नींद: सोने का समय बढ़ जायेगा, और आपका बच्चा अभी और अधिक सोएगा। यह वृद्धि और विकास का एक अच्छा संकेतक है।
  • भावनात्मक और सामाजिक विकास: आपका बच्चा आपको और आपके परिवार के सदस्यों को पहचानने में सक्षम होगा। वह अलगअलग आवाजों के लिए अलग तरह से प्रतिक्रिया देगा और जब आप किसी चीज के लिए ‘नहीं’ कहेंगे तो वह शांत हो जाएगा।
  • बड़बड़ाना: बेतरतीब बड़बड़ाने में व्यंजन आधारित ध्वनियाँ शामिल होती हैं, और वह शब्द बोलना भी शुरू कर सकता है। वह अब मम्मा और पापा कह सकेगा और धीरेधीरे उसकी शब्दावली बढ़ेगी, वह अपने आसपास की वस्तुओं के साथ शब्दों को भी जोड़ेगा।

शिशु का व्यवहार

जब आप काम के लिए कमरे से बाहर निकलेंगे तो आपका बच्चा अब एक ही जगह पर नहीं होगा। उसे पता चल जाएगा कि आप वापस आ रहे हैं और उसे समय का एहसास होगा। इसके अतिरिक्त, वह दाँत निकलने की प्रक्रिया के दौरान मूडी या चिड़चिड़ा हो सकता है और अजनबियों या अपरिचित लोगों को देखकर बहुत रो सकता है। आपको उसे उसे सुलाने में परेशानी हो सकती है, और उसका व्यवहार कई बार चुनौतीपूर्ण हो सकता है क्योंकि वह अपने आसपास की खोज और अवलोकन कर रहा है।

7 महीने के शिशु की गतिविधियाँ

ये गतिविधियाँ आपके 7 महीने के शिशु के आकार और विकास में सहायता करेंगी। उसे व्यस्त रखने के लिए ये करें

  • लुकाछिपी:

वस्तुओं को आंशिक रूप से छिपाएं और अपने बच्चे को उन्हें ढूँढने के लिए कहें । यदि वह पहले से ही आंशिक रूप से छिपी हुई वस्तुओं का पता लगाने में सक्षम होता है, तो उन्हें ढक दें या उन्हें पूरी तरह से छिपा दें और अपने खेल को आगे बढ़ाएं।

  • चेहरे पहचानना:

अपने फोटो एल्बम को निकालें और दोस्तों और परिवार के सदस्यों की तस्वीरों की ओर इशारा करें। अपने बच्चे से उनके बारे में बात करें और उनके नाम कहें। ऐसा अक्सर करें, और वह धीरेधीरे याद करना शुरू कर देगा और उन्हें पहचानने में सक्षम होगा।

  • ब्लॉक्स को जोड़ना:

एक ही आकार के और अलगअलग रंग के ब्लॉक्स के सेट लाएं और एक ब्लॉक के ऊपर दूसरे को रखें और यह अपने बच्चे को दिखाएं। उसे अब ख़ुद ऐसा करने दें और धैर्य बनाए रखते हुए उसे प्रोत्साहित करते रहें। यह एक मोटरकौशल विकास गतिविधि है जो चीजों और उनकी जगह के बीच के संयोजन की उनकी समझ को भी बेहतर करेगी।

ब्लॉक्स को जोड़ना:

  • प्यूरी गेम:

यह समय उसके स्वाद को परखने का है। विभिन्न रंगीन खाद्य पदार्थों की प्यूरी वाले चार कटोरे लें और उसे चखने दें। यह न केवल उसकी गंध और स्वाद की समझ को विकसित करेगा, बल्कि आपको उसकी खाने की पसंद के बारे में भी जानने को मिलेगा। उसके चेहरे के भाव देखें और ध्यान दें कि वह क्या पसंद करता है!

  • बाल कविताएं:

अपनी गोद में अपने बच्चे को बिठाकर और एक चित्रों वाली किताब लेकर उसके साथ गाएं और बाल कविताएं गुनगुनाएं। चित्र उसका मनोरंजन करते हैं और आपकी आवाज और आपके हावभाव उसकी सुनी गई जानकारी को उनसे जोड़ने की उसकी समझ को विकसित करने का काम करते हैं। इससे उसका बड़बड़ाना भी बढ़ता है और उसे नए शब्द भी सिखाए जा सकते हैं।

7 महीने के शिशु की देखभाल

आपको यह याद रखना होगा कि आपके बच्चे की कुछ जरूरतें और अलगअलग रुचियाँ हैं। शुरू में आपके बच्चे के व्यवहार के कारण आपको सोने में कठिनाई हो सकती है, लेकिन आप धीरेधीरे उसके खाने के, सोने के, और व्यवहार के पैटर्न को थोड़ा और अधिक पूर्वानुमानित पाएंगे, जिससे आपका जीवन आसान हो जाएगा। आपके बच्चे को उसके सोने की दिनचर्या की आदत भी हो जाएगी।

आहार

आपका काम अपने बच्चे को इस समय नए खाद्य पदार्थों से परिचित कराना है। आपका बच्चा इस समय विभिन्न स्वादों और बनावटों का पता लगा रहा है, और इस दौरान उसकी भूख बदलती रहते है। एक बार जब आप ठोस आहार को उसके आहार में शामिल करते हैं तो आप उसे अधिक देर तक सोते हुए पा सकते हैं। उसकी स्वस्थ खाने की आदतों को बढ़ाने का प्रयास करें और वह कितना और कितनी बार खाना चाहता है, इसके बारे में उसे निर्णय लेने दें। उसे बहुत ज्यादा स्नैक न दें और सुनिश्चित करें कि उसे दिन में 3 बार भोजन मिले।

नींद

लगभग 6 महीने और उससे अधिक समय के बाद जब उसके आहार में नए खाद्य पदार्थ शुरू होते हैं आपका बच्चा लंबे समय तक सोता है। प्रत्येक बच्चे की नींद की अवधि और पैटर्न अलगअलग होते हैं, लेकिन अगर आप किसी तरह से उसकी नींद की दिनचर्या को बदलने में रुचि रखते हैं, तो अपनी नींद की आदतों के बारे में सोचें और विचार करें कि सोते समय उन्हें आपकी आवश्यकता है या नहीं। स्तनपान करने वाले शिशु एक बार दूध पीने के लिए आधी रात में हमेशा जागते हैं जब तक कि उनके लिए नए आहार नहीं शुरू किए जाते और दूध पीना छुड़ाया नहीं जाता।

नींद

मातापिता के लिए सुझाव

शिशु की परवरिश के दौरान मातापिता के जीवन को आसान बनाने के लिए यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं

  • दूसरों के साथ साझा करें: हम सलाह देते हैं दोस्तों और बड़े परिवार वाले मातापिता अपने बच्चे को अन्य सदस्यों के साथ थोड़ा समय बिताने दिया करें। अगर कोई परिचित शाम को आपके बच्चे को खिलाना करना चाहते हैं, तो उन्हे करने दें! लोगों की विविधता आपके बच्चे के लिए अच्छी रहेगी।
  • एक आया भी रख सकते हैं: यदि आपको काम का और मातृत्व का संतुलन बनाने में कठिन लग रहा हो, तो एक आया को काम पर रखने का समय है। यह न केवल आपके बच्चे के लिए मददगार होगा बल्कि उस व्यक्ति के साथ रहने की आदत होने के बाद वह ज्यादा सुरक्षित महसूस करेगा।
  • उसका ध्यान बंटाएं: यदि आपका शिशु नाकहने पर बहुत चिल्लाता है या नखरे करता है, तो किसी खेल या किसी मजेदार गतिविधि से उसका ध्यान बटाएं। याद रखें, इस समय उसका दिमाग इधर उधर भटकने वाला और जिज्ञासु होता है।
  • ध्यानपूर्वक स्वच्छता: अपने बच्चे को इस समय सभी जगह घूमने और तलाशने दें और उसे पालने में ज्यादा समय न रखें। उसे विभिन्न सूक्ष्मजीवों से अवगत कराएं क्योंकि उसकी प्रतिरक्षा प्रणाली भी इस समय विकसित हो रही है।

ये विकास और वृद्धि के विभिन्न पड़ाव जिनका आपको अपने 7 महीने के बच्चे के लिए ध्यान रखना होगा। अपने बच्चे में इन संकेतों की तलाश करें और उसके विकास और प्रगति के चरण में उसकी मदद करें और वह खुश रहेगा और इसलिए आप भी खुश होंगे।